...तो शहर में लगेगा मौसम का कर्फ्यू

Gorakhpur Updated Mon, 09 Jul 2012 12:00 PM IST
गोरखपुर। मौसम विभाग की भविष्यवाणी अगर सच साबित हुई तो शहर में मंगलवार से 48 घंटे के लिए मूसलाधार बारिश होगी और शहर में मौसम का कर्फ्यू लग जाएगा। शहर की सड़कों पर पानी लबालब होगा। जलजमाव वाले इलाकों में स्थिति और विस्फोटक होगी। आने वाला दो दिन शहरवासियों के लिए मुसीबत भरा हो सकता है।
मौसम विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक सोमवार से भारी बारिश का माहौल बनना शुरू होगा। पूरे दिन धूप-छांव की स्थिति बनी रहेगी। मंगलवार से भारी बारिश शुरू होगी। यह बारिश न्यूनतम 50 मिलीमीटर और अधिकतम 150 मिलीमीटर तक हो सकती है। भारतीय मौसम विभाग के सहायक मौसम निदेशक शफीक अहमद कहते हैं कि मानसून का घना ट्रैक बना हुआ है। 11 व 12 जुलाई को भारी बारिश होगी। इसके बाद 13 व 14 जुलाई को भी बारिश होगी लेकिन यह बारिश हल्की है।
याद दिला दें कि छह से आठ जुलाई तक हुई बारिश में नगर निगम के सफाई व्यवस्था की पोल खुल चुकी है। बारिश का पानी सड़कों पर लबालब हो गया था। जबकि तीनों दिन मिलाकर 144.6 मिलीमीटर बारिश हुई थी। अंदाजा लगाइए कि इससे अधिक बारिश दो दिन में ही हो गई तो शहर की सूरत कैसी होगी।
नगर निगम का दावा है कि डान बास्को, गोरखनाथ-बरदगवा, मुंशी प्रेम चंद आदि प्रमुख नाले साफ हो गए हैं लेकिन शुक्रवार की रात हुई बरसात के बाद इन क्षेत्र की सड़कों पर घुटने भर पानी था।

दहशत में हैं निचले क्षेत्र के लोग
महानगर के चार दर्जन से अधिक मोहल्ले निचले क्षेत्र में आते हैं। इन क्षेत्रों में हर बरसात पानी लगता है और हर बरसात यहां के लोग नरक झेलते हैं। नगर निगम हर बरसात के पहले यह दावा करता है कि नालों की सफाई हो चुकी है लेकिन पानी बरसते ही सड़कों और घरों में पानी लग जाता है। शुक्रवार की रात हुई बरसात के बाद जिन क्षेत्रों पानी लगा था वहां रहने वाले लोगों से अमर उजाला ने बातचीत की।

नगर निगम की सफाई व्यवस्था बेहद लचर है। पानी बरसते ही घर ही नहीं दुकानों में भी नाली का गंदा पानी घुस जाता है। नालों की सफाई होती नहीं है क्योंकि अधिकारी पैसे की बंदरबांट कर लेते हैं। नरक आम पब्लिक को उठाना पड़ता है।
नसीम अहमद, रेती रोड

हल्की सी बारिश होने पर भी नाली का पानी सड़क पर आ जाता है। भारी बारिश हुई तो गंदा पानी घरों में घुसेगा। नगर निगम को इससे बचने की व्यवस्था पहले ही कर लेनी चाहिए। ऐन मौके पर कुछ नहीं हो पाता।
धर्मेश कुमार गोंड, दाउदपुर


अधिकारी आग लगने पर कुआं खोदते हैं। लाल डिग्गी से जगरनाथपुर होते रामगढ़ताल को जाने वाले मेन नाले की सफाई अभी तक नहीं हुई है। हर साल बारिश का पानी नाले से ओवरफ्लो होकर सड़क और घरों में आता है।
श्रीनिवास मिश्र, जगरनाथपुर

नाले की सफाई नहीं हुई है। अधिकारी झूठ बोलते हैं कि नालों की सफाई करा दी गई है। शनिवार को घुटने भर पानी जमा हो गया था। अधिक बारिश होने पर पानी घरों में घुसने लगता है।
रईस अहमद, तुर्कमानपुर

तरंग क्रासिंग और गोरखनाथ जाने के लिए बरसात में काफी दिक्कत होती है। हल्की बारिश में पानी जमा हो जाता है और घुटनों तक पानी में जाना पड़ता है। गाड़ियां लेकर लोग इसी में फंसते हैं। नालों की सफाई गरमी में ही हो जानी चाहिए।
भोला, हुमायूंपुर


जुलाई महीने में हुई बारिश
तारीख मिलीमीटर
05 2.0
06 42.7
07 34.6
08 65.3

बारिश को लेकर तैयार है कार्ययोजना : नगर आयुक्त
नगर आयुक्त अखिलेश तिवारी ने बताया कि नगर निगम क्षेत्र में सिर्फ जीडीए की ओर स्थित एक बड़े नाले की सफाई फिलहाल नहीं हो सकी है। शेष सभी नालों की सफाई एक बार पूरी हो चुकी है। दो दिनों की बारिश के दौरान जगह-जगह हुए जलभराव की समीक्षा की गई। गोरखनाथ मंदिर की ओर के नाले में मलबा गिराए जाने के कारण जलभराव की स्थिति बनी थी जिसकी सफाई करा दी गई है। मोहद्दीपुर स्थित नाले के बंधे का कटाव होने के कारण जल निकासी प्रभावित हो गई थी। वहां भी नाले की सफाई करा दी गई है।

जलभराव दूर करने का होगा इंतजाम : डा. सत्या
नवनिर्वाचित महापौर डा. सत्या पांडेय ने कहा कि अभी बोलने के लिए अधिकृत नहीं हूं लेकिन जलभराव की समस्या को दूर करने के लिए गंभीरता से कार्य किया जाएगा। निर्वाचित होने के बाद अभी तक नगर निगम के अधिकारियों ने संपर्क नहीं किया है। अधिकारियों से सबसे पहले जलभराव की समस्या को दूर करने की व्यवस्था करने का ही निर्देश दूंगी।

निकली धूप, बढ़ी उमस
गोरखपुर। रविवार को मौसम में थोड़ा बदलाव हुआ और आसमान पूरे दिन साफ रहा। हल्की धूप भी निकली रही। तापमान करीब 34.4 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया। यानी कि शनिवार से करीब चार डिग्री सेल्सियस अधिक। उधर, पूरे दिन उमस थी जिससे लोग परेशान रहे। हालांकि शाम को मौसम पूरी तरह से सुहाना हो गया और हल्की हवाओं ने मौसम का ेऔर खुशनुमा बना दिया।

Spotlight

Most Read

Chandigarh

पंजाब: कैबिनेट मंत्री राणा गुरजीत सिंह ने दिया इस्तीफा

पंजाब के कैबिनेट मंत्री राणा गुरजीत सिंह ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। राणा गुरजीत ऊर्जा एवं सिंचाई विभाग के मंत्री थे।

16 जनवरी 2018

Related Videos

पार्क में घूमने गए नाबालिग जोड़े की पंचायत ने जबरन करवाई शादी

यूपी के महाराजगंज से एक ऐसा मामला सामने आया है जिससे लोग सकते में हैं। पार्क में घूमने गए प्रेमी जोड़े की पंचायत ने जबरन शादी करवा दी। बता दें प्रेमी जोड़ा नाबालिग है।

16 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper