सर्द हवा, गलन और ठंड के आगे धूप बेअसर

Varanasi Bureauवाराणसी ब्यूरो Updated Fri, 20 Dec 2019 11:54 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर Free में
कहीं भी, कभी भी।

70 वर्षों से करोड़ों पाठकों की पसंद

ख़बर सुनें
गाजीपुर। सर्द हवा के कारण ठंड और गलन में तेजी से इजाफा हुआ है। ठंड के आगे दिन में निकलने वाली धूप भी बेअसर साबित हो रही है। शुक्रवार को सुबह से ही लोग मकानों, दुकानों और कार्यालयों में दुबके हुए हैं, जिन्हें बहुत जरूरी कार्य से कहीं जाना था, वहीं घर से बाहर निकले। ठंड बढ़ने से पारा दिनोंदिन नीचे गिरता जा रहा है। शुक्रवार को अधिकतम तापमान 20 डिग्री और न्यूनतम 6.7 डिग्री सेल्सियस रहा। यही हाल रहा तो एक-दो दिन में हालात और बेकाबू हो सकते हैं।
विज्ञापन

पिछले पांच दिनों से कोहरा और बादलों के बीच पड़ रही कड़ाके की ठंड के बाद शुक्रवार की सुबह सर्द हवा और गलन ने लोगों की दिनचर्या को बेपटरी कर दिया है। शुक्रवार को सुबह के बाद निकली धूप से लोगों के चेहरे पर खुशी दिखी लेकिन धूप सर्दी के आगे बेअसर साबित हुआ। लोग धूप निकलने के बाद जगह-जगह धूप सेंकते नजर आए। जैसे-जैसे शाम ढलती गई, वैसे-वैसे सर्दी के साथ ही गलन में इजाफा होता गया।
देखा जाए तो दिसंबर माह की शुरुआत से ही ठंड में वृद्धि हो गई थी लेकिन बीते शुक्रवार को घंटों बारिश के बाद सर्दी पूरी तरह से बलवान हो गई है। ठंड के साथ ही गलन का जबरदस्त प्रभाव बढ़ गया है। आलम यह हो गया कि शरीर को पूरी तरह से गर्म कपड़ों से ढंकने के बाद भी गलन की वजह से राहत नहीं मिल पा रही थी। ठंड को देखते हुए जिला प्रशासन द्वारा एक से लेकर आठ तक के विद्यालय 18 से 20 दिसंबर तक बंद करा दिया गया था। कड़ाके की सर्दी से वृद्धों की परेशानी सबसे अधिक बढ़ गई। राहत के लिए गर्म कपड़ा पहनने के साथ ही अलाव का सहारा लेना शुरू कर दिया। इसी क्रम में गुरुवार की देर रात कोहरा गिरने का क्रम शुरू हो गया, जो सुबह करीब सात बजे तक जारी रहा। इसी बीच दिन में करीब 10 बजे ही भगवान भास्कर ने आंखें खोली, लोगों के चेहरे की चमक भी बढ़ गई। सरकारी और गैर प्राइवेट दफ्तरों में काम करने वाले कर्मचारी-अधिकारी भी परिसर में धूप का आनंद लेते दिखाई दिए। घर का कामकाज निपटाने के बाद गृहणियां मकान के बाहर के साथ ही छतों पर पहुंच और खुद धूप सेंकने के साथ ही कपड़ों और बिस्तर को धूप दिखाया। हालांकि जैसे-जैसे दिन ढलता गया, वैसे-वैसे सर्दी के साथ ही गलन का प्रभाव भी बढ़ता गया और लोगों के घरों में दुबकने का क्रम शुरु हो गया।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us