कानपुर-कबरई हाईवे का चौड़ीकरण नए साल से

Hamirpur Updated Sun, 23 Dec 2012 05:30 AM IST
अंतिम एनओसी मिली, डेढ़ साल में बन जाएगा हाईवे
अगले सप्ताह किसी भी दिन हो सकता है भूमि पूजन
हमीरपुर। कानपुर से कबरई तक नेशनल हाईवे 86 के चौड़ीकरण का रास्ता पूरी तरह साफ हो गया है। सेकेंड स्टेज की एनओसी मिल गई है। जिससे इस मार्ग के निर्माण में आने वाली सभी बाधाएं दूर हो चुकी हैं। हाईवे अथारिटी ने अगले हफ्ते भूमि पूजन के बाद नए साल में चौड़ीकरण का काम शुरू करने का निर्णय लिया है। हाईवे को तीन मीटर चौड़ा किया जाएगा। भूमि पूजन के बाद 18 माह के अंदर हाईवे का निर्माण पूर्ण करना है।
सड़क परिवहन व राजमार्ग मंत्रालय द्वारा कानपुर से कबरई तक नेशनल हाइवे संख्या 86 का निर्माण सार्वजनिक निजी भागीदारी के माध्यम से करवाया रहा है। इस सड़क निर्माण में एशियन डेवलपमेंट बैंक, जापानी बैंक, विश्व बैंक तथा निजी क्षेत्रों के आर्थिक सहयोग से चौड़ीकरण होना है। कुल 122.77 किमी का हाइवे 36 गांवों को जोड़ते हुए गुजरेगा। इस हाइवे में तीन बड़े पुल, सात छोटे पुल, मुख्य जंक्शन पांच व 138 पुलिया पड़ रही हैं। प्रथम चरण की एनओसी नवंबर में मिलते ही हाइवे अथारिटी ने पुलियों आदि का कार्य प्रारंभ कर दिया है। जबकि दो दिन पहले 20 दिसंबर को सेकेंड स्टेज यानी फाइनल स्टेज की भी एनओसी मिल गई है। जिसके चलते अब इस मार्ग का निर्माण बड़ी तेजी से शुरू होने की उम्मीद है। हाइवे के प्रोजेक्ट मैनेजर नवीन मिश्रा ने बताया कि सेकेंड स्टेज की एनओसी मिलने के बाद कार्य प्रारंभ करने के लिए हाइवे अथारिटी से अनुमति मांगी गई है। हाईवे को दोनों तरफ डेढ़-डेढ़ मीटर चौड़ा किया जाएगा। हाईवे अभी सात मीटर चौड़ा है। बताया कि नए साल का शुभारंभ होने के साथ इस हाइवे का भी भूमि पूजन होगा और साथ ही चौड़ीकरण का काम शुरू हो जाएगा। उन्होंने बताया कि काम शुरू होने के बाद 18 माह के अंदर हाईवे का निर्माण पूर्ण करना है।
3347 पेड़ काटने की कार्रवाई को पत्र जारी
हमीरपुर। मार्ग के दोनों साइडों पर खड़े पेड़ों की कटान के लिए हाइवे ऑथरिटी ने प्रदेश सरकार को पत्र जारी कर दिया है। इसके चलते पेड़ों की कटान भी जल्द शुरू होने की उम्मीद है। फिलहाल कानपुर से कबरई तक 3347 पेड़ो की कटान होनी है। पेड़ों की कटान संबंधित जिले का वन विभाग करेगा। उधर वन विभाग के एसडीओ एलके गिरि ने बताया कि उन्हें एनओसी मिलने की जानकारी मिली है। लेकिन अभी तक विभाग में अधिकृत पत्र नहीं आया है। जैसे ही पत्र प्राप्त होगा कार्य प्रारंभ करा दिया जाएगा। कहा कि जिले में करीब 1400 पेड़ों की कटान होनी है। जिसकी जिम्मेदारी वन निगम को सौंपी गई है।
12 वर्षो तक कार्यदाई संस्था करेगी देखरेख
हमीरपुर। पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप से बनने वाले हाइवे के रखरखाव का कार्य कार्यदाई संस्था 12 सालों तक करेगी। यह अवधि सड़क निर्माण की तिथि से आगामी 12 सालों तक होगी। हाइवे के तकनीकी प्रबंधक पी लाल ने बताया कि कार्यदाई संस्था को क्वांटिटी व क्वालिटी को दुरूस्त रखने के लिए निर्देशित किया गया है। जब वाहन चालकों से टोल टैक्स वसूल किया जाएगा तो यह जिम्मेदारी बनती है कि उन्हें अच्छी सड़क दी जाए। 12 साल के अंदर कहीं भी सड़क टूटती या खराब होती है तो संबंधित ठेकेदार की जिम्मेदारी होगी कि सड़क को तत्काल बनाए। ब्यूरो

Spotlight

Most Read

Chandigarh

RLA चंडीगढ़ में फिर गलने लगी दलालों की दाल, ऐसे फांस रहे शिकार

रजिस्टरिंग एंड लाइसेंसिंग अथॉरिटी (आरएलए) सेक्टर-17 में एक बार फिर दलाल सक्रिय हो गए हैं, जो तरह-तरह के तरीकों से शिकार को फांस रहे हैं।

21 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: हमीरपुर में इस वजह से एक साथ 30 से ज्यादा बच्चे बीमार

हमीरपुर के थाना कुरारी में एक सरकारी स्कूल के तीस से ज्यादा बच्चों की हालत बिगड़ने के बाद उन्हें सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया।

18 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper