स्वास्थ्यकर्मियों ने दिया सामूहिक धरना

Hapur Updated Tue, 04 Dec 2012 05:30 AM IST
हापुड़/गढ़। तीन महीने से वेतन नहीं मिलने से भड़के जनपद के स्वास्थ्य कर्मियों ने सोमवार को राष्ट्रीय खसरा अभियान का बहिष्कार किया और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र हापुड़ में एकत्र होकर धरना दिया। बाद में सीएमओ द्वारा दस दिन में वेतन दिलाने के आश्वासन पर स्वास्थ्य कर्मियों का गुस्सा शांत हुआ।
चिकित्सा स्वास्थ्य एवं समन्वय समिति के अध्यक्ष रघुवीर सिंह चौहान के नेतृत्व में जनपद के समस्त स्वास्थ्य कर्मी सोमवार सुबह 9 बजे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र हापुड़ में एकत्र हुए और राष्ट्रीय खसरा अभियान का बहिष्कार कर धरने पर बैठ गए। कर्मचारियों का कहना था कि उन्हें सितंबर से लेकर नवंबर तक का वेतन, 1996 से रुका हुआ एरियर, बोनस और पोलियो के दो चरणों का भुगतान नहीं किया गया है, जबकि वे इन मांगों को मनवाने के लिए कई बार मांग उठा चुके हैं। वेतन न मिलने से उनकी आर्थिक स्थिति डगमगा गई है। करीब चार घंटे के धरने के बाद सीएमओ डा. दिनेश शर्मा द्वारा दस दिन में उक्त सभी मांगों को पूरा कराने का आश्वासन देने पर कर्मियों को गुस्सा शांत हुआ तब जाकर खसरा अभियान शुरू हो सका। एएनएम एवं उपाध्यक्ष चंद्रवती देवी ने बताया कि अगर उनकी मांग 15 दिसंबर तक पूरी नहीं हुई तो से अनिश्चितकाल के लिए कार्य बहिष्कार किया जाएगा। इस दौरान डीपी पालीवाल, मोहनलाल, जीके सक्सेना, गीता चौहान, एनपी सिंह, सत्यपाल सिंह, देवेंद्र सिंह, जीपी गौतम, महेश त्यागी, सोहनलाल समेत बड़ी संख्या में कर्मचारी मौजूद रहे।
उधर, गढ़मुक्‍तेश्वर में वेतन और मानदेय न मिलने पर आर्थिक तंगी में जूझ रहे सेहत कर्मियों ने सामुदायिक अस्पताल में विरोध प्रदर्शन किया। स्वास्थ्य कर्मचारी लिली थॉमस, तारा वर्मा, शशिबाला, राजवती, अलका, सुरेश शर्मा, कमलेश का कहना था कि वर्ष 2011 के कार्तिक पूर्णिमा गंगा स्नान खादर मेले में चलाए गए पल्स पोलियो अभियान का अभी तक मानदेय नहीं मिल पाया है। 1995 के बाद से एरियर और दिवाली का बोनस भी नहीं मिला है। भगवती, विजय लक्ष्मी, नर्मदा, संतोष, विमला, गुरमीत कौर, बलबीर कौर, पंकजाशी का कहना था कि तीन माह से वेतन नहीं मिलने के कारण परिवार की गुजर बसर के लिए दूसरों से कर्ज अथवा दुकानों से उधार सामान खरीदना पड़ रहा है। चौधरी गंगाबल सिंह, सेंसरपाल, रोहताश, मुकेश, जागन सिंह, छंगामल सिंह का कहना था कि लिखित एवं मौखिक तौर पर दुखड़ा सुनाने के बाद भी वेतन और मानदेय नहीं मिल पा रहा, जबकि जीपीएफ एवं डीओ मांग पर भी कोई अमल नहीं हो पाया है। सेहत कर्मियों ने स्वास्थ्य केन्द्र अधीक्षक डॉ. हेमंत कुमार को ज्ञापन में चेतावनी दी है कि अगर रुका हुआ मानदेय और वेतन नहीं दिया गया तो कार्य का बहिष्कार कर अनिश्चितकालीन आंदोलन चलाया जाएगा।

मरीज रहे घंटों परेशान
हापुड़। स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा कार्य बहिष्कार करने पर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र हापुड़ में मरीजों को घंटों परेशानी का सामना करना पड़ा क्योंकि सभी कर्मचारी धरने पर बैठे थे। हालांकि बाद में कार्य बहिष्कार संपन्न होने पर मरीजों का उपचार हो सका।

खसरे का टीका अवश्य लगवाएं : सीएमओ
हापुड़। सीएमओ डा. दिनेश शर्मा का कहना है कि शिशु मृत्यु दर में कमी लाने के उद्देश्य से 9 माह से लेकर 10 वर्ष तक के सभी बच्चों को खसरे के टीके लगाए जाएंगे। जनपद में 2 लाख 40 हजार बच्चों को टीके लगाने का लक्ष्य रखा गया है। उन्होंने बताया कि खसरे की बीमारी में बुखार एवं चकत्ते, खांसी, नाक बहना और आंखें लाल हो जाती हैं। अपने बच्चों को टीके अवश्य लगवाएं। उन्होंने बताया कि प्रथम चरण में स्कूलों में, दूसरे और तीसरे चरण में स्वास्थ्य उपकेंद्र, अंागनबाड़ी केंद्र सहित ईंट भट्टों पर टीके लगाए जाएंगे।

780 को बच्चों को लगे टीके
पिलखुवा। स्वास्थ्य विभाग ने सोमवार को अभियान चलाकर 780 बच्चों को खसरा की बीमारी से बचने के लिए टीके लगाए। राजकीय अस्पताल के चिकित्सा प्रभारी डा. ब्रह्मदयाल ने बताया कि इस सप्ताह स्कूलों में टीके लगेंगे और अगले दो सप्ताह डोर टू डोर अभियान चलेगा।

उक्त सभी कर्मचारियों के वेतन का बजट पहले गाजियाबाद जिले में आ गया था, लेकिन वहां से उन्होंने हापुड़ को भेजने की बजाय वापस भेज दिया। उच्चाधिकारियों से वार्ता कर ली गई है। उम्मीद है कि जल्द बजट आ जाएगा और कर्मियों को वेतन दिला दिया जाएगा।
- डा. दिनेश शर्मा, सीएमओ

Spotlight

Most Read

Lucknow

ओपी सिंह कल संभालेंगे यूपी के डीजीपी का पदभार, केंद्र ने किया रिलीव

सीआईएसएफ के डीजी ओपी सिंह को रिलीव करने की आधिकारिक घोषणा रविवार को हो गई।

21 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: इस बंदर और कुत्ते की दोस्ती एक मिसाल है

अक्सर हम सब ने बंदर और कुत्ते की दुश्मनी देखी है लेकिन हापुड़ में बंदर और कुत्ते के बच्चे का प्यार इन दिनों चर्चा का विषय बना हुआ है।

15 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper