अंतिम दिन तपिश में भी नामांकन की बाढ़

Hardoi Updated Thu, 07 Jun 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
रदोई। निकाय चुनाव को लेकर अंतिम दिन बुधवार को जिस तरह धूप की तपिश बढ़ती दिखाई दी उसी तरह हर नामांकन कक्ष में दावेदारों की भीड़ का ग्राफ भी बढ़ता ही रहा। आलम यह रहा कि अंतिम दिन दावेदारी के निर्धारित समय के बाद तक नामांकन प्रक्रिया को जारी रखने में आरओ व एआरओ विवश दिखे।
विज्ञापन

हरदोई नगर पालिका के वार्ड वार नामांकन के लिए बनाए गए कोर्टो के हिसाब से देखे तो वार्ड नंबर छह से 10 में अंतिम दिन 21 नामांकन कि ए गए। जिसमें वार्ड नंबर सात से फातिमा, सदासुखी, रेशमा, सत्यवती, स्नेहलता ने नामांकन किया तो वार्ड आठ से दिलीप, नौ से शाबाना एवं दस से श्रीकृष्ण वर्मा, रजत मिश्रा, अमित गुप्ता, मोहन बाजपेई, अविनाश, श्यामलाल व लालता प्रसाद आदि ने नामांकन कराया। इसी क्रम में वार्ड नंबर 16 से 20 के नामांकन कक्ष में वार्ड नंबर 17 से प्रमोद सिंह, दोस्त मोहम्मद, अनुज एवं वार्ड नंबर 18 से अमित चौरसिया, दिलीप कुमार एवं वार्ड नंबर 19 से अल्पना वर्मा, बेबी, रेखा देवी, शीला ने पर्चा दाखिल किया। इसी क्रम में गोपामऊ सदस्य पद पर वार्ड नंबर एक से सर्वेश व महेंद्र कुमार, वार्ड नंबर दो से सरला, विमला, सानेतारा, वार्ड नंबर तीन से गुफरान, वार्ड नंबर चार से शरताज एवं संतराम, पांच से सलीम, छह से रामकिशोर, सात से सरफून व रेशमा, आ ठ से संतोष कुमार, 10 से नफीस खां, 11 से जाहिदा एवं 12 से मो सईद ने नामांकन किया। हरदोई नगर पालिका के वार्ड नंबर 11 से 15 तक में वार्ड नंबर 11 में संदीप कुमार व ब्रजेश कुमार, वार्ड नंबर 12 में किरन व मधुबाला, वार्ड नंबर 14 में अजय कुमार व अवधेश, वार्ड नंबर 15 में कीर्ति प्रकाश, मनोज कुमार कश्यप व सुरेंद्र कुमार ने नामांकन कराने के बाद अपनी दावेदारी को सुनिश्चित कर लिया।
हरदोई नगर पालिका के वार्ड नंबर एक से पांच तक के नामांकन कक्ष में वार्ड संख्या एक में पारूल यादव व मीना देवी, दो में गोपेश दीक्षित, ब्रज किशोर, वीजेंद्र, दरबारी लाल, शैलेंद्र, सालिगराम, हरी प्रताप सिंह, चार से सरला, पांच से विद्यावती, मदनलाल ने नामांकन कराया। इसी क्रम में 21 से 26 वार्ड संख्या वाने नामांकन कक्ष में वार्ड नंबर तीन से अर्पित सिंह, विनोद सिंह, वार्ड नंबर 24 से मंजू, आशा, भगवती, शबीना व सुधा शामिल रही तो वार्ड नंबर 25 से बेबी, शंाती, निर्मला व विनीता ने नामांकन कराया। जबकि वार्ड नंबर 26 से उमेश अग्रवाल व गुलाब सिंह ने पर्चा दाखिल किया। इसी क्रम में गोपामऊ अध्यक्ष पद पर हाजी करीमुल्लाह, तजीमुलह, राकेश व नेमतजहां ने अपना नामांकन कराया।
चुनाव में शांति व्यवस्था है चुनौती
सूचना के लिए आयोग बजाता रहा घंटी, अधिकारी बेसुध
कुल कितने हुए नामांकन, इसी का नहीं लगा पाए हिसाब
हरदोई। इस बार नगर निकाय चुनाव पूरी तरह से व्यवस्थित व सुनियोजित ढंग से निपट जाए तो बड़ी बात है। क्यों कि नामांकन को जहां इसकी शुरूआत माना जा सकता है इसी प्रशासन की तेजी व क ार्यशैली ऊभर कर सामने आ गई। खास बात यह रही कि नामांकन समाप्त होने के बाद अधिकारियों के पास कितने नामांकन हुए इस सवाल का जवाब नहीं था। आयोग भी इसे लेकर लगातार निर्वाचन कार्यालय की घंटी बजाए जा रहा था।
ऐसा भी पहले कभी नहीं हुआ कि जिस काम को लेकर प्रशासनिक अमला जुटा रहा हो उसी काम को वह न कर पाए और अभी नहीं कह कर टाल दें। लेकिन जिले में चुनाव जैसे कार्यो को लेकर आला अधिकारी कुछ ऐसा ही बोल रहे हैं। जिसके बाद जिले के आला अधिकारी ही नहीं बल्कि आयोग भी जिले के जिम्मेदारों से खफा रहा और फोन की घंटिया दर घंटिया बजाता रहा। मालूम हो कि नामांकन के बाद एक प्रारूप पर आरओ को निर्वाचन कार्यालय सूचना भेजनी थी। लेकिन आरओ के द्वारा उन प्रारूपों पर अमल नहीं किया गया जिसके बाद निर्वाचन अधिकारी के द्वारा उन प्रारूपों को वापस कर दिया गया। इधर, आयोग अपने समय पर सूचनाएं मांगने लगा लेकिन जिले के निर्वाचन कार्यालय के पास ऐसी कोई सूचना ही नहीं थी। जिसके बाद यह अंदाजा लगाना ही कठिन नहीं था कि जिले में चुनाव हो रहा है या और खेल। इस संबंध में जब सहायक निर्वाचन अधिकारी से पूछा गया तो उनका कहना था कि जब उनके पास ब्यौरा नहीं आ जाता तब तक वह रिपोर्ट कहां से दे। आरओ की तरफ से आने पर ही वह आयेाग को भेज पाएगें।

