स्कूल में तड़तड़ाईं गोलियां, शिक्षक जख्मी

Jaunpur Updated Sat, 13 Oct 2012 12:00 PM IST
बरसठी (जौनपुर)। आदर्श बाल विद्या मंदिर अलकापुर बड़ेरी के प्रबंधकीय विवाद ने शुक्रवार को खूंरेजी का रूप ले लिया। प्रबंधक पद से अपदस्थ किए गए एक पक्ष ने स्कूल पहुंच कर गोलियां चलाई। लाठी-डंडे से शिक्षकों की पिटाई की। गोलीबारी से शिक्षक कूसा निवासी आनंद दुबे जख्मी हो गए। इससे स्कूल में भगदड़ मच गई। घटना के वक्त स्कूल में मौजूद करीब दो सौ बच्चे कमरों में छिप गए और विवाद खत्म होते ही भागने लगे। हमलावरों के जाने के बाद शिक्षकों, ग्रामीणों तथा बच्चों ने मड़ियाहूं-मछलीशहर रोड जाम कर दिया। सीओ और एएसपी के समझाने पर लोग रास्ते से हटे।
बरसठी थाने के आदर्श बाल विद्यामंदिर में लंबे समय से प्रबंधकीय विवाद चल रहा है। विद्यालय की स्थापना वर्ष 1980 से परौती बड़ेरी निवासी डा. दयानाथ द्विवेदी प्रबंधक थे। काफी दिनों तक वह प्रबंधक रहे लेकिन बीच में गांव के ही आदित्यनाथ द्विवेदी ने खुद को प्रबंधक घोषित कर दिया। दोनों के बीच मुकदमा चला। पिछले महीने 15 सितंबर को सहायक रजिस्ट्रार चिट फंड एवं सोसाइटी वाराणसी के यहां चुनाव कराया गया और डा. दयानाथ द्विवेदी को प्रबंधक घोषित किया गया। प्रबंधकीय चुनाव के बाद शिक्षकों को ज्वाइन नहीं कराया जा रहा था। बरसठी पुलिस के साथ 11 अक्तूबर को खंड शिक्षाधिकारी बरसठी शैलपति यादव स्कूल पहुंचे थे। हेडमास्टर को एक पत्र रिसीव कराया था। एबीएसए का कहना है कि शिकायत की गई थी कि आदित्यनाथ कामकाज में हस्तक्षेप कर रहे हैं। गुरुवार को स्कूल में कोई नहीं मिला। प्रधानाध्यापक को एक पत्र के जरिए सूचना दी गई कि प्रबंधक डा. दयानाथ द्विवेदी हैं। आदित्य नाथ को हटा दिया गया है।
शुक्रवार को शिक्षक कूसा निवासी आकाश दुबे, आनंद दुबे, उतराई निवासी दिनेश यादव, बडे़री निवासी उदय प्रताप और कक्षा पांच तक के करीब दो सौ बच्चे स्कूल में मौजूद थे। सभी कमरों में पढ़ाई भी चल रही थी। पूर्वाह्न करीब 11 बजे परौती बड़ेरी निवासी आदित्यनाथ द्विवेदी अपने बेटे वीरेंद्र दुबे, अरविंद दुबे के साथ चार पहिया वाहन से पहुंचे। वाहन में बंदूक और लाठी-डंडे भी रखे हुए थे। स्कूल के बगल में ही प्रबंधक डा. दयानाथ द्विवेदी के बेटे पीयूषकांत द्विवेदी कापी किताब की दुकान चलाते हैं। आरोप है कि चार पहिया वाहन से पहुंचे आदित्यनाथ ने अपने बेटों के साथ पीयूष को दौड़ा लिया। विवाद बढ़ा तो पीयूष स्कूल की ओर भागे। आरोप है कि वीरेंद्र ने गाड़ी से दोनाली बंदूक निकाली और पीयूष को देखते ही फायर करना शुरू कर दिया। एक गोली हवा में दागी और दूसरी गोली भी चला दी। पीयूष को तो गोली नहीं लगी लेकिन अपनी कक्षा से बाहर निकले शिक्षक कूसा निवासी आनंद दुबे (27) गोली की चपेट में आ गए। आनंद के दाहिने हथेली को चीरती हुई गोली बाहर निकल गई। गोली चलते ही स्कूल में भगदड़ मच गई। छोटे बच्चे कमरों में दुबक गए और बड़े बच्चे मौका देख भाग निकले। पीयूषकांत का आरोप है कि वीरेंद्र ने छह राउंड गोलियां चलाई। चार गोली से आवाज हुई तथा दो मिस कर गई। इसके बाद गाड़ी से लाठियां निकाल ली। तीनों ने लाठी-डंडे से सभी शिक्षकों की पिटाई शुरू कर दी। आकाश दुबे के अलावा विकास दुबे तथा पीयूष को चोटें आईं। घटना के तुरंत बाद पीयूषकांत ने थानेदार को सूचना दी। आरोप है कि थानेदार का सीयूजी नंबर घंटी जाने के बाद बंद हो गया। फिर सभी ने सीओ मड़ियाहूं रंजन सिंह को सूचना दी। सीओ ने वायरलेेस से बरसठी पुलिस को मौके पर पहुंचने का आदेश दिया। पुलिस के पहुंचने से पहले ही स्कूली बच्चों तथा आसपास के लोगों ने मड़ियाहूं-मछलीशहर रोड बांस, बेंच लगाकर जाम कर दिया। थानेदार ने समझाने की कोशिश की लेकिन कोई हटने को तैयार नहीं था। पुलिस ने मौके से 12 बोर का एक खाली खोखा बरामद किया है। पीयूषकांत का आरोप है कि हमलावर आदित्यनाथ का एक बेटा कानपुर में दारोगा है। उसी के दबाव में पुलिस ढिलाई बरत रही है। कुछ देर बाद सीओ रंजन सिंह पहुंचे। भरोसा दिलाया कि हमलावर 24 घंटे के भीतर पकड़े जाएंगे। इसके बाद लोगों ने रास्ता छोड़ा। घायल शिक्षक को उपचार के लिए मछलीशहर सीएचसी ले जाया गया। चिकित्सीय परीक्षण के बाद छोड़ दिया गया। प्रबंधक दयानाथ द्विवेदी के बेटे पीयूषकांत ने गांव के ही छह लोगों के खिलाफ थाने में तहरीर दी है।

इनसेट-
प्राथमिक जांच में गोली चलने की पुष्टि हुई है। एफआईआर दर्ज की जा रही है। हमलावरों को कतई बक्शा नहीं जाएगा। गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीमें गठित की जा रही हैं-सुरेश्वर, एएसपी ग्रामीण

Spotlight

Most Read

Delhi NCR

फुल ड्रेस रिहर्सल आज, यातायात में होगी दिक्कत, कई जगह मिल सकता है जाम

सुबह 10:30 से दोपहर 12 बजे तक ट्रेनों का संचालन नहीं किया जाएगा। कई ट्रेनें मार्ग में रोककर चलाई जाएंगी तो कई आंशिक रूप से निरस्त रहेंगी।

23 जनवरी 2018

Related Videos

कोहरे ने लगाया ऐसा ब्रेक, एक के बाद एक भिड़ीं कई गाड़ियां

वाराणसी-इलाहाबाद राजमार्ग पर गुरुवार को घने कोहरे के बीच दो एक सड़क हादसा हो गया। कोहरे की वजह से विजिबिलिटी कम होने पर एक के बाद एक चार गाड़ियां एक-दूसरे से टकरा गईं। इस हादसे में चार लोगों के घायल होने की भी खबर है।

21 दिसंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper