नीली कोठी डकैती का पर्दाफाश, एक गिरफ्तार

Gorakhpur Updated Wed, 17 Oct 2012 12:00 PM IST
गोरखपुर। नीली कोठी में पड़ी डकैती का पर्दाफाश पुलिस ने मंगलवार को कर दिया। पुलिस ने एक डकैत को गिरफ्तार कर आभूषण बरामद कर लिया है। छह अन्य की पुलिस तलाश कर रही है। पुलिस ने महराजगंज के एक स्वर्ण व्यवसायी को भी गिरफ्तार किया है। उसने डकैती का माल खरीदा था। उसके पास से गहनों को बरामद करने का पुलिस ने दावा किया है।
राजघाट में हनुमान गढ़ी के पास विजय अग्रहरि और उनके भाई अष्टभुजा अग्रहरि के घर इसी 12 अक्टूबर की रात डकैती पड़ी थी। बदमाश लाखों का सामान समेट कर नाव से भाग गए थे।
एसएसपी ने घटना के खुलासे के लिए टीम का गठन किया था। राजघाट पुलिस डकैतों की तलाश में थी। इसी बीच पुलिस के हाथ महत्वपूर्ण सुराग लगे। पुलिस ने डकैती में शामिल संतकबीरनगर के दुधरा थाने के मदाई गांव इजराइल को गिरफ्तार किया। एसएसपी आशुतोष कुमार ने संवाददाताओं को बताया कि इजराइल मंगलवार की सुबह डकैती में लूटे गए गहनों को बेचने घंटाघर आया था। उसी दौरान पकड़ लिया गया। पूछताछ में इजराइल ने अपने साथियों का नाम पुलिस को बताया है। उसकी निशानदेही पर पुलिस ने महराजगंज के पुरंदरपुर के मोहनपुर के स्वर्ण व्यवसायी पारसनाथ वर्मा को गिरफ्तार किया है। वहां से पुलिस को डकैती के गहने बरामद हुए हैं। पुलिस के मुताबिक, एक हार को छोड़कर बाकी गहने बरामद हो गए हैं। एसएसपी ने पुलिस टीम में शामिल लक्ष्मण राय, दरोगा राजेश पांडेय, एमपी सिंह, कांस्टेबल जय नरायन शर्मा, अरबिंद राय, कमलेश यादव, अजय द्विवेदी को आईजी के तरफ से पंद्रह हजार रुपये इनाम दिया है।

छह दिन पहले की थी रेकी
पुलिस के मुताबिक गिरफ्तार इजराइल की कैंपियरगंज में ससुराल है। डकैती के बाद वह ससुराल चला गया था। उसने डकैती से छह दिन पहले व्यवसायी भाइयों के घर की रेकी की थी। इस दौरान उसने भागने का रास्ता देख लिया था। नाव से पहुंचने और भागने की प्लानिंग इसी रेकी के दौरान बना ली थी। डकैतों के समय इम्तियाज नाव चलाकर उन्हें ले गया था। उन्होंने नौसढ़ की तरफ राप्ती नदी के किनारे नाव रहती है। यह उन्हें जानकारी थी। भागते समय इस नाव से राप्ती नदी पारकर दोबारा नौसढ़ पहुंचे थे और वहां से ट्रक पर बैठ कर इजराइल के अन्य साथी संतकबीरनगर चले गए। इजराइल ने बताया कि उसे लूट में से बीस हजार रुपये मिले थे। दस हजार रुपये उसने अपने बेटे की बीमारी में खर्च कर दिया था। दस हजार रुपये पुलिस ने बरामद कर लिया है। इजराइल ने बताया कि घटना वाली रात इम्तियाज, नियामत, जुबेर, गुमनाम, इस्माइल, लोहड़ा डकैती में शामिल थे। पुलिस ने बताया कि इंतियाज, नियामत और गुमनाम संतकबीरनगर पुलिस के पंद्रह हजार के इनामी हैं। इजराइल 2009 में बस्ती के वाल्टरगंज की डकैती में जेल गया था। एसएसपी ने बताया कि गांव डकैती डालने जाते थे तो कोड में बात करते थे। पुलिस को झुकड़ कहते थे।

पहली बार खरीदा चोरी का माल
चोरी के आभूषण खरीदने के आरोप में पकड़ा गया पारसनाथ वर्मा ने बताया कि उसने पहली बार चोरी के आभूषण खरीदे थे। उसे मालूम नहीं था कि यह चोरी का है।

Spotlight

Most Read

Lucknow

ब्राइटलैंड स्कूल दो दिन के लिए बंद, छात्रा हुई जुवेनाइल कोर्ट में पेश

राजधानी के ब्राइटलैंड स्कूल में छात्र को चाकू मारने की घटना के बाद बच्चों में बसे खौफ को दूर करने के लिए स्कूल को दो दिनों के लिए बंद कर दिया है।

19 जनवरी 2018

Related Videos

महाराजगंज में AAP का प्रदर्शन, गायों को लेकर की ये बड़ी मांग

पूर्वी यूपी के महाराजगंज में बुधवार को आम आदमी पार्टी कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया। आम आदमी पार्टी कार्यकर्ताओं का ये प्रदर्शन मधवलियां गोसदन में गायों की मौत के मामले में कसूरवारों के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर हुआ।

18 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper