नागा बाबा बुदबुदाए, ‘वाह भाई, यहां भी सिस्टम।’

Gorakhpur Updated Wed, 07 May 2014 05:30 AM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
गोरखपुर। सुबह आठ बजे का वक्त। गोरखनाथ मंदिर स्थित भाजपा के केंद्रीय चुनाव कार्यालय पर कार्यकर्ताओें की आमादगी बढ़ गई थी। कुछ कार्यकर्ता प्रचार सामग्री लेने के लिए खड़े थे। तभी साधु की वेशभूषा में एक सज्जन आए, जिन्हें देखते ही कुछ कार्यकर्ताओं ने कहा ‘आइए, नागा बाबा।’ नागा बाबा भी सीधे उस कमरे में पहुंचते हैं जहां प्रचार सामग्री दी जा रही थी। तपाक से बोले, ‘सौ हैंडबिल, कुछ टोपियां आदि चाहिए।’ उधर से पूछा जाता है ‘बाबा, टोकन कहां है।’ यह सुनते ही अचरज भरी निगाहों से बाबा बोलते हैं ‘टोकन, कैसा टोकन।’ बगल में एक कार्यकर्ता उन्हें समझाता है कि यहां सब कुछ सिस्टम से हो रहा है। यह सुनकर नागा बाबा बुदबुदाते हैं, ‘वाह भाई, यहां भी सिस्टम।’
विज्ञापन

तभी कुछ महिला कार्यकर्ता आती हैं और पीछे हॉल में बैठकर बातचीत करने लगती हैं। उनका नेतृत्व डॉ. सुषमा श्रीवास्तव और डॉ. संगीता कर रही थीं। थोड़ी देर बाद एक मास्टर साहब आते हैं और पूछते हैं, ‘आप लोग कहां जाएंगी।’ जवाब मिलता है, ‘रमदत्तपुर के आसपास।’ मास्टर साहब कहते है, ‘सुनिये मैडम...आइए नाश्ता तैयार है।’ सब नाश्ता करने चली जाती हैं। कुछ देर बाद करीब 60 साल के एक बुजुर्ग गले में पार्टी का गमछा डाले मुख्य द्वार से दाखिल होते हैं। उन्हें देखते ही कुछ कार्यकर्ता मजाकिया लहजे में कहते हैं, ‘आ गए योगी जी के मुलायम।’ सुनकर अटपटा लगा। एक कार्यकर्ता से पूछा तो उसने कहा, ‘तप्पे यादव डोहरिया के रहने वाले हैं। रोज सुबह छह बजे तक मंदिर आ जाते हैं। योगी जी जब सुबह के पहर परिसर में घूमते हैं तो तप्पे यानी मुलायम भी उनके साथ होते हैं।’ तभी तप्पे से एक कार्यकर्ता ने पूछ लिया, ‘अरे आज सुबह क्या हुआ।’ तप्पे बोले, ‘महराज जी ने पहले तो क्षेत्र के बारे में पूछा और बाद में कुछ चुटकुले सुनाए।’ तप्पे ने वही चुटकले सुनाए तो सभी हंसने लगे। तभी नाश्ता करकर महिला कार्यकर्ता आ गईं। उनके साथ मौजूद विजय सिंह कहते हैं, ‘चलिए गाड़ी में बैठिये, बहुत देर हो गई।’ मास्टर साहब कहते हैं, ‘दोपहर एक बजे लंच तैयार रहेगा।’ सब हंसने लगते हैं। महिलाएं कार्यालय से बाहर निकलती हैं तो गेट पर एमपी इंटर कॉलेज केे प्रिंसिपल रामजन्म सिंह आ जाते हैं। महिला कार्यकर्ताओं को कुछ जरूरी दिशा निर्देश देते हैं और कहते हैं, ‘मैं जा रहा हूं बूथ पर कार्यकर्ताओं के पैकेट तैयार करने। 1956 बूथ हैं और दो सेट तैयार करने हैं। कोई दिक्कत होगी तो बताइएगा। योगी जी रात में आएंगे, उनको रिपोर्ट करनी है।’
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us