बारिश में ढह गए आशियाने

Hathras Updated Sun, 12 Aug 2012 12:00 PM IST
सादाबाद। क्षेत्र में शुक्रवार की रात और शनिवार सुबह हुई झमाझम बारिश सिर्फ राहत बनकर ही नहीं बरसी, बल्कि आफत बनकर टूटी भी। बारिश से कई गांवाें में जहां कई कच्चे मकानों के ढहने से गरीब लोगों के आशियाने उजड़ गए तो वहीं तालाब, रजवाहे ओवरफ्लो हो गए। इससे कई गांवों के रास्तों में पानी भर गया। लोग घरों से बाहर निकलने तक को तरस गए। इधर, घरों से बेघर हुए लोगों की निगाह अब प्रशासनिक इमदाद पर अटक गई है। प्रशासन भी लेखपालों के माध्यम से पूरी रिपोर्ट जुटा रहा है। कई दिनों से लगातार पड़ रही बारिश अब कहर ढा रही है। बारिश गरीब लोगों को घरों से बेघर कर रही है। गावं धानौटी में गुड्डू पुत्र नसीबाला का कच्चा मकान शनिवार की सुबह भरभराकर गिर पड़ा। इससे मकान में अंदर सो रहे लोग बाल-बाल बच गए। मकान के गिरने से मकान के अंदर रखा हजारों रुपये का घरेलू सामान दबकर नष्ट हो गया। इसी तरह गांव शिखरा और करैया में भी कच्चे मकान ढह गए। बिसावर चौराहे पर भी एक दीवार धराशाई हो गई। ग्राम नगला भंगड़ी में बीरी सिंह पुत्र पोप सिंह का कच्चा मकान शुक्रवार की रात ढह गया। इससे वीरी सिंह की पत्नी बेबी, पुत्री काजल और कविता घायल हो गईं। इसके अलावा इसी गांव में पप्पू पुत्र नेतराम का एक कच्चा कमरा भी भरभराकर गिर पड़ा। पप्पू की छह बकरियों की मकान के मलबे के नीचे दबकर मौत हो गई, जबकि दो घायल हो गईं। मौके पर क्षेत्रीय विधायक देवेंद्र अग्रवाल, एसडीएम नन्हकू राम, नायब तहसीलदार देवेंद्र यादव भी मौके पर पहुंच गए। विधायक ने एसडीएम से पीड़ितों को मुआवजा दिलाने के लिए कहा।

Spotlight

Most Read

Kaushambi

फिल्म पद्मावत के विरोध में क्षत्रिय महासभा ने भरी हुंकार

प्रदर्शन कर मंझनपुर में निर्माता संजय लीला भंसाली का फूंका पुतला, डीएम को सौंपा ज्ञापन

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: बच्चों के झगड़े में बड़ों ने यहां निकाली लाठियां

हाथरस में दो पक्षों के बीच जमकर लाठियां चलीं। दोनों पक्षों ने एक दूसरे पर खूब लाठियां भांजी । जिसके हाथ में जो आया उससे एक दूसरे को खूब पीटा। बच्चों को लेकर ये झगड़ा हुआ।

19 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper