बारा वफात में गूंजे अल्लाह हो अकबर के नारे

Hamirpur Updated Sat, 26 Jan 2013 05:30 AM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें
हमीरपुर। बारा वफात पूरे जिले में धूमधाम से मनाया गया। हजारों लोग जुलूस में इस्लामी झंडे के साथ शामिल हुआ। जुलूस के दौरान अल्लाह हो अकबर व नारे रिशालत या रसूल अल्लाह की सदाए गूंजती रहीं। इसके साथ ही मुस्लिम वर्ग के लोग इस्लामी लिबास में नजर आए। सुमेरपुर कसबे में मोहम्मदिया जुलूस में डीजे व घोड़े भी शामिल रहे।
विज्ञापन

ईद उलमिलादुन्नवी को लेकर शुक्रवार को नगर में बड़ी धूमधाम से जुलूस निकाला गया। मोहल्ला सैय्यदवाड़ा में हाफिज मौलाना नजमुद्दीन नदवी ने शरीतुन्नवी का बयान किया। वहीं ग्वालटोली में नातिया मुशायरे का आयोजन हुआ। शुक्रवार को कालपी चौराहा, कजियाना, बदनपुर, सैय्यदवाड़ा, अमन शहीद, पटकाना, खालेपुरा, सूफीगंज चौराहा, सब्जीमंडी व ग्वालटोली में सुबह 8 से 10 बजे के बीच परचम कुशाई की रस्म अदा की गई। शाम को जुलूस सूफीगंज चौराहे में संपन्न हो गया। वहीं किंग रोड़ व सूफीगंज मोहल्लें में गैर मुस्लिमों की छतों से जुलूस पर पुष्प वर्षा कर आपसी सौहार्द की मिसाल पेश की गई। यह पुष्प वर्षा रामजी जनरल स्टोर, प्रेमभूषण निगम, डा.परशुराम के आवासो की छतों से की गई। वहीं अवेयरनेस सोसाइटी के अध्यक्ष नफीस खां भगवन ने सूखे मेवे वितरित किए।

सुमेरपुर प्रतिनिधि के अनुसार कसबे में जुमे की नमाज के बाद जुलूसे मोहम्मदिया निकाला गया। जिसमें इमिलिया थोक से आया जुलूस नेहा नर्सिंग होम के पास ईदगाह का जुलूस मिलकर कसबे के हाइवे मार्ग पर होकर गुजरा। इस दौरान सजे धजे घोड़ों में मुस्लिम बच्चें इस्लामी परचम लिए हुए अगुवाई करते नजर आए। वहीं डीजे की धुनों पर मोहम्मद पैगंबर के आने को लेकर नाते पाक जारी रही। इस दौरान लोगों ने नारे तकबीर व नारे रिसालत की सदाए बुलंद करते रहे। जुलूस को सकुशल संपन्न कराने के लिए थानाध्यक्ष सुभाष कुमार यादव मय फोर्स के डटे रहे। सरीला प्रतिनिधि के अनुसार कसबे में बारावफात का जुलूस पूरे जोशोखरोश के साथ निकाला गया। सैकड़ो की संख्या में मुस्लिम वर्ग के लोग इस्लामी झंडे के साथ जुलूस में शिरकत की। मुस्करा प्रतिनिधि के अनुसार कसबे में जुलूसे मोहम्मदिया बड़ी शान के साथ निकाला गया। इस दौरान जुलूस के रास्तों को जमकर सजाया गया। साथ ही लोगों ने अपने घरों व मस्जिदों में बिजली की आकर्षक सजावट की।
बारा वफात पर निकाला जुलूस
मौदहा। यौमे पैदाइश बारावफात पर शुक्रवार सुबह 8 बजे कसबे के आधा दर्जन से अधिक मदरसों के बच्चों ने हाथों में हरे झंडे, छोटी झंडिया तथा सिर पर हरा साफा बांध नवी की पैदाइश का जश्न धूमधाम से मनाया। सड़कों पर जुलूस निकाल नाते पढ़ीं। इसी के बाद सौदागर कमेटी की तरफ से एक बड़ा इस्लामी जुलूस निकला। बड़ी जामा मस्जिद से दिन में 2:30 बजे एक विशाल इस्लामी जुलूस निकाला। जिसमें छोटे बड़े हजारों हरे झंडे लिए नात पाक पढ़ते व आमदे रसूल पर सलाम भेजते हुए चल रहे थे। यह शाम 6 बजे बड़ी जामा मस्जिद में फातिहा के बाद समाप्त हुआ। इस दौरान उपजिलाधिकारी, क्षेत्राधिकारी, बड़ी संख्या में पुलिस बल व आला अधिकारी मौजूद रहे। वहीं मदनी काफिले के लोगों ने छोटी छोटी झंडियां व झंडे लहराते हुए लोगों को अमन का पैगाम दिया।
इस्लामी परचमों के साथ निकला जुलूस
राठ (हमीरपुर)। कोटबाजार स्थित जामा मस्जिद से शुरू हुआ बाराबफात का जुलूस चौबटटा, मुगलपुरा, बजरिया, बुधौलियाना, कोटबाजार से होता हुआ फैज ए आम इंटर कालेज में एक सभा में तब्दील हो गया। जुलूस में मुस्लिम युवक पूरे उत्साह और अल्ला हो अकबर के नारे लगाते हुए चल रहे थे। हजारों की तादाद में इस्लामी परचम लिए लोग नातिया कलाम और नबी की शान में डीजे पर बज रहे गीतों की धुनों पर थिरकते चल रहे थे।कसबे के युवा समाजसेवी उमेश यादव ने बडे़ मंदिर में अनेक लोगों ने जगह जगह हलुआ, चाय, पानी, शर्बत से जुलूस में शामिल लोगों को पेश किया। शांति व्यवस्था बनाये रखने के लिए एसडीएम रामयश गौतम और सीओ जीतेंद्र नाथ सहित कोतवाली इंचार्ज अंगद प्रताप सिंह सहित बडी संख्या में पुलिस बल साथ रहा।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X