50 कॉलेजों को नोटिस

Gonda Updated Sat, 29 Dec 2012 05:30 AM IST
गोंडा। इंसेंटिव टू गर्ल्स फार सेकेंडरी एजूकेशन योजना के तहत छात्राओं का ब्यौरा न देने वाले 50 माध्यमिक इंटर कॉलेजों के प्रधानाचार्यों को गुरुवार देर शाम नोटिस जारी किया गया। साथ ही तीन दिन के भीतर सूचनाएं उपलब्ध कराने को कहा गया है। समय सीमा के भीतर सूचनाएं न देने पर संबंधित कॉलेज के खिलाफ कार्रवाई की चेतावनी दी गई है।
इंसेंटिव टू गर्ल्स फार सेकेंडरी एजूकेशन योजना के तहत कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय से कक्षा 8 उत्तीर्ण करके इंटर कॉलेजों में कक्षा 9 में प्रवेश लेने वाली सभी जातियों की बालिकाओं को तीन हजार रुपये दिए जाने का प्रावधान है। इसके अलावा अन्य स्कूलों में कक्षा 9 में प्रवेश लेने वाली अनुसूचित जाति/ अनुसूचित जनजाति की छात्राओं को भी तीन हजार रुपये दिए जाने का प्रावधान है। इसके लिए कई बार पत्र भेजकर राजकीय व सहायता प्राप्त माध्यमिक विद्यालयों से ऐसी छात्राओं की सूचना मांगी गई, लेकिन अभी तक किसी ने भी जानकारी नहीं दी है। इससे योजना के संचालन में बाधा आ रही है। उधर, जिला विद्यालय निरीक्षक शिवलाल ने छात्राओं की सूचना न देने वाले 50 कॉलेजों के प्रधानाचार्यों को गुरुवार देर शाम नोटिस जारी किया है। साथ ही तीन दिन के भीतर बालिकाओं का नाम, पिता का नाम, जन्मतिथि, जाति, पता, बैंक का नाम, खाता संख्या आदि का ब्यौरा देने को कहा है। तीन दिन के भीतर सारी सूचनाएं मुहैया न कराने वाले विद्यालयों के खिलाफ प्रशासनिक व विभागीय कार्रवाई की जाएगी।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाले के तीसरे केस में लालू यादव दोषी करार, दोपहर 2 बजे बाद होगा सजा का ऐलान

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

उन्नाव: यूपी पुलिस के हाथ लगी बड़ी सफलता, किया नकली शराब कंपनी का भंडाफोड़

लखनऊ एसटीएफ और उन्नाव पुलिस के हाथ बड़ी सफलता लगी है। दरसअल लखनऊ एसटीएफ और उन्नाव पुलिस की संयुक्त कार्रवाई में एक नकली देशी शराब बनाने वाली फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया है। इस फैक्ट्री में बनने वाली नकली शराब आसपास के कई जिलों में सप्लाई की जाती थी।

2 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls