एक्सपायर दवाओं ने किया परेशान

Gorakhpur Updated Sat, 14 Jul 2012 12:00 PM IST
गोरखपुर। रामगढ़ताल स्थित नौका विहार के आगे बांध के किनारे भारी मात्रा में एक्सपायर दवा मिलने की सूचना पर हड़कंप मच गया। सीएमओ डा. आरएन मिश्र ने ड्रग इंस्पेक्टर प्रभात तिवारी को मौके पर भेजा। ड्रग इंस्पेक्टर ने बताया कि सभी दवाएं एक्सपायर थीं। इन्हें गड्ढा खुदवाकर दबा दिया गया है। कैंट थाने के पीछे रहने वाले चार्टर्ड एकाउंटेंट डिस्ट्रीब्यूटर और दवा कंपनी सनकेयर फार्मुलेसंस उत्तराखंड के अधिकारियों से स्पष्टीकरण मांगा जाएगा। उन्होंने कहा कि खुले में दवा फेंकना गलत है। दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। डिस्ट्रीब्यूटर का कहना है कि उसने एक्सपायर दवाएं काफी पहले ही कंपनी के एमआर और अन्य को सौंप दी थी।
रामगढ़ ताल संरक्षण नागरिक मंच के पीके लाहिड़ी, डा. एसएस वर्मा, मोहन लाल गुप्ता, केके सिंह, जितेंद्र द्विवेदी, राजेश गुप्ता ने शुक्रवार को सीएमओ और एसएसपी को नौका विहार के आगे बांध के दूसरी तरफ भारी मात्रा में एक्सपायर दवा फेंकने की सूचना दी थी। एक ठेला वाला दवाओं को रख रहा था। इनमें बुखार, पेट, एंटीबायोटिक, एलर्जी, नस आदि से जुड़ी दवाएं थीं। चूंकि इन दवाओं में कई पीने वाली दवाएं भी थीं इस लिए ठेला वाला इसे लेकर जाने की फिराक में था।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाले के तीसरे केस में लालू यादव दोषी करार, पांच साल की सजा का ऐलान

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

मरीज की मौत पर परिजन ने सरकारी अस्पताल में किया तांडव

बस्ती के सरकारी अस्पताल में भर्ती एक मरीज की मौत के बाद तिमारदार ने खूब तांडव मचाया। तीमारदार ने अस्पताल में रखी कुर्सी और मेज को फेंकना शुरू कर दिया।

23 जनवरी 2018