रावण जलते ही हुई असत्य पर सत्य की जीत

Jaunpur Updated Fri, 26 Oct 2012 12:00 PM IST
जौनपुर। असत्य पर सत्य की जीत का प्रतीक त्योहार दशहरा बुधवार को जिलेभर में हर्षोल्लास से मनाया गया। विभिन्न रामलीला समितियों ने जगह-जगह दशानन का पुतला दहन कर परंपरा को कायम रखते हुए जश्न मनाया। दशहरा के मेले में महिलाएं, बच्चे सभी ने लुफ्त उठाया। शहर के राजा पोखरे पर पंडित जी रामलीला समिति द्वारा रावण का विशाल पुतला दहन किया गया। राजा जौनपुर के अस्वस्थ्य होने के कारण राजा का दरबार नहीं लगाया गया। दोपहर बाद नगर में घूम-घूमकर राम और रावण का युद्ध हुआ। धीरे-धीरे रथ राजा के पोखरे पर पहुुंचा। यहां लगे मेले के बीच एक महाबली तो दूसरा महायोद्धा से घंटो युद्ध हुआ। अंत में श्रीराम ने ब्रहृास्त्र चलाकर दशानन का वध किया। इसके साथ मेला स्थल पर बनाया गया रावण रूपी पुतला जल गया। रावण के जलते ही मेला क्षेत्र श्री राम के जयकारे से गूंज उठा। राम रावण युद्ध और विशाल पुतला दहन को देखने के लिए लोगों की भीड़ लगी रही। पुतला दहन के बाद देर रात तक मेला देखने वालों की भीड़ लगी रही। शहर के वाजिदपुर, जेसीज, नगर पालिका सहित कई स्थानों पर रावण का पुतला दहन किया गया।
सिकरारा : विजय दशमी मेले में दशानन को जलाकर लोगों ने असत्य पर सत्य की विजय का जश्न मनाया। बेलसड़ी और खानापट्टी में लगे दशहरा मेले में बच्चाें ने खूब आनंद लिया। खानापट्टी में आतिशबाजी प्रतियोगिता आयोजित की गई। प्रतियोगिता में टेढवा ने गुलजारगंज को हराकर शील्ड और नकद अपने नाम किया। मेला समिति के अध्यक्ष विनय कुमार सिंह ने आतिशबाजी प्रतियोगिता में भाग लेने वाले कलाकारों को पुरस्कृत किया।
बक्शा: क्षेत्र के सुजियामऊ काली मंदिर पर विजय दशमी का मेला लगाया गया। पालकी पर सवार राम रावण युद्ध बरबस ही लोगों को आकर्षित कर रही थी। एक पालकी को 16 कहार उठाकर चल रहे थे। युद्ध के दौरान भीड़ श्रीराम के जयकारे लगा रही थी। मेले में घोड़ा रेस प्रतियोगिता भी आयोजित की गई। मेले की व्यवस्था में पूर्व प्रमुख श्रीपति उपाध्याय, पूर्व प्रमुख जय प्रकाश सिंह राना, प्रखर, डा. मनोज मिश्र, विद्या उपाध्याय, विपूल उपाध्याय आदि लगे रहे।
शाहगंज : विजय दशमी का पर्व नगर में राजा राम, लक्ष्मण और दशानन की शोभा यात्रा निकाली और राम रावण युद्ध के बाद रावण रूपी पुतले को दहन किया गया। असत्य पर सत्य को विजय मिलने के बाद पुष्पक विमान से निकले श्रीराम, सीता, लक्ष्मण का नगर में पुष्प वर्षा कर स्वागत किया गया। मेला देखने के लिए दूर-दूर से लोग बैलगाड़ी, घोड़ा गाड़ी से आए थे। मेले का संचालन फिरतू राम ने किया। इस मौके पर एसडीएम सतीश चंद्र शुक्ला, विधायक शैलेंद्र यादव ललई मौजूद रहे। रामलीला समिति के अध्यक्ष सुनील जायसवाल, महामंत्री अनिल अग्रहरि, जय प्रकाश अग्रहरि ने सभी के प्रति अभार व्यक्त किया।
सूरापुर : क्षेत्र के करनवल बाजार में विजय मिलन समारोह का आयोजन किया गया। समारोह में मुख्य अतिथि डा. मदन मोहन मिश्र मानस कोविंद वाराणसी ने कहा कि विजय, विवेक एवं विभूति का समन्वय ही विजय दशमी एवं दशहरा है। पांचों केंद्रिया, पांच ज्ञानेंद्रियों पर विवेक द्वारा नियंत्रण ही दशहरा है। अवधूत उग्रघडे़श्वर कपाली जी महराज ने कहा कि सती, सीमा, संस्कृति की सुरक्षा में शत्रुओं पर विजय भी विजय दशमी का द्योतक है। इस मौके पर हरिश्चंद्र, काशी, आचार्य उदय कंठाले, आचार्य उमाकांत ओझा उपस्थित रहे। आयोजक मनोज कुमार सिंह, लालता प्रसाद मौर्या ने आए हुए सभी श्रद्धालुओं को अबीर गुलाल लगाकर प्रसाद स्वरूप मिठाईयां खिलाई और गले मिले।

Spotlight

Most Read

Jammu

पाकिस्तान ने बॉर्डर से सटी सारी चौकियों को बनाया निशाना, 2 नागरिकों की मौत

बॉर्डर पर पाकिस्तान ने एक बार फिर से नापाक हरकत की है। जम्मू-कश्मीर में आरएस पुरा सेक्टर में पाकिस्तान की ओर से सीजफायर का उल्लंघन किया है।

19 जनवरी 2018

Related Videos

कोहरे ने लगाया ऐसा ब्रेक, एक के बाद एक भिड़ीं कई गाड़ियां

वाराणसी-इलाहाबाद राजमार्ग पर गुरुवार को घने कोहरे के बीच दो एक सड़क हादसा हो गया। कोहरे की वजह से विजिबिलिटी कम होने पर एक के बाद एक चार गाड़ियां एक-दूसरे से टकरा गईं। इस हादसे में चार लोगों के घायल होने की भी खबर है।

21 दिसंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper