विज्ञापन
विज्ञापन

खतरों भरा गंगा स्नान

Hapur Updated Wed, 05 Nov 2014 05:30 AM IST
ख़बर सुनें
गढ़मुक्तेश्वर। खादर के पौराणिक मेले को लेकर जिला पंचायत महकमा पिछले कई सप्ताह से अपनी तैयारी में जुटा हुआ है, परंतु अभी तक अस्थाई स्नानघाटों का निर्माण और अधिक जल स्तर वाले स्थानों पर गंगा किनारे बैरिकेडिंग नहीं हो सकी है। मुख्य स्नान पर्व के मद्देनजर उमड़ रहे श्रद्धालुओं के सैलाब में इन दो प्रमुख कमियों से अनहोनी की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता।
विज्ञापन
गंगा का कटान और जलधारा का तेज घुमाव न थमने से खादर मेले में की जा रहीं जिला पंचायत की व्यवस्थाएं पूरी तरह बौनी साबित हो रही हैं। खादर मेले में गंगा किनारे पांच स्थानों पर साढ़े सात सौ मीटर से भी लंबा स्नानघाट बनाया जाना प्रस्तावित था। अभी तक सदर संतर के सिवाय मेरठ, दिल्ली, हापुड़, बुलंदशहर और अश्वीय मेला सैक्टर में स्नानघाटों का निर्माण अपेक्षित ढंग में नहीं हो पाया है। जिन स्थानों पर स्नानघाट नहीं बन पाए हैं, वहां गंगा का जलस्तर 10 फुट से भी अधिक है।
हालांकि डीएम और एसपी का फोकस कड़े सुरक्षा प्रबंधों के साथ ही स्नानघाटों का निर्माण और गंगा में अधिक जलस्तर वाले स्थानों पर बैरिकेडिंग पर है लेकिन जिला पंचायत ने इस दिशा में अपेक्षित कवायद नहीं की है। ऐसे में पूर्णिमा की रात मुख्य स्नान पर्व पर 30 लाख से भी अधिक श्रद्धालु सिर्फ सदर संतर के घाट पर कैसे स्नान कर पाएंगे, यह अपने आप में बड़ा सवाल है।
आईटीबीपी जवान गंगा में डूबा
गढ़मुक्तेश्वर। खादर मेले में डुबकी लगा रहे बागपत के आईटीबीपी जवान गंगा के गहरे पानी में डूब गया। खोजबीन के बाद भी उसका कोई सुराग नहीं लग पाया । बागपत के छपरौली में रहने वाला सचिन 24 वर्ष इंडियन-तिब्बत बॉर्डर पुलिस में सिपाही था, जो इन दिनों छुट्टी लेकर अपने परिवार के साथ खादर मेले में आया हुआ था। जो मंगलवार की सुबह करीब 10 बजे मेरठ सैक्टर में स्नान करने गया हुआ था और इसी दौरान गंगा के गहरे पानी में डूब गया। पास में डुबकी लगाने वालों का शोर सुनकर पीएसी, रिवर्स पुलिस और नाव चलाने वाले मल्लाह मौके पर पहुंचकर खोजबीन करने में जुट गए, परंतु कई घंटों की कड़ी मशक्कत के बाद भी उसका कोई अता पता नहीं लग पाया।

