रोड जाम कर बैंक के खिलाफ काटा हंगामा

अमर उजाला, हाथरस Updated Wed, 30 Nov 2016 11:59 PM IST
Blocked the road against the bank cut the commotion
हसायन में बैकों के रवैये से गुस्साए ग्रामीण सिकंदराराऊ रोड पर जाम लगाते हुए।  - फोटो : अमर उजाला
जिलेभर की बैंक शाखाओं में कैश की किल्लत गहरा गई है। कैश न होने की वजह से कैश निकालने आ रहे लोग निराश होकर वापस लौट रहे हैं। बुधवार को हसायन के गांव सलेमपुर स्थित ग्रामीण बैंक ऑफ आर्यावर्त में बैंक कर्मियों द्वारा लेन-देन में मनमानी का आरोप लगाते हुए गुस्साए लोगों ने सिकंदराराऊ रोड को जाम कर दिया।
गुस्साए ग्रामीणों ने जाम लगाकर जमकर हंगामा काटा और बैंक प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। सूचना पर मौके पर पुलिस भी पहुंच गई। हसायन के गांव सलेमपुर के बैंक पर सुबह छह बजे से ही कैश निकालने और जमा करने के लिए लोगों की भीड़ लगनी शुरू हो गई है।

गांव सलेमपुर, जैंतपुर, बहेटा, शेखूपुर अजीत, टौंढ़, नगला अडू, ठूलई, जहांगीरपुर आदि के लोग बैंक के बाहर जमा थे। सुबह दस बजे जैसे ही बैंक शाखा खुली, वैसे ही बैंक के अंदर घुसने के लिए मारामारी शुरू हो गई।

ग्रामीणों का आरोप था कि बैंक कर्मी पहले उन्हीं लोगों का काम कर रहे हैं, जो कि उनके परिचित हैं और कतार में लगे बिना बैंक के अंदर घुुस रहे हैं। इस बात को लेकर गुस्साए ग्रामीणों ने हंगामा काटते हुए सिकंदराराऊ रोड को जाम कर दिया। 

ग्रामीणों का कहना था कि खेतों की बुवाई तक के लिए पैसा नहीं मिल पा रहा है। शादी समारोह में बिना पैसे के नहीं हो पा रहे हैं। ऐसे में वह जाएं तो कहां जाएं। करीब दो घंटे तक जाम लगा रहा। सूचना मिलने पर वहां हाथरस जंक्शन और थाना हसायन की पुलिस मौके पर पहुंच गई।

पुलिस कर्मियों ने ग्रामीणों को समझा-बुझाकर शांत किया। तब जाकर जाम खुल सका। इधर, शहर की केनरा बैंक की शाखा में भी नकदी नहीं होने पर शोर-शराबा हुआ। आक्रोशित लोगों ने कैश नहीं होने से नाराज होकर बैंक अधिकारियों को तीखा विरोध दर्ज कराया।

जमकर नोक-झोंक भी हुई। इसके अलावा कई बैंक शाखाओं के बाहर कैश नहीं होने के बोर्ड लगा दिए गए, जिससे निराश लोग बैंक और सरकार को कोसते हुए वहां से निकल गए। सादाबाद गेट स्थित एसबीआई की मुख्य शाखा, मंडी स्थित एसबीआई की शाखा, पंजाब नेशनल बैंक, एचडीएफसी बैंक, बैंक ऑफ बड़ौदा, बैंक ऑफ इंडिया की शाखाओं में भी कैश की किल्लत बनी रही।

यहां लोग लंबी लंबी कतार लगाकर खडे़ रहे। किसी बैंक ने सिर्फ दो हजार की निकासी की तो किसी ने चार हजार की। बैंकों में कैश का इंतजाम नहीं होने से अब लोगों में आक्रोश बढ़ रहा है। ऐसे में कैश की यह किल्लत कानून-व्यवस्था पर भारी पड़ सकती है। 

वहीं सादाबाद के कस्बा बिसावर के जगमोहन चौधरी ने बताया कि वह 10 हजार रुपये निकालने के लिए बुधवार को बिसावर के एक बैंक में पहुंचे थे। जगमोहन का आरोप है कि वहां उनका कैश निकालने की बजाय उनका चेक ही फाड़ दिया गया। उनका कहना है कि इस तरह का दुर्व्यवहार कई अन्य ग्राहकों के साथ भी किया जा चुका है। इस संबंध में बैक मैनेजर से बात करने की कोशिश की गई, लेकिन उनका फोन स्विच ऑफ आता रहा।  

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

Rampur Bushahar

स्प्रिंगडेल स्कूल में रही वार्षिक समारोह

स्प्रिंगडेल स्कूल में रही वार्षिक समारोह

25 फरवरी 2018

Related Videos

गुस्साए प्रेमी ने किया प्रेमिका का कत्ल! ये है सनसनीखेज वारदात की कहानी

वेलेंटाइन वीक चल रहा रहा है। इसमें प्रेमी जोड़े एक-दूसरे से मिलते हैं। एक दूसरे से हुए मतभेद भुलाकर साथ चलने की कसमें खाते है, लेकिन हाथरस में एक प्रेमी पर अपनी ही प्रेमिका की हत्या का आरोप लगा है। प्रेमी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

13 फरवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen