‘अविश्वास’ प्रस्ताव पर मीना सिंह क्लीन बोल्ड

Hapur Updated Wed, 29 Jan 2014 05:48 AM IST
गढ़मुक्तेश्वर। पिछले वर्ष फरवरी में अविश्वास प्रस्ताव पर हुए मतदान की गिनती मंगलवार को तहसील मुख्यालय में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच पूरी हुई। इसमें अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में सभी वोट पाए गए। इसके चलते सिंभावली ब्लॉक प्रमुख मीना सिंह को कुर्सी से हाथ धोना पड़ गया।
बता दें कि प्रदेश की सत्ता परिवर्तन पर क्षेत्र के सपा नेताओं ने बसपा से जुड़ीं सिंभावली ब्लॉक प्रमुख मीना सिंह को कुर्सी से उतारने की मुहिम छेड़ दी थी। इस बाबत अविश्वास प्रस्ताव पर पिछले वर्ष 26 फरवरी को वोटिंग हुई थी। इसी दौरान ब्लॉक प्रमुख ने इलाहाबाद हाईकोर्ट की शरण ली, जहां से गिनती पर रोक लगाने का आदेश जारी हो गया था। करीब तीन सप्ताह पहले हाईकोर्ट ने वोटों की गिनती पर लगाई गई रोक हटा ली।
मंगलवार को तहसील मुख्यालय में कड़े सुरक्षा बंदोबस्त के बीच एसडीएम जयशंकर मिश्रा, डीपीआरओ ओमप्रकाश सिंह, तहसीलदार भगतसिंह, डीएसपी एसएम याकूब, बीडीओ फरीद अहमद, नायब तहसीलदार विनय पांडेय, एडीओ पंचायत अरविंद कौशिक की देखरेख में अविश्वास प्रस्ताव पर हुई वोटिंग की गिनती की गई। एसडीएम ने बताया कि अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में 67 और विपक्ष में कोई भी वोट नहीं डल पाया।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू यादव को तीसरे केस में 5 साल की सजा, कोर्ट ने 10 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: ‘पद्मावत’ पर बैन को लेकर सुप्रीम कोर्ट की सख्ती का असर दिख रहा है!

सुप्रीम कोर्ट की सख्ती के बावजूद ‘पद्मावत’ पर हो- हल्ला हो रहा है। ऐसे ही विरोध की तस्वीरें दिखाई दी हैं उत्तर प्रदेश के आगरा,सहारनपुर और हापुड़ में जहां पद्मावत का जबरदस्त विरोध हुआ।

23 जनवरी 2018