विज्ञापन
विज्ञापन

नायब तहसीलदारों के कमरे में घुसी भीड़, हंगामा

Hathras Updated Thu, 30 Aug 2012 12:00 PM IST
ख़बर सुनें
हाथरस। लोकवाणी केंद्र बंद होने के बाद तहसील में प्रमाण पत्रों की व्यवस्था संभल नहीं पाई है। बुधवार को फिर तहसील में प्रमाण पत्र लेने के लिए उमड़ी भीड़ ने जमकर हंगामा किया। यह लोग महीनों की भागदौड़ के बावजूद सर्टिफिकेट न मिलने से गुस्से में थे। गुस्साई भीड़ नायब तहसीलदार के कमरों में भी घुस गई और जमकर हाय-तौबा मचाई। तहसील और सुरक्षा कर्मियों ने इन्हें रोकने का प्रयास किया तो परेशान लोग इनसे भी उलझ गए और खरी-खोटी सुना डालीं। पब्लिक का गुस्सा देखकर नायब तहसीलदार मनोज वार्ष्णेय और सुबोधमणि शर्मा ने लोकवाणी केंद्र में रखे सभी बने और अधबने प्रमाण पत्रों को अपने कमरों में मंगवा लिया और उन पर तेजी से साइन करने शुरू किए। भीड़ के सामने ही प्रमाण पत्रों को साइन करके उनका हाथों-हाथ वितरण कराया गया। तब जाकर हंगामा शांत हुआ। नायब तहसीलदारों का कहना है कि प्रमाण पत्रों पर दस्तखत करने का यह काम अब रात-दिन चलेगा। अगले चार-पांच दिन में सभी लंबित सर्टिफिकेट निपटा दिए जाएंगे। आवेदकों का गुस्सा भी जायज था। इनमें से किसी के वजीफा फार्म भरने की डेट निकली जा रही है। किसी का एडमिशन कैंसल होने वाला है तो किसी को आईएएस की कोचिंग की काउंसलिंग में हिस्सा लेना है। ज्यादातर आवेदक ऐसे थे, जिन्हें गुरुवार को हर हाल में वजीफे के लिए फार्म भरना है, वरना उन्हें वजीफा नहीं मिल पाएगा। हर आवेदक हड़बड़ी और गुस्से में नजर आया। सबका कहना था कि आज कुछ भी हो जाए, लेकिन वह यहां से सर्टिफिकेट लेकर ही जाएंगे। नायब तहसीलदार मनोज वार्ष्णेय ने जब लोकवाणी से मिले रिकार्ड का मिलान किया तो उसके हिसाब से 850 फार्मों का कोई अता-पता नहीं था। नायब ने लोकवाणी के स्टाफ को सख्त हिदायत दी कि वह तत्काल इन गायब फार्मों को खोजकर उनके सामने पेश करें, वरना उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज करा दी जाएगी। इसके बाद आनन-फानन लोकवाणी स्टाफ ने तकरीबन साढ़े 300 लापता फार्म तो नायब के सामने पेश कर दिए, जबकि बाकी 500 फार्मों को भी शाम तक पेश करने का आश्वासन दिया। प्रमाण पत्रों के वितरण के लिए अब पुरानी व्यवस्था बहाल कर दी गई है। प्रमाण पत्रों का काम तीन लिपिकों में बांटा गया है। जाति प्रमाण पत्र का काम मकसूद आलम, आय प्रमाण पत्र का काम राजेश अग्रवाल और मूल निवास प्रमाण पत्र का काम महेशचंद्र शर्मा को दिया गया है। अब यह प्रमाण पत्र इन तीनों लिपिकों के स्तर से ही जारी किए जाएंगे। लोकवाणी से बने प्रमाण पत्रों में थोक के भाव गड़बड़ियां निकल रही हैं। ज्यादातर सर्टिफिकेट में आवेदकों का नाम ही गलत कर दिया गया है। कुछ में उनकी बल्दियत तो कुछ में उनके पते और पेशे को ही बदल दिया गया है। जाति प्रमाण पत्रों में जातियां भी बदल दी गई हैं। ऐसे तकरीबन 150 प्रमाण पत्र साइन के दौरान नायब तहसीलदारों ने खुद पकड़े हैं और इन्हें सुधरवाने के लिए लोकवाणी केंद्र को दिया गया है। अनुमान है कि और भी सर्टिफिकेटों में ऐसी गलतियां निकल सकती हैं। सवाल यह है कि जब कंप्यूटर प्रिंट ही गलत होगा तो यह प्रमाण पत्र इंटरनेट पर कैसे मैच हो पाएंगे।
विज्ञापन
विज्ञापन

Recommended

HP Board Class 10th & 12th 2019 की परीक्षाओं का सबसे तेज परिणाम देखने के लिए रजिस्टर करें।
HP Board 2019

HP Board Class 10th & 12th 2019 की परीक्षाओं का सबसे तेज परिणाम देखने के लिए रजिस्टर करें।

अक्षय तृतीया पर अपार धन-संपदा की प्राप्ति हेतु सामूहिक श्री लक्ष्मी कुबेर यज्ञ - 07 मई 2019
ज्योतिष समाधान

अक्षय तृतीया पर अपार धन-संपदा की प्राप्ति हेतु सामूहिक श्री लक्ष्मी कुबेर यज्ञ - 07 मई 2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

लोकसभा चुनाव में किस सीट पर बदल रहे समीकरण, कहां है दल बदल की सुगबुगाहट, राहुल गाँधी से लेकर नरेंद्र मोदी तक रैलियों का रेला, बयानों की बाढ़, मुद्दों की पड़ताल, लोकसभा चुनाव 2019 से जुड़े हर लाइव अपडेट के लिए पढ़ते रहे अमर उजाला चुनाव समाचार।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Hathras

सादाबाद के युवक की आगरा में मौत

सादाबाद के युवक की आगरा में मौत

20 अप्रैल 2019

विज्ञापन

अलीगढ़ के रोडवेज दफ्तर में छलके जाम, वीडियो वायरल

उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम के अलीगढ़ डिपो में कर्मचारियों के शराब पीने का वीडियो हुआ वायरल। देखें वीडियो।

21 अप्रैल 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election