वार्ड नंबर 19 से.......
कांती का निर्विरोध जीतना तय
विरोध में नहीं हुआ एक भी नामांकन
उनके समर्थकों में दौड़ी खुशी की लहर
हरदोई। नामांकन प्रक्रिया के खत्म होने के साथ ही कुछ वार्डाें से दावेदारों का निर्विरोध होने की बात भी सामने आने लगी हैं। सात दिन चली नामांकन प्रक्रिया में कई वार्ड ऐसे भी रहे जहां सिर्फ एक ही दावेदार के द्वारा नामांकन कराया गया। इन्हीं वार्डाें में से वार्ड नंबर 19 भी रहा जहां से एक के अलावा दूसरा कोई नामांकन ही नहीं हुआ। जिसके बाद अब उनका जीतना निर्विरोध तय माना जा रहा है।
बताया गया कि वार्ड नंबर 19 से कांती मिश्रा ने अपना नामांकन कराया था। जिसके बाद नामांकन प्रक्रिया पूरी खत्म होने के बाद एक भी नामांकन नहीं हुआ। जिसके बाद बुधवार को नामांकन प्रक्रिया पूरी होने के बाद उनका जीतना बिल्कु ल तय माना जा रहा है। उनके पुत्र अखिलेश मिश्र ने बताया कि जीत का सफर वर्ष 1988 से जारी है। उस वर्ष सबसे पहले वह सभास द रहे। उसके बाद दूसरी बार उनकी माता इस बार विजयी होने जा रही। इसके अलावा तीन बार वह सभासद बनते आए हैं। उनके घर में जशभन का माहौल रहा। जिनमें मिथलेश, श्याम सुंदर आदि ने खुशी जाहिर की।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
  • Downloads

Follow Us