गंगा में डूबते श्रद्धालुओं को बचाया
41 वीं वाहिनी पीएसी के जवानों ने मुख्यघाट पर गंगा में डूब रहे लोनी के मंगल और जयपाल, बुलंदशहर के योगेश, वीरपाल, नन्ही, वेदपाल को दिल्ली संतर के पास जीवित बचा लिया, जिनकी मेले के अस्थाई अस्पताल से प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी कर दी गई है। मेले में नाव चलाने का जिम्मा संभाल रहे धर्मपाल सिंह समेत उनके गोताखारों पीतम, जगदीश, घनश्याम, रतिराम ने दिल्ली संतर के पास सुदेश, नितिन, शशांक, मोहित, रोहन शहादरा तथा मेरठ सैक्टर में सुनील सिंह, बालेश्वर, दयाचंद सरधना को गंगा में डूबते समय बचा लिया।वहीं 44 वीं वाहिनी मेरठ के पीएसी गोताखोरों जगपाल सिंह, विनोद त्यागी, अश्वनी प्रताप, विजय शर्मा ने हापुड़ सैक्टर के स्नानघाट के पास गंगा में डूब रहे अमित छुछाई और सौरभ परतापुर को अथक कोशिश के बाद बचा लिया। बता दें कि आईटीबीपी जवान सचिन से पहले भी जनपद बुलंदशहर के गांव ढकोली निवासी एशवीर सिंह का 24 वर्षीय बेटा अंकुर सिरोही गंगा में डूब गया था, जो बीए का स्टूडेंट था और उसका अभी तक कोई अता पता नहीं लग पाया है।
मनचलों-उठाईगिरों का आतंक
गढ़मुक्तेश्वर। चप्पे चप्पे पर पुलिस तैनात होने के बाद भी खादर मेले में छेड़खानी और उठाईगीरी की वारदात नहीं थम पा रही हैं, परंतु इसके बाद भी मुख्य स्नानघाट से जुड़े कई वॉच टावरों पर अभी तक पुलिस की तैनाती नहीं हो पाई है। सदर संतर के सामने वाले मुख्य स्नानघाट से लेकर मेरठ, दिल्ली, बुलंदशहर और हापुड़ सैक्टर में गंगा स्नान के दौरान उठाईगीरों ने बलदेव राज के कपड़ों में रखी 19 हजार की रकम समेत सुमन, जयपाली, विवेक सिंह, राहुल, जयसिंह, छतरपाल सिंह के बाहर रखे कपड़ों पर हाथ साफ कर दिया, जिनमें हजारों की रकम और मोबाइल समेत कई महत्वपूर्ण दस्तावेज भी रखे हुए थे। डुबकी लगाकर निकले पीड़ितों को भीगे कपड़ों में ही डेरों पर पहुंचने को मजबूर होना पड़ा।

हादसों में 20 से अधिक घायल
गढ़मुक्तेश्वर। रास्तों पर उमड़ रहे वाहनों में एक दूसरे से पहले मेले में पहुंचने की होड़ सी लगी हुई है, जिससे उनके बीच भिड़ंत होने से खादर मेले को आ रहे महिला-बच्चों समेत 20 से भी अधिक घायल हो गए। बदरखा मोड़ पर ट्रैक्टर-ट्रॉली और मैजिक गाड़ी की भिड़ंत में दुलारी, महेश पाल, विवेक सिंह, अभिमन्यु, संध्या, रजनी, गुड्डू, हैप्पी, सुनील निवासी दिल्ली घायल हो गए। मेरठ रोड पर वैन को भैंसा बुग्गी ने टक्कर मार दी, जिससे निखिल, वीरपाल, हरपाली, सुकेश, चंद्रभान, संजय कुमार निवासी बागपत घायल हो गए। स्याना चौपला के पास हुई, जहां श्रद्धालुओं से भरी दो ट्रैक्टर-ट्रॉली आपस में भिड़ गईं।
विज्ञापन

Recommended

प्रथम श्रेणी के दुग्ध उत्पादों के लिए प्रतिबद्ध है धौलपुर फ्रेश
Dholpur fresh

प्रथम श्रेणी के दुग्ध उत्पादों के लिए प्रतिबद्ध है धौलपुर फ्रेश

ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019
Astrology Services

ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Ghaziabad

पति के मोबाइल पर भेजे पत्नी के आपत्तिजनक फोटो, बवाल

इंटरनेट का एक लिंक अध्यापक दंपत्ति को बना जाने बवाल

9 दिसंबर 2019

विज्ञापन

जानिए, नागरिकता संशोधन बिल से क्या होंगे बदलाव, जिस पर मचा है बवाल

नागरिकता संशोधन बिल को लेकर खूब हंगामा मचा है। राजनीतिक पार्टियां इसका विरोध कर रही हैं। देखिए वो कौन से बदलाव हैं जिनपर हंगामा मचा हुआ है।

9 दिसंबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls
Niine

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election