झोलाछाप डाक्टर के इलाज से छात्र की मौत

Hardoi Updated Thu, 19 Jul 2012 12:00 PM IST
सांडी। विकास खंड के श्रीमऊ गांव में झोलाछाप डाक्टर के इलाज के दौरान छात्र की मौत हो गई। मामले को लेकर अभी तक किसी से शिकायत किए जाने की जानकारी नहीं मिली है। लोगों का कहना है कि मामले को भीतर ही भीतर दबाने का प्रयास किया जा रहा है। श्रीमऊ गांव निवासी रामचंद्र का पुत्र रामकृपाल कक्षा 5 में पढ़ता था। देा दिन पूर्व अचानक उसके पेट में दर्द उठा तो परिजन उसे इलाज के लिए पड़ोस के ही एक झोलाछाप डाक्टर के यहां ले गए जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। मामले को लेकर अभी शिकायत आदि किए जाने की जानकारी नहीं मिली है। लोगों का कहना है कि मामले को दबाने का प्रयास हो रहा है। उधर क्षेत्र के लोगों ने बताया कि श्रीमऊ में दो वर्षों से स्वास्थ्य केंद्र बना पड़ा हुआ है मगर चिकित्सकों की तैनाती नहीं हुई है जिसके कारण क्षेत्र के लोग झोला छाप डाक्टरों से इलाज कराने के लिए मजबूर है।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाले के तीसरे केस में लालू यादव दोषी करार, दोपहर 2 बजे बाद होगा सजा का ऐलान

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी में कोहरे का कहर जारी, ट्रक और कार की टक्कर में तीन की मौत

कन्नौज के तालग्राम में आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर कोहरे के चलते एक भीषण सड़क हादसा हो गया। कोहरे की वजह से पीछे से आ रही कार के चालक को सड़क पर खड़ा ट्रक  नजर नहीं आया और उनमें कार जा टकराई। हादसे में तीन की मौत हो गई।

10 जनवरी 2018