अवैध वसूली को लेकर बीएलओ से कहासुनी

Jaunpur Updated Mon, 22 Oct 2012 12:00 PM IST
मडि़याहूं। कस्बा स्थित विवेकानंद इंटर कालेज में रविवार को मतदाता सूची में संशोधन के लिए अवैध वसूली को लेकर विवाद हो गया। फार्म के बदले 15 मतदाताओं से 15 रुपये लिया जा रहा था। लोगों ने पैसे की रसीद मांगी तो बीएलओ इनकार कर गया। इस पर मतदाताओं और बीएलओ से जमकर कहा सुनी हुई। अफसरों का कहना है कि संशोधन के लिए 10 रुपये शुल्क निर्धारित है। यदि इससे ज्यादा लिया जा रहा है तो गलत है।
कालेज परिसर में सुबह से काफी संख्या में लोग मतदाता सूची में अपना नाम बढ़वाने तथा संशोधन कराने के लिए जुटे थे। शुरु से ही लोगों से पैसा लिया जा रहा था। पहले तो किसी ने ध्यान नहीं दिया। इसी बीच कस्बा निवासी मोहम्मद मूसा फारुकी की पत्नी शबीहा अख्तर भी पहुंची। शबीहा ने भी पहले 15 रुपये दे दिया। उन्होंने जब पैसे की रसीद मांगा तो बीएलओ ने इनकार कर दिया। इसको लेकर दोनों में कहासुनी हुई। शबीहा का कहना था कि शुल्क लिया जा रहा है तो इसकी रसीद मिलनी चाहिए। विवाद की जानकारी होने पर ईशा फारुकी, यूनुस नदीम फारुकी, शिबू, गुड्डू, सोनू गुप्ता, लुमान अहमद सहित कई लोग पहुंच गए। सभी ने एक तरफ से बीएलओ आरोप लगाना शुरू कर दिया। एसडीएम शारदा प्रसाद यादव ने कहा कि संशोधन के लिए आयोग ने 10 रुपये शुल्क निर्धारित किया है। इससे ज्यादा पैसा लेने के आरोप की जांच की जाएगी। कर्मचारी दोषी पाया गया तो कार्रवाई भी होगी।

Spotlight

Most Read

Jharkhand

चारा घोटाला: चाईबासा कोषागार मामले में कोर्ट ने सुनाया फैसला, तीसरे केस में लालू दोषी करार

रांची स्थित विशेष सीबीआई अदालत ने चारा घोटाले के तीसरे मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को दोषी करार दिया है। साथ ही पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा को भी दोषी ठहराया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

कोहरे ने लगाया ऐसा ब्रेक, एक के बाद एक भिड़ीं कई गाड़ियां

वाराणसी-इलाहाबाद राजमार्ग पर गुरुवार को घने कोहरे के बीच दो एक सड़क हादसा हो गया। कोहरे की वजह से विजिबिलिटी कम होने पर एक के बाद एक चार गाड़ियां एक-दूसरे से टकरा गईं। इस हादसे में चार लोगों के घायल होने की भी खबर है।

21 दिसंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls