सीआरपीएफ के जवान ने दिखाई दबंगई, पहुंचा हवालात

Hapur Updated Sun, 16 Dec 2012 05:30 AM IST
गाजियाबाद/हापुड़। दिल्ली-वाराणसी काशी विश्वनाथ एक्सप्रेस में खुद को सीआरपीएफ का दरोगा बताकर आरपीएफ के जवानों को धमकाना महंगा पड़ा। आरपीएफ के जवानों ने उसे हापुड़ रेलवे स्टेशन पर ट्रेन से उतार आरपीएफ के हवाले कर दिया, जिन्होंने कार्रवाई करते हुए हवालात में डाल दिया। इसके बाद पूरे मामले की जानकारी उच्चाधिकारियों को दी गई। जबकि मुरादाबाद कंट्रोल रूम से सीआरपीएफ जवान द्वारा महिला यात्री से छेड़छाड़ की सूचना फ्लैश हुई थी।
काशी विश्वनाथ एक्सप्रेस में आरपीएफ का एस्कार्ट है। शनिवार को एक आरक्षित कोच में सिविल वर्दी में सफर कर रहे एक युवक पर संदेह होने पर आरपीएफ के जवानों ने उससे पूछताछ की। जवानों को युवक ने सीआरपीएफ रामपुर में दरोगा के पद पर तैनात बताया है। उसने अपनी पहचान अजयपाल सिंह पुत्र राजपाल सिंह, गांव पाठलीबाज थाना भगतपुर जनपद मुरादाबाद बताया। आरपीएफ जवानों ने जब पहचान पत्र देखा तो वह सीआरपीएफ में बारबर (नाई) निकला। इस पर उसकी आरपीएफ के जवानों से काफी नोकझोंक हुई। इस के बाद ट्रेन के साथ चल रहे जवानों ने हापुड़ स्टेशन पर आरपीएफ के जवानों के हवाले कर दिया।

ट्रेन में महिला यात्री से छेड़छाड़ की सूचना गलत है। आरपीएफ जवानों से ट्रेन में हैंकड़ी दिखलाने पर सीआरपीएफ के बारबर को गिरफ्तार किया गया था। मुरादाबाद कंट्रोल से प्रारंभिक सूचना सीआरपीएफ के जवान द्वारा महिला यात्री से छेड़खानी की मिली थी। समाचार लिखे जाने तक जवान को जमानत पर छोड़े जाने की बात कही जा रही थी।
- एसएस गंगवार, आरपीएफ पोस्ट प्रभारी हापुड़।

Spotlight

Most Read

Jharkhand

चारा घोटाला: चाईबासा कोषागार मामले में कोर्ट ने सुनाया फैसला, तीसरे केस में लालू दोषी करार

रांची स्थित विशेष सीबीआई अदालत ने चारा घोटाले के तीसरे मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को दोषी करार दिया है। साथ ही पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा को भी दोषी ठहराया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: ‘पद्मावत’ पर बैन को लेकर सुप्रीम कोर्ट की सख्ती का असर दिख रहा है!

सुप्रीम कोर्ट की सख्ती के बावजूद ‘पद्मावत’ पर हो- हल्ला हो रहा है। ऐसे ही विरोध की तस्वीरें दिखाई दी हैं उत्तर प्रदेश के आगरा,सहारनपुर और हापुड़ में जहां पद्मावत का जबरदस्त विरोध हुआ।

23 जनवरी 2018