फिर निकला अवैध संपत्ति का जिन्न

Hathras Updated Sat, 11 Aug 2012 12:00 PM IST
हाथरस। प्रदेश के पूर्व ऊर्जामंत्री रामवीर उपाध्याय पर आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने की लोकायुक्त से शिकायत करने वाले सादाबाद के सपा विधायक देवेंद्र अग्रवाल पर अब एमएलसी मुकुल उपाध्याय ने निशाना साधा है। उन्होंने विधायक पर गलत तरीके से संपत्ति अर्जित करने का आरोप लगाया है। एमएलसी का कहना है कि देवेंद्र अग्रवाल पर 10 साल पहले जितनी कृषि भूमि थी, वह नियम के मुताबिक काफी ज्यादा थी, जिसमें से बाद में विधायक ने कुछ कृषि भूमि अपने साले के नाम कराई। उन्होंने इस संपत्ति का ब्योरा प्रस्तुत करते हुए शासन से कार्रवाई की मांग की है।
अपने निवास पर पत्रकारोें से वार्ता करते हुए एमएलसी मु्कुल उपाध्याय ने बताया कि देवेंद्र अग्रवाल व उनकी पत्नी के नाम 29 जुलाई 2002 तक 10.88864 हेक्टेयर यानी 140 बीघा कृषि भूमि थी।विधायक ने ‘उत्तर प्रदेश जोत सीमा आरोपण अधिनियम’ की धाराओं के तहत कार्रवाई से बचने के लिए इसमें से 3.192 हेक्टेयर यानी करीब 40 बीघा जमीन उन्होंने अपने साले धर्मेंद्र के नाम हिवे बैनामा (दान पत्र) कराया। उन्होंने बताया कि नियमानुसार कोई व्यक्ति ज्यादा से ज्यादा 62 बीघा जमीन ही अपने नाम रख सकता है।
मुकुल ने अपनी भाभी और फतेहपुर सीकरी की सांसद सीमा उपाध्याय की उस शिकायत को भी दिखाया, जिसमें इस संपत्ति का पूरा विवरण देते हुए डीएम से शिकायत की गई है। पत्र में उस जमीन का जिक्र किया गया है, जो देवेंद्र अग्रवाल, उनकी पत्नी लता अग्रवाल और साले धर्मेंद्र अग्रवाल के नाम है। मुकुल उपाध्याय ने आरोप लगया कि देवेंद्र अग्रवाल मिलावटी डीजल और मिट्टी के तेल का काम करते हैं और इनका अवैध धंधा दूर-दूर तक फैला हुआ है। उपाध्याय ने बताया कि वह प्रदेश के मुख्य सचिव, प्रमुख सचिव राजस्व परिषद, चेयरमैन राजस्व परिषद से अग्रवाल की जमीन संबंधी शिकायत कर चुके हैं।

मेरे पास कोई अवैध संपत्ति नहीं: देवेंद्र अग्रवाल
विधायक देवेंद्र अग्रवाल ने इस मामले में पलटवार करते हुए कहा है कि विजिलेंस जांच से घबरा कर उपाध्याय परिवार उन पर झूठे और निराधार आरोप लगा रहा है। उन्होंने कहा है कि मेरे पास कोई अवैध संपत्ति नहीं है। मैंने अपनी पूरी संपत्ति का विवरण नामांकन के समय चुनाव आयोग में दे दिया था। उन्होंने कहा कि उपाध्याय परिवार वर्ष 2002 से ही मुझ पर इस तरह के झूठे आरोप लगा रहा है। विधायक का कहना है कि उनके नाम केवल दो पेट्रोल पंप और एक पेटी डीलर का लाइसेंस है, जबकि उपाध्याय परिवार के पास तो चार पेट्रोल पंप हैं। महत्वपूर्ण पदों पर रहते हुए इस परिवार के सदस्यों ने करोड़ों-अरबों की संपत्ति जुटाई है।
देवेंद्र पर लगे आरोपों की जांच को बनाई गई टीम
हाथरस। सादाबाद के विधायक देवेंद्र अग्रवाल पर लगे मिलावटी डीजल बनाने और मिट्टी के तेल की कालाबाजारी से अकूत संपत्ति अर्जित करने के आरोपाें की जांच के लिए डीएम ने एक कमेटी गठित कर दी है।
दरअसल, सांसद सीमा उपाध्याय की शिकायत पर प्रमुख सचिव राजस्व ने जिलाधिकारी को इस मामले की जांच खुद करने के आदेश दिए थे। शासन ने एक महीने में जिला प्रशासन से जांच रिपोर्ट भी तलब की है। प्रभारी अधिकारी कलक्ट्रेट ने इस शिकायत पर डीएम से जंाच के लिए जिला पूर्ति अधिकारी या फिर संबंधित तहसील के उपजिलाधिकरी या सक्षम नोडल अधिकारी की अध्यक्षता में टीम गठित करने की संस्तुति की थी। मामला अपर जिलाधिकारी के पास पहुंचा तो उन्होंने भी डीएम को साफ लिख दिया कि डीजल व मिट्टी के तेल के अवैध व्यापार और भूमि अर्जन से संबंधित इस शिकायत की जांच के लिए जिला पूर्ति अधिकारी और संबंधित उपजिलाधिकारी की तीन संयुक्त टीम बनाई जा सकती है। सूत्र बताते हैं कि डीएम ने इसकी जांच के लिए टीम गठित कर दी है।

Spotlight

Most Read

National

पुरुष के वेश में करती थी लूटपाट, गिरफ्तारी के बाद सुलझे नौ मामले

महिला लड़कों के ड्रेस में लूटपाट को अंजाम देती थी। अपने चेहरे को ढंकने के लिए वह मुंह पर कपड़ा बांधती थी और फिर गॉगल्स लगा लेती थी।

20 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: बच्चों के झगड़े में बड़ों ने यहां निकाली लाठियां

हाथरस में दो पक्षों के बीच जमकर लाठियां चलीं। दोनों पक्षों ने एक दूसरे पर खूब लाठियां भांजी । जिसके हाथ में जो आया उससे एक दूसरे को खूब पीटा। बच्चों को लेकर ये झगड़ा हुआ।

19 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper