कार्तिक पूर्णिमा पर आस्था का सैलाब

Gonda Updated Thu, 29 Nov 2012 12:00 PM IST
गोंडा। कार्तिक पूर्णिमा के मौके पर बुधवार को सरयू नदी के विभिन्न घाटों पर करीब दो लाख से अधिक श्रद्धालुओं ने आस्था की डुबकी लगाई। इसके बाद मंदिरों में मत्था टेककर श्रद्धालुओं ने अपनी मुरादें पूरी होने की कामना की। इस मौके पर जिलेभर में 12 से ज्यादा स्थानों पर मेले का आयोजन किया गया।
कार्तिक पूर्णिमा के दिन स्नान के लिए करनैलगंज के सरयूघाट, सकरौरा घाट, कटरा शहबाजपुर घाट व कचनापुर घाट पर बुधवार को श्रद्धालुओं की भारी भीड़ जुटी। मंगलवार रात से ही श्रद्धालु ट्रैक्टर-ट्रॉली, पैदल तथा अपने वाहनों से घाट पर पहुंचने लगे थे। पूरी रात घाट पर रहकर लोगों ने मंदिरों में आयोजित भजन कीर्तन में हिस्सा लिया और सुबह होते ही स्नान-दान करके पुण्य लाभ अर्जित किया। स्नान देर शाम तक जारी रहा। एक अनुमान के मुताबिक करनैलगंज के इन चार घाटों पर डेढ़ लाख से ज्यादा श्रद्धालुओं ने सरयू नदी में डुबकी लगाई। जगह-जगह मेले का भी आयोजन किया गया, जहां लोगों ने जमकर खरीददारी की। इटियाथोक में मनोरमा नदी के तट पर लोगों ने स्नान किया। माना जाता है कि यहीं से मनवर नदी का उद्गम हुआ है। वहीं, धानेपुर मार्ग पर बग्गीरोड स्थित सोनबरसा पोखरे में भी बुधवार को हजारों की संख्या में श्रद्धालु उमड़े। मेहनवन के ईश्वरनंद कुटी और अन्य ग्रामीण इलाकों में कार्तिक पूर्णिमा का पर्व उत्साहपूर्वक मनाया गया। मनकापुर में लोगों ने मनवर नदी के तट पर स्नान किया। मनकापुर के बरदही बाजार में मेले का आयोजन किया गया, यहां देर शाम तक मेला लगा रहा। इसके अतिरिक्त तरबगंज रोड पर गोड़वा घाट, डिडसिया कला के समीप, तरबगंज सहित करीब 12 स्थलों पर मेले का आयोजन किया गया।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

उन्नाव: यूपी पुलिस के हाथ लगी बड़ी सफलता, किया नकली शराब कंपनी का भंडाफोड़

लखनऊ एसटीएफ और उन्नाव पुलिस के हाथ बड़ी सफलता लगी है। दरसअल लखनऊ एसटीएफ और उन्नाव पुलिस की संयुक्त कार्रवाई में एक नकली देशी शराब बनाने वाली फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया है। इस फैक्ट्री में बनने वाली नकली शराब आसपास के कई जिलों में सप्लाई की जाती थी।

2 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls