सर्किल रेट पर फिर गर्माएगी तहसील

Hathras Updated Mon, 16 Jul 2012 12:00 PM IST
हाथरस। जमीनों के सर्किल रेट में बढ़ोतरी के खिलाफ तहसीलों का माहौल सोमवार से गर्मा सकता है। प्रस्तावित सर्किल रेट सूची पर आपत्तियां और सुझाव देने के लिए भी पब्लिक के पास भी कल तक का अंतिम मौका है। लिहाजा इस सूची का विरोध तेज हो सकता है। अगर निबंधन विभाग ने सर्किल रेट को तर्कसंगत नहीं बनाया तो सूची का विरोध कर रहे वकील और दस्तावेज लेखक सोमवार से अनिश्चितकालीन हड़ताल का ऐलान भी कर सकते हैं, जिससे प्रशासन और निबंधन विभाग खासे परेशान दिख रहे हैं। हड़ताल पर चल रहे वकील और दस्तावेज लेखक सोमवार को इस सिलसिले में डीएम से मुलाकात कर सकते हैं। वह सर्किल रेट में बेतहाशा बढ़ोतरी पर कड़ा विरोध दर्ज कराएंगे। वकीलों व कातिबों ने ऐलान किया है कि 60 फीसदी तक भारी-भरकम बढ़ोतरी के साथ तैयार की गई सर्किल रेट की इस सूची को हर्गिज लागू नहीं होने दिया जाएगा। हालांकि दो दिन पहले वकील व कातिब उपनिबंधक से मिलकर आपत्तियां दर्ज करा चुके हैं, लेकिन अभी तक निबंधन विभाग ने बढ़े हुए रेट को वापस लेने का कोई संकेत नहीं दिया है, जिससे वकीलों व कातिबों के तेवर तने हुए हैं। सोमवार को चूंकि आपत्तियां व सुझावों का अंतिम दिन है, इसलिए वकील व कातिब दोनों ही मिलकर प्रशासन व निबंधन विभाग पर बढ़ोतरी को वापस लेने का दवाब बनाने में पूरी ताकत झोंकेंगे। अगर सोमवार को प्रशासन की तरफ से उन्हें बढ़ोतरी वापस लेने का कोई भरोसा नहीं मिलता है तो हो सकता है कि वह मंगलवार से अनिश्चिकालीन हड़ताल का ऐलान कर दें। फिलहाल सर्किल रेट पर मची इस रार के नतीजे पर सबकी नजरें हैं। महंगाई की मार से जूझ रही पब्लिक भी इस मुद्दे पर वकीलों व कातिबों के साथ खड़ी दिख रही है। पब्लिक को भी सर्किल रेट में यह भारी-भरकम इजाफा हरगिज रास नहीं आ रहा है। वैसे सूत्र बताते हैं कि प्रशासन और निबंधन विभाग भी इस विरोध के बाद इस संकट का हल निकालने में जुटा हुआ है।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: बच्चों के झगड़े में बड़ों ने यहां निकाली लाठियां

हाथरस में दो पक्षों के बीच जमकर लाठियां चलीं। दोनों पक्षों ने एक दूसरे पर खूब लाठियां भांजी । जिसके हाथ में जो आया उससे एक दूसरे को खूब पीटा। बच्चों को लेकर ये झगड़ा हुआ।

19 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls