विज्ञापन

सड़क पर गिरे हाईटेंशन तार की चपेट में आए बाइक सवार, दो की मौत

क्राइम डेस्क, अमर उजाला, गोरखपुर। Updated Tue, 08 May 2018 12:54 AM IST
हादसे के बाद घ्ार में मातम पसर गया।
हादसे के बाद घ्ार में मातम पसर गया। - फोटो : Amar Ujala
विज्ञापन
ख़बर सुनें
बिजली विभाग की लापरवाही से गुलरिहा इलाके के दो युवकों की मौत हो गई। आर्केस्ट्रा देखकर घर लौट रहे एक बाइक पर सवार तीन युवक रास्ते में गिरे हाईटेंशन तार की चपेट में आ गए। हादसे के शिकार दो युवकों ने मौके पर ही दम तोड़ दिया जबकि तीसरा तेज झटका लगने से छिटककर एक गड्ढे में जा गिरा। इस दौरान बाइक भी जलकर राख हो गई।
विज्ञापन
हादसे के बाद ग्रामीणों के आक्रोश को देखते हुए बिजली निगम के अधिकारी मौके पर नहीं गए। बाद में पुलिस ने लोगों को समझाकर शांत कराया। बिजली निगम के मुख्य अभियंता ने घटना की जांच का आदेश दिया है। उधर, मृतक मोहन के पिता रामलखन की तहरीर पर पुलिस ने बिजली निगम के अज्ञात अधिकारियों व कर्मचारियों के खिलाफ गैर इरादतन हत्या व काम में लापरवाही बरतने का केस दर्ज कर लिया है।

हादसा रविवार देर रात को हुआ। गुलरिहा थानाक्षेत्र के मोहद्दीनपुर निवासी रियाजुद्दीन (30) पुत्र गयासुद्दीन, मोहन (28) पुत्र लखन और गोलू (15) पुत्र मुख्तार पास के ही गांव जमुनहवा में आर्केस्ट्रा देखने गए थे। रात करीब दो बजे कार्यक्रम समाप्त होने के बाद तीनों एक ही बाइक से गांव लौट रहे थे। करतहिया गांव के सामने उनकी बाइक रास्ते में गिरे हाई वोल्टेज तार (11000 वॉट) में उलझ गई।

तार में प्रवाहित हो रहे करंट से रियाजुद्दीन और मोहन बुरी तरह झुलस गए जबकि गोलू झटका लगने से गड्ढे में जा गिरा। होश में आने पर गोलू ने गांव में जाकर घटना की जानकारी दी। जब तक गांव के लोग मौके पर पहुंचते दोनों युवकों की मौत हो चुकी थी। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

दोनों युवकों की कमाई से जलते थे उनके परिवार के चूल्हे
हाईटेंशन तार के टूटने के बाद भी न चेतने वाले बिजली महकमे की जिम्मेदारी की जवाबदेही भले ही तय हो जाए, पर इसके चलते जान गंवाने वाले दो युवकों के परिवारों को गहरा सदमा पहुंचा है। दोनों युवक अपने-अपने परिवार के पालनहार थे। मोहन और रियाजुद्दीन की कमाई से ही उनके परिवार के लिए रोटी का इंतजाम होता था। इस हादसे से जहां तीन साल के बच्चे के सिर से पिता का साया उठ गया तो बहनों ने इकलौते भाई को हमेशा के लिए खो दिया। 

सोमवार की सुबह जब गुलरिहा के मोहद्दीनपुर गांव में करंट से मोहन और रियाजुद्दीन की मौत की खबर आई तो परिवार के लोग सकते में आ गए। सहसा उन्हें इस बात का यकीन ही नहीं हुआ कि घर के मुखिया की भूमिका निभाने वाले अब इस दुनिया में नहीं रहे। इस हादसे मेें जान गंवाने वाले मोहन के पिता रामलखन काफी दिनों से बीमार हैं। मोहन का परिवार गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन करने वालों में से एक है। मोहन की दो बहनें पुष्पा (22) और निशा (19) हैं। दोनों की शादी की चिंता तो मोहन को थी ही, बीमार पिता के इलाज की जिम्मेदारी भी उसके ऊपर थी। दूसरे की गाड़ी चलाकर किसी तरह वह परिवार का खर्च उठाता था।

वहीं रियाजुद्दीन के दो भाई और तीन बहनें हैं। पांच वर्ष पूर्व उसकी शादी हुई थी। तीन वर्ष का एक बेटा है। पेशे से दर्जी रियाजुद्दीन के घर का हालत भी खस्ता है। बीपीएल कार्ड होने के चलते सरकारी राशन की दुकान से अनाज मिल जाता है। बाकी का खर्च रियाजुद्दीन खुद उठाता था। दोनों बहनें मरजीना खातून और जरीना खातून की शादी हो चुकी है, जबकि तीसरी बहन हसीना की शादी नहीं हुई है। रियाजुद्दीन की मौत की सूचना पाकर बहनों का बुरा हाल है। वहीं उसका मासूम बेटा पिता की मौत से अंजान है। पत्नी का रो-रोकर बुरा हाल है। बेटे को बार-बार सीने से लिपटाकर वह दहाड़े मारने लग रही है। यह दृश्य देखकर मौजूद सभी की आंखें नम हो गईं। पड़ोसी और रिश्तेदार भी फफक पड़े। 

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News App अपने मोबाइल पे|
Get all crime news in Hindi. Stay updated with us for all breaking hindi news.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Gorakhpur

आसानी से वोटर बनने का 28 को आखिरी मौका

मंडल के सभी बूथों पर फार्म के साथ मौजूद रहेंगे बीएलओ 31 अक्तूबर तक ही चलेगा मतदाता पुनरीक्षण अभियान

23 अक्टूबर 2018

विज्ञापन

Related Videos

#Lucknow विवेक तिवारी हत्याकांड पर सीएम ने कही सीबीआई जांच की बात

एप्पल के एरिया मैनेजर विवेक तिवारी की लखनऊ में सिपाही द्वारा गोली मारकर हत्या के मामले में मुख्यमंत्री योगी नाथ ने कहा कि ये एनकाउंटर नहीं है। जरूरत पड़ी तो सीबीआई जांच भी कराई जाएगी।

29 सितंबर 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree