जूनियर डॉक्टरों ने तो हद कर दी

Gorakhpur Updated Mon, 17 Sep 2012 12:00 PM IST
गोरखपुर। मेडिकल कालेज के जूनियर डॉक्टरों ने चार सितंबर को तो उपद्रव की सभी सीमाएं पार कर दी थीं। गेट के बाहर उन्होंने बेकसूर राहगीरों और मीडियाकर्मियों पर हमला ही नहीं किया बल्कि कई गाड़ियां भी तोड़ दी थीं। दुकानों पर आए दिन वह झगड़ा करते हैं।
यह बयान मेडिकल कालेज गेट के दुकानदारों ने पुलिस को दर्ज कराया। पुलिस जूनियर डॉक्टरों के खिलाफ दर्ज मुकदमे की जांच कर रही थी। सूत्रों की मानें तो दुकानदारों ने भी जूनियर डॉक्टरों के खिलाफ ही बयान दिया। बताया कि अचानक हाथों में डंडा और राड लेकर बाहर आए जूनियर डॉक्टरों ने गुजर रहे कुछ टैंपो के शीशे तोड़ दिए। कैमरा लेकर घूम रहे कुछ मीडियाकर्मियों को सड़क पर गिराकर बेरहमी से पीटा। यही नहीं पुलिस चौकी के ठीक सामने खड़ी एक सफेद कार को बुरी तरह क्षतिग्रस्त करके उसका सिलेंडर भी निकालकर फेंक दिया। इसकी वजह से आग लग सकती थी। दुकानदारों ने बताया कि जूनियर डाक्टर अक्सर उनकी दुकानों पर आकर झगड़ा करते हैं, लेकिन नजरअंदाज कर दिया जाता है, लेकिन उस दिन तो जूनियर डॉक्टरों ने तो हद ही कर दी। जांच रिपोर्ट तैयार करते समय पुलिस ने दुकानदारों के बयान को भी आधार बनाया है।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

मरीज की मौत पर परिजन ने सरकारी अस्पताल में किया तांडव

बस्ती के सरकारी अस्पताल में भर्ती एक मरीज की मौत के बाद तिमारदार ने खूब तांडव मचाया। तीमारदार ने अस्पताल में रखी कुर्सी और मेज को फेंकना शुरू कर दिया।

23 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls