लो-वोल्टेज के कारण जलापूर्ति ध्वस्त

Jalaun Updated Sun, 07 Oct 2012 12:00 PM IST
कोंच(जालौन)। कोंच में लो-वोल्टेज की समस्या के कारण जहां आम आदमी की बिजली संबंधी जरूरतें पूरी नहीं पूरी हो पा रही हैं साथ ही इसका सीधा असर वाटर सप्लाई पर भी पड़ रहा है। इसके चलते पिछले कई दिनों से नगर के तमाम मुहल्ले प्यासे हैं पर नागरिकों का पुरसा हाल कोई नहीं है, दोनों विभाग एक दूसरे पर तोहमत मढ़कर इतिश्री कर रहे हैं।
पिछले कई दिनों से नगर के तमाम मुहल्ले प्यासे हैं। आजकल कोंच बिजली की भयावह समस्या से जूझ रहा है, एक तो अंधाधुंध बिजली कटौती ने आम जनता को बेहाल कर रखा है और ऊपर से लो वोल्टेज की समस्या के कारण कोढ़ में खाज जैसी स्थिति बनी है। बिजली विभाग के सूत्रों की मानें तो 33 केबी विद्युत सबस्टेशन पर 11 हजार के बजाए सात हजार बोल्ट का करंट मिल रहा है, यानी एक तिहाई करंट पहले से ही गायब है। सबस्टेशन से जब नगर में बिजली की आपूर्ति की जाती है तो बल्व जुगनुओं की तरह टिमटिमाते हैं। ऐसे में जब लो-वोल्टेज होता है तो जलापूर्ति अवरुद्ध होती है। बिजली कटौती का आलम यह है कि 33 केबी बिजलीघर पर चौबीस घंटे में कुल ग्यारह घंटे की आपूर्ति उरई से मिल रही है और लिखापढ़ी में कोंच नगर को बिजली विभाग के लोगों के अनुसार नौ घंटे बिजली अनगिनत टुकड़ों में सप्लाई की जा रही है। आम जनता की अगर मानें तो बमुश्किल छह से सात घंटे की बिजली कोंच को कई टुकड़ों में नसीब हो पा रही है। वोल्टेज इतना लो है कि घरों के रोजमर्रा के ही काम नहीं हो पा रहे हैं, यहां तक कि लोगों के इन्वर्टर चार्ज नहीं हो पाने से घरों में शाम ढलते ही अंधेरा छा जाता है। लो वोल्टेज के कारण सबसे बुरा असर वाटर सप्लाई पर पड़ रहा है। जल संस्थान के नलकूपों को पूरे वोल्टेज नहीं मिल पाने के कारण उनकी मोटरें नहीं चल पा रही हैं। स्थिति यह है कि जवाहर नगर, तिलक नगर, पटेल नगर, सुभाष नगर, गोखले नगर, लाजपत नगर, जयप्रकाश नगर, प्रताप नगर, मालवीय नगर, गांधी नगर सहित कई मुहल्लों में पिछले कई दिनों से पानी की एक बूंद नहीं पहुंच सकी है और इन मुहल्लों में त्राहि-त्राहि मची है। जलसंस्थान के कम से कम तीन नलकूपों के स्टेबलाइजर पिछले कई हफ्तों से फुंके पड़े हैं, इस बाबत जल संस्थान के अवर अभियंता केपी शुक्ला का कहना है कि उन्होंने स्टेबलाइजर सुधरवाने के लिये विभागीय उच्चाधिकारियों को पत्र लिख दिए हैं।
गल्ला व्यापारी समिति के अध्यक्ष अजय रावत, गृहिणी लता झा, काजी बशीरउद्दीन तथा धर्मादा रक्षिणी सभा के मंत्री राकेशकुमार अग्रवाल ने उच्चाधिकारियों से मांग की है कि अव्वल तो बिजली आपूर्ति के घंटे बढ़वाए जाएं और अगर यह उनके वश की बात नहीं है तो कम अज कम जो बिजली मिल रही है और व्यवस्थित और पर्याप्त वोल्टेज के साथ हो।

क्या कहते हैं जिम्मेदार......
लो वोल्टेज की समस्या को बिजली विभाग के अफसर भी स्वीकारते हैं, एसडीओ अजय कुमार सविता का कहना है कि उन्हें उरई से ही कम वोल्टेज प्राप्त हो रहा है जिसका सबसे बड़ा कारण पूरे जिले में एक ही रोस्टर का होना है। कहा है कि उन्होंने अधिशासी अभियंता से मांग की है कि कोंच का रोस्टर उरई से अलग किया जाए, इस बाबत उन्होंने अधिशासी अभियंता को पत्र भी लिखा है जिसकी एक प्रति एसडीएम को भी उपलब्ध कराई गई है। उन्होंने उम्मीद जताई है कि संभवत: उनकी मांग मान ली जाएगी और लो वोल्टेज की समस्या पर काफी हद तक काबू पाया जा सकेगा।

Spotlight

Most Read

Chandigarh

पंजाब: कैबिनेट मंत्री राणा गुरजीत सिंह ने दिया इस्तीफा

पंजाब के कैबिनेट मंत्री राणा गुरजीत सिंह ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। राणा गुरजीत ऊर्जा एवं सिंचाई विभाग के मंत्री थे।

16 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी में कोहरे का कहर जारी, ट्रक और कार की टक्कर में तीन की मौत

कन्नौज के तालग्राम में आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर कोहरे के चलते एक भीषण सड़क हादसा हो गया। कोहरे की वजह से पीछे से आ रही कार के चालक को सड़क पर खड़ा ट्रक  नजर नहीं आया और उनमें कार जा टकराई। हादसे में तीन की मौत हो गई।

10 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper