न खुराक न प्रशिक्षण, कैसे दिखाएं दम

Jalaun Updated Fri, 13 Jul 2012 12:00 PM IST
एट/उरई(जालौन)। एक जमाना हुआ था जब शाम होते ही गांव के अखाड़ों में पहलवान दो दो हाथ करते नजर आते थे लेकिन आधुनिक परिवेश व महंगाई के चलते जिले में कुश्ती की कला दम तोड़ती नजर आ रही है। आज जब अमर उजाला की टीम जिले के नामीगिरामी पहलवानों के गांव पहुंची तो उनका दर्द सामने आ गया। उन्होंने कहा कि सरकार सुविधाएं दे तो पहलवान देश-दुनिया में बुंदेलखंड का नाम चमका सकते हैं।
एट थाना क्षेत्र का गांव भरसूड़ा है। कभी इस गांव के हर घर में पहलवान हुआ करते थे लेकिन अब अखाड़ों में वीरानी छाई रहती है। भरसूड़ा निवासी पहलवान दौलत सिंह व चरन सिंह के नाम कई वर्षों तक बुंदेलखंड केसरी का खिताब रहा लेकिन अब इस गांव से जिला चैंपियन भी नहीं निकल रहे हैं।
पहलवानी के लिए विख्यात रेंढ़र थाना क्षेत्र के ग्राम कुठौंदा के अखाडे़ में भी चंद लड़के ही मेहनत करते दिखे। एक जमाने मेें यहां के पहलवान राममोहन की प्रदेश में तूती बोलती थी। पहलवान सुबोध त्रिगुनायक भी कुश्ती को अलविदा कह चुके हैं। महंगाई के चलते लोग कुश्ती से तौबा करते जा रहे हैं। पूर्व बुंदेलखंड केसरी दौलत सिंह ने बताया कि पहलवान को इस महंगाई के दौर में एक दिन की खाना खुराक तकरीबन 600 रुपए की पड़ती है। ऐसे में लोग अपने बच्चे पालें कि पहलवानी करें। पूर्व बुंदेलखंड केसरी चरन सिंह ने कहा कि प्रदेश में सपा की सरकार है। उसके मुखिया मुलायम सिंह यादव स्वयं एक अच्छे पहलवान रहे हैं। ऐसे में उनका व प्रदेश सरकार का दायित्व है कि वह दम तोड़ रही इस विधा को प्रोत्साहित करें तभी प्रदेश से बेहतर पहलवान आगे आएंगे और विदेशों तक धूम मचाएंगे।

इंसेट---
जिले में नहीं कोई कुश्ती का प्रशिक्षक
उरई। जिले में कुश्ती प्रथा कैसे आगे बढे़ जब यहां कोई प्रशिक्षक ही तैनात नहीं है। पहलवान रामगोपाल, श्रीपत, प्रताप सिंह, रघुवीर, बृजकिशोर आदि ने बताया कि उनके दम तो बहुत है लेकिन जब प्रशिक्षक व ग्राउंड ही नहीं है तो वह क्या करें। उन्होंने बताया कि गांव के अखाडे़ भी अब नहीं सजते और न ही खिलाडि़यों को कोई सुविधा है। ऐसे में कुश्ती विधा दम तोड़ रही है। इस बाबत जिला क्रीड़ा अधिकारी जितेंद्र भगत का कहना है कि वह कई बार खेल निदेशालय से कुश्ती के प्रशिक्षक की मांग कर चुके हैं लेकिन अब तक यहां किसी की तैनाती नहीं की गई।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाले के तीसरे केस में लालू यादव दोषी करार, दोपहर 2 बजे बाद होगा सजा का ऐलान

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी में कोहरे का कहर जारी, ट्रक और कार की टक्कर में तीन की मौत

कन्नौज के तालग्राम में आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर कोहरे के चलते एक भीषण सड़क हादसा हो गया। कोहरे की वजह से पीछे से आ रही कार के चालक को सड़क पर खड़ा ट्रक  नजर नहीं आया और उनमें कार जा टकराई। हादसे में तीन की मौत हो गई।

10 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls