...तो बेकार चले जाएंगे 37 लाख

Hathras Updated Tue, 12 Jun 2012 12:00 PM IST
हाथरस। शहर के बीचोंबीच स्थित तालाब सूख तो गया, लेकिन इसके सौंदर्यीकरण की योजना अधर में है। इस तालाब के चक्कर में एक भूमिगत नाला भी बन गया, लेकिन सौंदर्यीकरण की योजना आगे नहीं बढ़ी। फिलहाल स्थिति यह है कि इस तालाब में सिल्ट भरी पड़ी है और उसकी सफाई पर भी ध्यान नहीं दिया जा रहा। अगली बारिश में तालाब को सुखाने में खर्च किया गया पैसा भी बेकार चला जाएगा। शहर के बीचोंबीच तालाब में आधे शहर का गंदा पानी जाता था। कई नाले-नालियां इसी में खुलते थे। फरवरी, 2011 में जब तत्कालीन मुख्यमंत्री मायावती यहां आईं तो उन्होंने डीएम को तालाब के सौंदर्यीकरण के निर्देश दिए। बस तभी से तालाब को पिकनिक स्पॉट बनाने की योजना अमल में लाई जाने लगी। सबसे पहला काम तालाब में जाने वाले गंदे पानी को रोका था। कई आर्किटैक्ट की सलाह ली गई। इसके लिए एक और नाले की जरूरत हुई। पहले तो यह काम नगर पालिका को सौंपा गया, लेकिन बाद में यह काम लोक निर्माण विभाग को दे दिया गया। नगर पालिका ने अपनी धनराशि 37 लाख रुपये लोनिवि को दे दी। लोनिवि ने एक भूमिगत नाला बना दिया और तालाब में जाने वाला पानी इस भूमिगत नाले में जाने लगा। अब तालाब पूरी तरह से सूख गया है और इसकी स्थिति दलदल जैसी है। वरिष्ठ अधिवक्ता हरीश कुमार शर्मा का कहना है कि सूडा की आदर्श जलाशय योजना के तहत इस तालाब को स्वच्छ कराया जाए। इसमें स्वच्छ जल प्रवाहित कराया जाए। साथ ही यदि तालाब में अंदर कुएं हो तो उनकी भी खोज कराई जाए। इसमें अब देरी नहीं करनी चाहिए।
पूर्व प्राचार्य डॉ. रविंद्र मोहन शर्मा कहा कि तालाब सूख गया है तो फिर योजना के अगले चरण को पूरा क्यों नहीं किया जा रहा। ऐसे में तो तालाब को सुंदर बनाने के लिए जो नाला बनाया गया, उसका भी कोई औचित्य नहीं है। सौंदर्यीकरण की योजना को अमल में लाना चाहिए।

Spotlight

Most Read

Jharkhand

चारा घोटाला: चाईबासा कोषागार मामले में कोर्ट ने सुनाया फैसला, तीसरे केस में लालू दोषी करार

रांची स्थित विशेष सीबीआई अदालत ने चारा घोटाले के तीसरे मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को दोषी करार दिया है। साथ ही पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा को भी दोषी ठहराया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: बच्चों के झगड़े में बड़ों ने यहां निकाली लाठियां

हाथरस में दो पक्षों के बीच जमकर लाठियां चलीं। दोनों पक्षों ने एक दूसरे पर खूब लाठियां भांजी । जिसके हाथ में जो आया उससे एक दूसरे को खूब पीटा। बच्चों को लेकर ये झगड़ा हुआ।

19 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls