मसूरी बवाल से सबक पिलखुवा में फ्लैग मार्च

Hapur Updated Thu, 20 Sep 2012 12:00 PM IST
पिलखुवा। मसूरी बवाल के बाद पुलिस, प्रशासन पूरी सतर्कता बरत रहा है। बुधवार को डीएम और एसपी ने इलाके में अमन चैन कायम रखने के लिए क्षेत्र के लोगों से अपील की।
बांके बिहारी मंडप में बुधवार दोपहर हुई बैठक में डीएम चक्रपाणि यादव ने कहा कि झगड़ा हो या दंगा जानमाल की हानि के अलावा कुछ नहीं होता। एसपी ने कहा कि खुराफाती अपना काम करके भाग जाते हैं लेकिन परेशानी जनता को होती है। इसलिए पब्लिक को अफवाहों से सावधान रहना चाहिए। उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार संघ के प्रदेश महासचिव प्रवीण मित्तल ने कहा कि हैंडलूम नगरी में हिंदू-मुस्लिम भाई मिलजुलकर रहते हैं। सन 1947 से आज तक यहां कभी कोई सांप्रदायिक विवाद नहीं हुआ। कारी फराकत ने क्षेत्र के लोगों से अमन,चैन के साथ रहने की अपील की। आलमपुर के सुनील पंडित और कांग्रेसी नेता विकास शर्मा ने कहा कि कौमी विवाद चंद लोगों की साजिश होती है। मसूरी में हुआ बवाल इसका ताजा उदाहरण है। व्यापारी नेता संजय बंसल अकेला, वस्त्र व्यापार संघ के प्रधान हरीश अग्रवाल, पूर्व प्रधान विनय अग्रवाल, कांग्रेस व्यापार प्रकोष्ठ प्रदेश सचिव ज्ञानेंद्र गुप्ता, दिनेश यादव, कय्यूम अली, रफाकत प्रधान, कुशलेश गर्ग, राजू तेवतिया, उदयवीर प्रधान, सुंदर तेवतिया, अरुण चेयरमैन आदि रहे।
भारी पुलिस फोर्स देख सहमे लोग
पिलखुवा। मसूरी उपद्रव के बाद सतर्कता के चलते बुधवार को पिलखुवा में डीएम और एसपी के नेतृत्व में फ्लैग मार्च निकाला गया। भारी संख्या में पुलिस फोर्स को देखकर लोग सहम गए। डीएम चक्रपाणि यादव और एसपी अब्दुल हमीद, एएसपी ललित सिंह, एसडीएम धौलाना यशवर्धन श्रीवास्तव, सीओ हापुड़ पवन यादव ने फ्लैग मार्च से पहले पुलिस और पीएसी के जवानों को कतार में खड़ा करके दंगा नियंत्रण योजना का रिहर्सल कराया। डीएम और एसपी ने पुलिसकर्मियों से कहा कि हमें हमेशा अलर्ट और तैयार रहना होगा। कभी-कभी जरा सी लापरवाही ही बडे़ फसाद का कारण बन जाती है। कोतवाली से शुरू होकर फ्लैग मार्च सद्दीकपुरा, गांधी बाजार गढ़ी मोहल्ला, बस अड्डा, जवाहर बाजार, बीस फुटा रोड, रेलवे रोड, अशोक नगर समेत संवेदनशील मोहल्लों से गुजरा। जूतों की ठक-ठक की आवाज सुनकर लोग घरों से बाहर निकले और भारी पुलिस बल देखकर थोड़ा सहम गए। हालांकि फ्लैग मार्च की सूचना पर उन्होंने राहत की सांस ली।

Spotlight

Most Read

National

सियासी दल सहमत तो निर्वाचन आयोग ‘एक देश एक चुनाव’ के लिए तैयार

मध्य प्रदेश काडर के आईएएस अधिकारी और झांसी जिले के मूल निवासी ओपी रावत ने मंगलवार को मुख्य चुनाव आयुक्त का कार्यभार संभाल लिया।

24 जनवरी 2018

Rohtak

बिजली बिल

24 जनवरी 2018

Rohtak

नेताजी

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: ‘पद्मावत’ पर बैन को लेकर सुप्रीम कोर्ट की सख्ती का असर दिख रहा है!

सुप्रीम कोर्ट की सख्ती के बावजूद ‘पद्मावत’ पर हो- हल्ला हो रहा है। ऐसे ही विरोध की तस्वीरें दिखाई दी हैं उत्तर प्रदेश के आगरा,सहारनपुर और हापुड़ में जहां पद्मावत का जबरदस्त विरोध हुआ।

23 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper