बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

शास्त्री चौक से हांसूपुर तक हटाए गए अवैध कब्जे

Gorakhpur Updated Tue, 12 Feb 2013 05:30 AM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
गोरखपुर। अतिक्रमण के खिलाफ दूसरे चरण का अभियान सोमवार से फिर शुरू हो गया। पहले दिन शास्त्री चौक से, अलहलादपुर, पाण्डेयहाता तिराहा होते हुए हांसूपुर तक अतिक्रमण हटाया गया। कुछ स्थानों पर अतिक्रमण हटाने वाली नगर निगम की टीम से लोगों की हल्की नोंकझोंक भी हुई लेकिन पुलिस वालों के तेवर देख विरोध करने वाले शांत हो गए। इस दौरान खुर्ररमपुर मोहल्ले के पास स्थित मंदिर की आड़ में किया गया अतिक्रमण भी ध्वस्त कराया गया तो नार्मल चौराहे के पास एक रसूखवाले का कब्जा नहीं हटाने पर लोगों में आक्रोश भी दिखा। स्थानीय लोगाें ने नगर निगम पर अतिक्रमण अभियान के दौरान भेदभाव बरतने का आरोप लगाया। मंगलवार को धर्मशाला चौराहा से लेकर बाबीना होटल होते हुए तरंग क्रासिंग तक के रूट का अतिक्रमण हटाया जाएगा।
विज्ञापन

दोपहर 1.45 बजे से शास्त्री चौक से अतिक्रमण हटाने का काम शुरू हुआ। इस दौरान सेंट एंड्रयूज इण्टर कालेज के सामने एक चिकन शॉप के पीछे अतिक्रमण कर खड़ी की गई दीवार को ढहा दिया गया। कार्रवाई शुरू होने के पहले ही आस-पास के दुकानदारों ने विरोध शुरू कर दिया। निगम के अफसरों और उनमें कुछ देर तक नोंक झोंक भी हुई लेकिन जैसे ही पुलिस ने सख्ती दिखाई वे पीछे हट गए। निगम का बुलडोजर वहां से रास्ते के दोनों तरफ का अतिक्रमण हटाते हुए भगत चौराहा पहुंचा और वहां रोड तक अतिक्रमण करने वाले फल विक्रेताओं के कब्जे को ध्वस्त कर दिया। इसी तरह नार्मल रोड पर पीएनबी के सामने कुछ दुकानदारों द्वारा सड़क के किनारे खड़ी कर दी गई करीब दो -तीन फुट की दीवार पर भी निगम का बुलडोजर चला। इस पर दुकानदारों ने टीम के सदस्यों से तीखी नोंकझोंक की। पहले दुकानदारों ने धौंस जमाने की कोशिश की लेकिन पुलिस के आगे जब उनकी एक न चली तो वे झल्लाते हुए पीछे हट गए। इसके बाद बुलडोजर ने काम शुरू किया और देखते ही देखते सभी दीवारों को ध्वस्त कर दिया गया।

वहां से टीम रास्ते की कुछ गुमटियों और झोपड़ियों को हटाते हुए नार्मल चौराहे पर पहुंची। वहां कुछ गुमटियों और झोपड़ियों को तोड़ा गया लेकिन एक रसूख वाले की दवा की दुकान को अतिक्रमण की जद में आने के बाद भी नहीं छूने पर लोगों में काफी आक्रोश दिखाई पड़ा। सूत्रों के अनुसार टीम वहां कार्रवाई करने जा रही थी लेकिन उसी समय एक राजनीतिक पार्टी के नेता ने गुपचुप तरीके से हस्तक्षेप कर कार्रवाई रोकवा दी। सोमवार का अभियान हांसूपुर चौराहे पर जाकर खत्म हुआ। वहां कई लोगों ने सड़क पर ही लकड़ी की दुकानें लगा रखी थी। टीम ने जगह खाली करा दिया। यहां भी कुछ लोगों ने टीम का विरोध किया।

15 लोगों पर लगा जुर्माना
अतिक्रमण के खिलाफ चलाए गए अभियान के दौरान 15 लोगों पर करीब 5500 का जुर्माना लगाया गया है। इनमें से ज्यादातर दुकानदार हैं, दुकानों के बाहर रखे इनके जेनरेटर आदि अतिक्रमण के दायरे में मिले। उन्हे अतिक्रमण हटाने का मंगलवार तक का समय दिया गया।

जुर्माना कट जाए पर शान न जाए
अभियान के दौरान कई ऐसे लोग भी मिले जिन्होंने अपनी हनक कायम रखने के लिए अतिक्रमण हटाने की बजाए जुर्माना अदा करना ज्यादा बेहतर समझा । अतिक्रमण हटाने वाली टीम ऐसे लोगों का जुर्माना काटकर अगले दिन तक अतिक्रमण हटाने की चेतावनी दे आगे बढ़ गई। ऐसे लोग निगम की इसी लापरवाही का फायदा उठा रहे हैं। सोमवार के अभियान के दौरान भी बर्फखाना रोड के किनारे पड़ी बिल्डिंग मैटेरियल तैयार करने वाली एक पुरानी मशीन को हटाने को लेकर एक व्यक्ति और अतिक्रमण हटाने वाली टीम में काफी नोंकझोंक हुई। उसका कहना था कि मशीन को टीम नहीं हटाए वह खुद ही उसे हटा लेगा। इस पर निगम के अफसरों ने बताया कि एक दिन की मोहलत के लिए उसपर जुर्माना लगाया जाएगा, जिसपर वह सहज मान गया। अफसर उस पर एक हजार का जुर्माना लगा कर वहां से चले गए।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us