तीसरे दिन भी रहा स्माग का प्रकोप

Varanasi Bureau Updated Sat, 11 Nov 2017 12:23 AM IST
तीसरे दिन भी रहा स्माग का प्रकोप
जौनपुर में तीसरे दिन भी रहा स्माग का प्रकोप। धुंध के बीच सुबह स्कूल जाते बच्चे।
जौनपुर। जिले में लगातार तीसरे दिन शुक्रवार को भी स्माग का प्रकोप रहा। गुरुवार की तुलना में शुक्रवार को घना धुंध था जिसके चलते वाहनों की रफ्तार धीमी हो गई। सुबह दस बजे तक सड़कों पर वाहन चालक हेडलाइट जलाकर चल रहे थे। हालांकि दोपहर बाद धुंध कुछ कम जरूर हुई लेकिन ठीक से धूप नहीं निकली। शाम ढलते ही फिर से धुंध छाने लगा। एक तरफ सड़कों पर वाहन रेंगते हुए चल रहे थे तो दूसरी ओर धुंध ने ट्रेनों की रफ्तार भी धीमी कर दी। कई ट्रेनें 15 से 20 घंटे विलंब से चल रही हैं। 23 घंटे देरी से चलने के चलते वाराणसी से दिल्ली जाने वाली काशी विश्वनाथ एक्सप्रेस निरस्त कर दी गई।
कोहरे के साथ तापमान में भी गिरावट आई है । गुरुवार को जहां अधिकतम तापमान 31 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया था वहां शुक्रवार को जिले में अधिकतम तापमान 26 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। धुंध के बीच लोगों को सांस लेने में परेशानी हुई। कई लोगों का कहना है कि ऐसा लग रहा है कि धूल भरी हवा में सांस लेना पड़ रहा है। हवा की रफ्तार भी बेहद धीमी होने के चलते और भी परेशानी हो रही है। हवा महज दो किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चल रही है। मौैसम के जानकारों का मानना है कि तेज हवा या अंधड़ चले तो इस समस्या से लोगों को जल्द निजात मिल सकती है। स्माग के चलते तमाम लोग मास्क पहन कर बाहर निकल रहे हैं। प्रदूषण के चलते बच्चों और बुजुर्गों को अधिक परेशानी हो रही है। मौसम के जानकार डा. डीपी उपाध्याय कहते हैं कि हवा की रफ्तार बेहद धीमी होने के चलते स्माग की चादर जमीन से अधिक ऊपर नहीं उठ पा रही है। स्माग और प्रदूषण में कमी के लिए हवा की गति बढ़ना बहुत जरूरी है। प्रदूषण को कम करने के लिए हवा की न्यूनतम गति 13 किलोमीटर प्रति घंटा होनी चाहिए। इसके अलावा प्रदूषण और स्माग तभी घटते हैं जब हवा की गति 15 किलोमीटर से अधिक होती है। ऐसे में स्माग जमीन से ऊपर उठ जाते हैं। मछलीशहर प्रतिनिधि के अनुसार डा. अशोक पटेल का कहना है कि धुंध के चलते हवा में कार्बन डाई आक्साइड गैस की मात्रा भी बढ़ रही है। इसके चलते सांस लेने में लोगों को भारीपन महसूस हो रहा है। यदि ज्यादा समय तक यह स्थिति बरकरार रही तो श्वांस के मरीजों की संख्या बढ़ सकती है।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

Jhajjar/Bahadurgarh

धनखड़, बराला व कैप्टन की मंशा खराब, नहीं चाहते प्रदेश में बने भाईचारा

धनखड़, बराला व कैप्टन की मंशा खराब, नहीं चाहते प्रदेश में बने भाईचारा

19 फरवरी 2018

Related Videos

कोहरे ने लगाया ऐसा ब्रेक, एक के बाद एक भिड़ीं कई गाड़ियां

वाराणसी-इलाहाबाद राजमार्ग पर गुरुवार को घने कोहरे के बीच दो एक सड़क हादसा हो गया। कोहरे की वजह से विजिबिलिटी कम होने पर एक के बाद एक चार गाड़ियां एक-दूसरे से टकरा गईं। इस हादसे में चार लोगों के घायल होने की भी खबर है।

21 दिसंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls

Switch to Amarujala.com App

Get Lightning Fast Experience

Click On Add to Home Screen