थमा नहीं गर्मी, बीमारियों का कहर, बीस भर्ती

Jalaun Updated Thu, 31 May 2012 12:00 PM IST
ख़बर सुनें
उरई (जालौन)। भीषण गर्मी व उमस से बुधवार को भी जनजीवन अस्त व्यस्त रहा। बीमारियों का प्रकोप भी नहीं थमा। जिला अस्पताल व शहर के प्राइवेट क्लीनिकों पर डायरिया व बुखार के मरीजों का तांता लगा रहा। आज जिला अस्पताल में 20 मरीजों को गंभीर हालत में भर्ती कराया गया। मौसम वैज्ञानिक अमर निरंजन ने बुधवार का अधिकतम तापमान 44.5 और न्यूनतम तापमान 33 डिग्री सेल्सियस नोट किया।
लोग गर्मी से बचने के लिए दोपहर भर घरों, रेलवे स्टेशन के प्रतीक्षालय, शहर के माहिल तालाब पार्क में आराम करते रहे। शहर के अति व्यस्त रहने वाले बाजारों व उन सड़कों पर सन्नाटा पसरा रहा, जहां आम दिनों में जाम लगा रहता है। इक्का दुक्का लोग ही सड़कों पर नजर आए।
भीषण गर्मी के कारण डायरिया, बुखार, लू, उल्टी-दस्त, पेट दर्द का प्रकोप आज भी जारी रहा। जिला अस्पताल में आज सदनपुरी निवासी मुबीन खान (62), ददरी निवासी गोलू (4), कुठौंद निवासी रिनी (9), हरकौती निवासी सोनिया (28), रगेदा निवासी अभय (1), गणेश गंज निवासी श्रीमती उजमा (24), राजेंद्र नगर निवासी ऋषि (12), शिवरानी (80), उमरारखेड़ा निवासी शिवचरन (43), शांति नगर निवासी प्रिंसी (5), कांशीराम कालोनी निवासी शबनम (25), पटेल नगर निवासी नेहा (30), सरीला निवासी हमीद (40) आदि को भर्ती कराया गया।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

Madhya Pradesh

मामाजी, कृपया जाति को शिक्षा में न लाएं, छात्रों ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से कहा

ऐसा अक्सर नहीं होता है कि आप शैक्षिक संस्थानों में आरक्षण और छात्रों की जाति के आधार पर मुफ्त लैपटॉप जैसी सुविधाएं देने जैसे संवेदनशील विषय पर एक मुख्यमंत्री से सवाल पूछ सकें। 

22 मई 2018

Related Videos

जालौन के इस सेंट्रल बैंक में आपका खाता तो नहीं, दूसरी बार हो गई चोरी!

यूपी के जालौन में सेंट्रल बैंक में चोरी करने का मामला सामने आया है। बैंक के बाहर लगा ताला कटा हुआ मिला जबकि सीसीटीवी कैमरे को तोड़कर फेंक दिया गया था। पिछले साल सेंट्रल बैंक की इसी शाखा में देसी बम फोड़कर डकैती भी डाली गई थी।

21 मई 2018

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen