प्रमोशन में आरक्षाण का विरोध, भड़के कर्मचारी, झंडे जलाए, रास्ता रोका

Hapur Updated Fri, 21 Dec 2012 05:32 AM IST
हापुड़। प्रमोशन में आरक्षण के विरोध में सरकारी कर्मचारियों ने भाजपा की पश्चिमी उत्तर प्रदेश की बैठक में भाग लेने आए भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मीकांत वाजपेयी के खिलाफ जोरदार नारेबाजी की। वाजपेयी ने पहले ज्ञापन लेने से मना कर दिया, जिस पर कर्मचारियों का गुस्सा भड़क गया। हालांकि कुछ देर बाद वाजपेयी ने कर्मचारियों से ज्ञापन लेकर पार्टी के शीर्ष नेतृत्व से वार्ता करने का आश्वासन दिया। इससे पूर्व कर्मचारियों ने जुलूस निकाल कर कांग्रेस और भाजपा के झंडे जलाए और जमकर विरोध किया।
बृहस्पतिवार की सुबह को कृषि विभाग, एचपीडीए, ग्राम विकास, कलक्ट्रेट, सिंचाई, नलकूप, नगर पालिका समेत अनेक विभागों के कर्मचारी और अधिकारी नगर पालिका परिषद के पार्क में एकत्र हुए। जहां निर्णय लिया गया कि प्रमोशन में आरक्षण बिल का खुलकर विरोध किया जाएगा। चाहे इसके लिए कोई भी कुर्बानी क्यों न देनी पड़े। कर्मचारियों को सूचना थी कि गढ़ रोड स्थित अंश गार्डन में भाजपा की पश्चिमी उत्तर प्रदेश की बैठक हो रही है, जिसमें भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मीकांत वाजपेयी पहुंच रहे हैं। इसके बाद कर्मचारी अतरपुरा चौपला पहुंचे, जहां से होकर भाजपा प्रदेशाध्यक्ष को गुजरना था, लेकिन भाजपा नेता विनोद गुप्ता को कर्मचारियों की इस योजना का पता चला तो उन्होंने प्रदेश अध्यक्ष को बाईपास से कार्यक्रम स्थल पर भिजवा दिया। कर्मचारियों को रूट परिवर्तन का पता चला तो वह कार्यक्रम स्थल पर पहुंचे और भाजपा, कांग्रेस, बसपा के खिलाफ जोरदार नारेबाजी की। कर्मचारियों ने एसडीएम से कहा कि वह प्रदेशाध्यक्ष को ज्ञापन देना चाहते हैं। एसडीएम ने प्रदेशाध्यक्ष से इस संबंध में वार्ता की तो उन्होंने कर्मचारियों से मिलने से स्पष्ट मना कर दिया। इसकी जानकारी मिलते ही कर्मचारी उग्र हो गए और जोरदार नारेबाजी करने लगे। काफी हंगामे के बाद करीब आधे घंटे बाद वाजपेयी पांच कर्मचारियों से मिलने पर राजी हुए। कर्मचारियों ने उन्हें प्रधानमंत्री को संबोधित करते हुए ज्ञापन दिया। वाजपेयी ने कहा कि वह कर्मचारियों की भावनाओं को अपने शीर्ष नेतृत्व तक पहुंचा देंगे। उन्होंने कहा कि सपा से भी केन्द्र सरकार से समर्थन वापस लेने के लिए दबाव डाला जाए। ज्ञापन देने वालों में धर्मेन्द्र कुमार जाखड़, प्रवेश त्यागी, संजय त्यागी, एलपी सिंह, विजयपाल सिंह, चन्द्रशेखर, एमएस राठी, ज्ञानेन्द्र सिंह, जगनंदन, अजित त्यागी, नीरज गर्ग, नितिन अग्रवाल, जाहिद हुसैन, सतेन्द्र चौधरी एलपी सिंह आदि मौजूद थे।

मेरठ के विधायक की गाड़ी का झंडा उतारा
हापुड़। अतरपुरा चौपला पर प्रमोशन में आरक्षण बिल के विरोध में जब कर्मचारी प्रदर्शन कर रहे थे इसी बीच मेरठ के विधायक रविंद्र भड़ाना अपनी गाड़ी में सवार होकर वहां से गुजरी तो कर्मचारियों ने गाड़ी को रोक कर आरक्षण बिल के खिलाफ जोरदार नारेबाजी की और गाड़ी पर लगा भाजपा का झंडा हटा दिया। विधायक ने कर्मचारियों का रुख देख गाड़ी वहीं छोड़ दी और पैदल पैदल चलने लगे। कुछ देर बाद गाड़ी आने पर उसमें सवार होकर पश्चिमी उत्तर प्रदेश की बैठक में भाग लेने के लिए रवाना हो गए।

भाजपाई और कर्मचारी आमने-सामने हुए
हापुड़। भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष लक्ष्मीकांत वाजपेयी को ज्ञापन देने कर्मचारी गढ़ रोड पर पहुंचे तो प्रदेशाध्यक्ष ने मिलने से इंकार कर दिया। इस पर कर्मचारियों ने जोरदार नारेबाजी शुरू कर दी। कर्मचारियों के आक्रोश को देख भाजपा के स्थानीय कार्यकर्ता और पदाधिकारी कार्यक्रम स्थल के गेट पर एकत्र हो गए। कर्मचारी भाजपा के खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे, जबकि भाजपाई अपनी पार्टी के पक्ष में नारेबाजी करने लगे।


पुलिस से नोकझोंक, किसी तरह मामला संभाला
हापुड़। कर्मचारियों के भाजपा की बैठक स्थल पर पहुंचने की सूचना पर सीओ यातायात मंशाराम गौतम, थाना प्रभारी निरीक्षक राजेंद्र सिंह यादव, थानाध्यक्ष हापुड़ देहात विजय कुमार भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच गए। कर्मचारियों जैसे ही कार्यक्रम स्थल में जाने लगे तो पुलिस से नोकझोंक हुई, लेकिन जैसे-तैसे मामला शांत हो गया। पुलिस का यहीं कहना था कि शांति व्यवस्था को खराब न किया जाए।

सरकारी कार्यालयों में कामकाज प्रभावित रहा
हापुड़। प्रमोशन में आरक्षण को लेकर सरकारी कर्मचारियों ने कार्य नहीं किया। कलक्ट्रेट, एचपीडीए, गन्ना विभाग, विकास कार्यालय, कृषि विभाग आदि विभागों में आए लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा।

रेलिंग पर लगे झंडे उतारे, होर्डिंग फाड़े
हापुड़। भाजपा की पश्चिमी उत्तर प्रदेश क्षेत्र की बैठक होने और प्रदेशाध्यक्ष के आगमन को लेकर भाजपाइयों ने गढ़ रोड पर झंडे और होर्डिंग लगवा रखे थे। कर्मचारियों ने काफी संख्या में झंडों को उतार कर होर्डिंग क्षतिग्रस्त कर दिया।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: ‘पद्मावत’ पर बैन को लेकर सुप्रीम कोर्ट की सख्ती का असर दिख रहा है!

सुप्रीम कोर्ट की सख्ती के बावजूद ‘पद्मावत’ पर हो- हल्ला हो रहा है। ऐसे ही विरोध की तस्वीरें दिखाई दी हैं उत्तर प्रदेश के आगरा,सहारनपुर और हापुड़ में जहां पद्मावत का जबरदस्त विरोध हुआ।

23 जनवरी 2018