आध्यात्मिक जीवन के लिए मोह-माया त्यागें

Hardoi Updated Thu, 20 Dec 2012 05:30 AM IST
पिहानी (हरदोई)। स्थानीय इच्छापूर्णी रामजानकी मंदिर पर चल रहे रामजानकी विवाहोत्सव में संत जीवन शरण परमहंस ने कहा कि आध्यात्मिक जीवन के लिए माया और मोह का त्याग जरूरी है। यह दो चीजें ऐसी हैं, जो मनुष्य को कभी भी परमात्मा से जुड़ने नहीं देती हैं। आकर्षक झांकियों ने सभी का मनमोह लिया।
पंद्रह दिवसीय कार्यक्रम के छठे दिन जीवन शरण ने कथा का रसपान कराते हुए कहा कि समुचित कल्याण के लिए स्वयं को परमात्मा से जोड़ना और सर्वस्व समर्पित करना जरूरी है। गृहस्थ जीवन को उन्होंने दु:खदाई बताते हुए कहा कि परमात्मा की ओर बढ़ाया गया एक कदम जीवन को खुशियों से भर सकता है। शांति के लिए ईश्वर को याद करना आवश्यक है, भले ही दो मिनट के लिए याद करें। श्रीमद्भागवत कथा में रामशरण ने व्यास जी की चिंता का वर्णन किया। व्यास जी ने सत्रह पुराण, चार वेद और एक महाभारत ग्रंथ की रचना की, लेकिन नारद जी के द्वारा कुशलक्षेम जानने पर पता चला कि व्यास जी को आंतरिक संतोष प्राप्त नहीं हुआ। तब नारद जी ने उन्हें अट्ठारहवें पुराण श्रीमद्भागवत महापुराण की रचना करने को कहा। उन्होंने कहा कि इसी महापुराण से मानव जीवन का कल्याण होगा और आपको संतोष प्राप्त होगा। नारद जी के द्वारा प्रदत्त चार श्लोकों को व्यास जी ने अठारह हजार श्लोकों में विभक्त कर के अठारहवें पुराण की रचना की। इसी महापुराण के श्रवण करने से सुख, शांति, अर्थ, धर्म, काम और मोक्ष की प्राप्ति होती है। इस अवसर पर प्रधान ट्रस्टी वैष्णव हरिचरन लाल रस्तोगी, पं. श्याम नाथ शुक्ला, रामऔतार पटवा व रामचंद्र वैश्य आदि उपस्थित रहे।

Spotlight

Most Read

Lucknow

अखिलेश यादव का तंज, ...ताकि पकौड़ा तलने को नौकरी के बराबर मानें लोग

यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने केंद्रीय मंत्री सत्यपाल सिंह पर निशाना साधा और कहा कि भाजपा देश की सोच को अवैज्ञानिक बताना चाहती है।

22 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी में कोहरे का कहर जारी, ट्रक और कार की टक्कर में तीन की मौत

कन्नौज के तालग्राम में आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर कोहरे के चलते एक भीषण सड़क हादसा हो गया। कोहरे की वजह से पीछे से आ रही कार के चालक को सड़क पर खड़ा ट्रक  नजर नहीं आया और उनमें कार जा टकराई। हादसे में तीन की मौत हो गई।

10 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper