शानो शौकत के साथ निकला जुलूसे मुहम्मदी

Jalaun Updated Sat, 26 Jan 2013 05:30 AM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें
उरई (जालौन)। बारावफात पर जुलूसे मुहम्मदी शानोशौकत के साथ निकाला गया। आतंकवाद से नफरत कर मुल्क की तकदीर संवारने का लोगों ने संकल्प लिया। इस दौरान कई जगह लंगर हुए और रातभर इबादतों के दौर चले। फहफिलों में मुहम्मद साहब की शान में कसीदे पढ़े गए।
विज्ञापन

जुलूसे मुहम्मदी के मुख्य जलसा मच्छर चौराहे पर मौलाना शमशुल कमर ने कहा कि इस्लाम में आतंकवाद की कोई गुजाइंश नहीं हैं। पैगंबर का फरमान है कि जिसकी जुबान या हाथ से उसका पड़ोसी सुरक्षित नहीं वह मुसलमान नहीं है। उन्होंने आतंकवाद को निशाना बनाकर मुसलमानों को जोश दिलाया कि पैगंबर साहब के जुलूस में संकल्प लें कि जुल्म और आतंकवाद से नफरत कर मुल्क अजीज की तकदीर संवारेंगे। इससे पहले दो बजे हाफिज कारी आरिफ ने सूरे हश्र की तिलावत कर जुलूसे मुहम्मदी की कादरी चौराहे से शुरूआत की। जुलूस प्रेम नगर से राजमार्ग पर आया। मच्छर चौराहे पर मुख्य जलसा हुआ। इसके बाद दलगंजन तिराहे से बजरिया में संपन्न हुआ। गुलशने मुस्तफा कमेटी कबीर नगर, अंजुमन बज्मे फैजाने रजा कमेटी बघौरा, बज्मे फैजाने गौस ए आजम कमेटी सहित छोटी बड़ी तीन दर्जन कमेटियोें ने जुलूस का सहयोग किया। जुलूस का आयोजन संस्था अंजुमन फिदायाने रसूल से हाफिज जमील ने शुक्रिया अदा किया। शहर काजी शकील बेग रहमानी ने सत्यपाल शर्मा को संचालक नियुक्त करते हुए लाल व हरे झंडे देकर सम्मानित किया। जुलूस पर छतों से फूलों की बौछार की गई। लगभग एक सौ स्थानों पर लंगर हुए। इससे पूर्व मुसलमानों ने रातभर इबादतें की और फातिहा जिक्र की महफिलों का आयोजन किया।

कबीर नगर गुलशने मुस्तफा कमेटी ने 45 फुट ऊंचा गेट बनाया। अतीक खान ने बताया कि अगले वर्ष उस गेट की ऊंचाई की 65 फुट तक बढ़ाई जाएगी। इस मौके पर सांसद ब्रजलाल खाबरी, मूलशरण कुशवाहा, रामकुमार दीवौलिया, विनोद चतुर्वेदी, सोहराब खान, दयाशंकर वर्मा, सांसद घनश्याम अनुरागी आदि ने भी शिरकत की। कालपी प्रतिनिधि के अनुसार, नमाजे जुमा के बाद हजरत मकदूम रहमतुल्लाह अलैह की दरगाह शरीफ से जुलूसे मुहम्मदी निकाला गया जो कोतवाली गेट, दुर्गा मंदिर चौराहा, हरीगंज चौराहा, बिजली घर होता हुआ खानकाहे मुहम्मदिया में चादरपेशी की रस्म पर संपन्न हुआ। कयादत मुफ्ती हाजी अशफाक कादरी, बाबू मियां, कारी समी, कारी शमशुलउदीन, हाफिज इरशाद ने किया। पैगंबर इस्लाम की पैदाइश की खुशी में जुलैहटी चौराहे पर साठ फुट ऊंचा मुहम्मदी गेट, पार्क आदि बनाए गए।
मुहम्मदाबाद प्रतिनिधि के अनुसार, शुक्रवार को जश्ने आमदे रसूल की आमद पर जुलूसे मुहम्मदी शानो शौकत के साथ निकाला गया। लोगों ने एक दूसरे के गले मिलकर मुबारकवाद दी। डकोर क्षेत्र के ग्राम मुहम्मदाबाद, ऐर, डकोर में सुबह से ही पैगंबर मुहम्मद साहब की पैदाइश की खुशी मनाई। जुलूस पीरो वाले मैदान से चलकर बस स्टैंड से बड़ी मस्जिद से होता हुआ चौधरी मुहल्ला होता हुआ रहमानियां मस्जिद पर संपन्न हुआ। जुलूस में छोटे-छोटे बच्चे अपने हाथों में इस्लामी परचम लहराते हुए चल रहे थे।
पीरो वाली मस्जिद के पेश इमाम हाफिज हकरार खान ने कहा कि मुहम्मद साहब के पैदा होेते ही पूरी दुनिया में अमन का पैगाम दिया। इस मौके पर ऐनुल आब्दीन, उम्मेद अली, बालस्वरूप राजपूत, मल्लू शाह, शमशाद अंसार, फरहत उल्ला, वसीम, अजीज खां,शाकिर शाह, खुर्शीद शाह आदि मौजूद रहे। डकोर थानाध्यक्ष रामसहाय यादव फोर्स के साथ पूरे जुलूस में रहे। रामपुरा प्रतिनिधि के अनुसार, बारावफात के अवसर पर जुलूस निकाला गया।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X