दहशत में बाजार बंद, जाम से बसों को दूसरे रास्ते से निकाला

Hamirpur Updated Mon, 01 Oct 2012 12:00 PM IST
मुस्करा (हमीरपुर)। कसबे में मासूम की हत्या के बाद दहशत होने से रविवार को बाजार नहीं खुले। बाजार लगने का दिन होने के बाद व्यापारी सामान समेट कर लौट गए। सबसे अधिक नुकसान सब्जी वालों को हुआ। उपद्रव को देखते हुए कसबे के दुकानदाराें ने दुकानें बंद रखी। स्थिति यह रही चाय-पान की दुकानें भी नहीं खोलीं। जाम में वाहनाें के फंसने से यात्रियों को दिक्कत उठानी पड़ी। जाम की सूचना मिलने पर ज्यादातर ट्रक चालक अपने वाहनों को कसबे से दूर ढाबाें पर रोक लिया।
आवागमन करीब 6 घंटे तक ठप रहा। पुलिस ने राठ, हमीरपुर, मौदहा व महोबा मार्ग का आवागमन को बंद करा दिया। राठ डिपो से चलने वाली बसों का सबसे अधिक नुकसान हुआ। राठ एआरएम एपी शंखवार ने बताया कि रूट में समय से बसे न चलने से करीब 20 हजार का नुकसान उठाना पड़ा। इसी तरह महोबा डिपो की इस रूट से जाने वाली बसों को गहरौली इमिलिया से होकर निकालना पड़ा।
मासूम की हत्या से परिजनों की हालत बदहवास जैसी हो गई। मां बच्चे के शव को सीने में लगाकर बिलखती रही। वहीं पिता शव को देखकर गुमशुम रहा। मासूम की हत्या पर परिजनों के करुण क्रंदन से भीड़ में मौजूद लोग भी अपने आंसुओं को नहीं रोक पाए। गौरतलब हो कि रामकिशन खेतीबाड़ी करने के साथ मेहनत मजदूरी कर अपने परिवार का लालन पालन कर रहा है। उसके तीन पुत्र अशोक, विक्रम व मुन्ना है। जिसमें सिरफिरे युवक ने रविवार को सुबह मुन्ना की कुल्हाड़ी से काटकर हत्या कर दी। परिजनों की इस हालत पर प्रशासन ने हर संभव मदद का आश्वासन दिया है।
चरखारी पुलिस गंभीर होती तो ये घटना न होती
मुस्करा (हमीरपुर)। सिरफिरा युवक नंदराम 28 सितंबर को दिल्ली से चरखारी स्टेशन पर उतरा और अपने रिश्तेदार के यहां राइनपुर मोहल्ला में चला गया। यहां भी बकरा पकड़ने के विवाद में रामकुमार उर्फ रामकिशोर (18) को पत्थर मारकर घायल कर दिया। इस मामले को लेकर चरखारी पुलिस गंभीर होती तो आज हत्या जैसी घटना नहीं होती। मालूम हो कि नंदराम अपने मां-बाप के साथ दिल्ली में रहकर काम करता है। 28 सितंबर को ही वह चरखारी आया। चरखारी पुलिस का कहना है कि घटना के बाद उसे पकड़ा गया था लेकिन किसी ने तहरीर नहीं दी थी।
एक महीने बाद फिर उग्र हुए कसबे के लोग
मुस्करा (हमीरपुर)। दो महीने में कसबे में दूसरी बार दहशत का माहौल रहा। 4 अगस्त को थाने के अंदर हत्याकांड होने पर गुस्साई भीड़ ने जमकर बवाल किया था। पुलिस ने भी भीड़ को तितर बितर करने के लिए आंसू गैस छोड़कर भीड़ को काबू किया था। इस घटना में पुलिस कर्मियों सहित भीड़ में भी कई आम लोगों को चोटें आई थी। विवार को एक सिरफिरे युवक ने एक बकरे को काटने के बाद एक मासूम बालक की कुल्हाड़ी से हत्या कर दी। जिससे पूरे कसबे में सनसनी फैल गई। समय रहते पुलिस के सक्रिय नहीं होने से कसबे के लोगों में आक्रोश है। पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगा लोगों ने शव सड़क पर रखकर जाम लगा दिया। पुलिस के सख्ती बरतने पर भीड़ पथराव कर दिया। इस घटना ने कसबे में दहशत का माहौल है।
घटना क्रम
सुबह करीब 7.00 बजे सिरफिरे नंदराम ने बकरे को काट डाला।
सुबह 8.00 बजे खेतों से वापस आ रहे मुन्ना पर किए वार।
सुबह 8.15 बजे नंदराम खून से सनी कुल्हाड़ी के साथ कालका मंदिर घुसा।
सुबह 8.30 बजे भीड़ ने नंदराम को मंदिर में घेरा।
सुबह 8.45 बजे सिरफिरे नंदराम ने कुल्हाड़ी लहराता हुआ भीड़ को खदेड़ा।
सुबह 8.50 बजे भीड़ ने हत्यारोपी नंदराम को दबोचा।
सुबह 9.00 बजे परिजनों ने शव को सड़क पर रखकर लगाया जाम।
सुबह 9.15 बजे घटना स्थल पर पहुंचे सीओ मौदहा एके मौर्या।
सुबह 9.45 बजे घटना स्थल पर पहुंचे एसडीएम मौदहा मनोज कुमार पंाडेय।
सुबह 10.00 बजे सीओ व एसडीएम ने भीड़ को समझाने का किया प्रयास।
सुबह 10.30 बजे परिजनों ने मुआवजे के साथ जिलाधिकारी को मौके पर आने की मांग।
दोपहर 2.30 बजे मौके पर पहुंचे एडीएम आरसी श्रीवास्तव।
दोपहर 2.35 बजे पर एडीएम ने भीड़ को मदद दिलाने का दिया आश्वासन।
दोपहर 2.40 बजे परिजनों के न मानने पर पुलिस ने शुरू किया लाठी चार्ज।
दोपहर 3.00 बजे पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर भेजा राठ।
दोपहर 3.15 बजे पुलिस ने खाली कराई सड़क, आवागमन हुआ शुरू।

Spotlight

Most Read

Delhi NCR

दिल्ली-एनसीआर में दोपहर में हुआ अंधेरा, हल्की बार‌िश से गिरा पारा

पहले धुंध, उसके बाद उमस भरे मौसम और फिर हुई हल्की बारिश ने दिल्ली में हो रहे गणतंत्र दिवस के फुल ड्रेस रिहर्सल में विलेन की भूमिका निभाई।

23 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: हमीरपुर में इस वजह से एक साथ 30 से ज्यादा बच्चे बीमार

हमीरपुर के थाना कुरारी में एक सरकारी स्कूल के तीस से ज्यादा बच्चों की हालत बिगड़ने के बाद उन्हें सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया।

18 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper