नहीं होने देंगे जमीन का अधिग्रहण

Hathras Updated Mon, 10 Sep 2012 12:00 PM IST
हाथरस। आगरा-अलीगढ़ नेशनल हाइवे के चौड़ीकरण और बाईपास को लेकर जमीन अधिग्रहण के मुद्दे पर किसान लामबंद होते जा रहे हैं। हतीसा में फिर किसानों ने पंचायत की। इसमें घोषणा की कि वह किसी भी सूरत में अपनी जमीन नहीं देंगे। पंचायत में आंदोलन की रूप-रेखा तय की गई।
उल्लेखनीय है कि नेशनल हाइवे के चौड़ीकरण और बाईपास के लिए 65 हेक्टेयर जमीन के अधिग्रहण की जरूरत है। वहीं इसे लेकर किसान तीखा विरोध कर रहे हैं। किसानोें का कहना है कि वह अपनी जमीन किसी भी कीमत पर नहीं देंगे। किसानोें की एक पंचायत फिर हतीसा में हुई। जूनियर हाईस्कूल हतीसा में हुई किसानों की पंचायत पूरन सिंह कुंवरपुर की अध्यक्षता में हुई। इसके मुख्य किसान नेता रामबाबू सिंह चौहान मौजूद थे। इस मौके पर आंदोलन की रूपरेखा तय की गई। वक्ताओं ने कहा कि आंदोलन को धार दी जाएगी। इसके लिए राकेश टिकैत, चौ. हरपाल सिंह, भानूप्रताप सिंह, अजय अनमोल जैसे नेताओं से संपर्क किया जाएगा। इन नेताओं को आंदोलन से जोड़ा जाएगा।
इस मौके पर यह भी तय किया गया कि अगली किसान पंचायत 23 सितंबर को सुबह 11 बजे अलीगढ़ रोड स्थित नहर के पास पैंठ वाले बाग में आयोजित की जाएगी। इस पंचायत में हतीसा भगवंतपुर, नया नगला, वाद अठवदिया, गढ़ी तमना, नहरोई, मीतई, कुंवरपुर, परताप आदि गांव के लोग मौजूद थे। पंचायत में अजय रावत, राजवीर सिंह, रामजीलाल, रामनिवास शर्मा, सुरेशचंद, राजवीर सिंह, किशनलाल उपाध्याय, कौशल, राजेंद्र सिंह, देवदत्त शर्मा, अनोखे लाल, छत्रपाल सिंह राना, दिनेश चतुर्वेदी, अशोक गहलोत, मुन्नालाल आदि मौजूद थे।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: बच्चों के झगड़े में बड़ों ने यहां निकाली लाठियां

हाथरस में दो पक्षों के बीच जमकर लाठियां चलीं। दोनों पक्षों ने एक दूसरे पर खूब लाठियां भांजी । जिसके हाथ में जो आया उससे एक दूसरे को खूब पीटा। बच्चों को लेकर ये झगड़ा हुआ।

19 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls