विभाग से बर्खास्त बीएड शिक्षकों की सूची गायब

Ghazipur Updated Mon, 15 Oct 2012 12:00 PM IST
गाजीपुर। जिले के दो पूर्व जिला बेसिक शिक्षा अधिकारियों द्वारा बर्खास्त किए गए दर्जनों बीएड शिक्षकों की सूची गायब कर दी गई है। इस सूची में वह भी नाम हैं, जिन्हें बाद में सत्यापन के आधार पर दोबारा नौकरी दे दी गई थी। इसमें पूर्व बीएसए वीपी सिंह की गर्दन नप सकती है। इसको लेकर विभाग में हड़कंप मचा हुआ है।
जिलाधिकारी प्रभुएन सिंह के निर्देश पर चल रही जांच में अब तक कोई ऐसे खुलासे नहीं हुए हैं, जिससे दोषियों के खिलाफ कार्रवाई हो सके। अभी तक फाइलों को सीरियल नंबरों से लगाया जा रहा है। इन फाइलों को अल्फाबेटिकल तरीके से रखा भी जा रहा है। फाइलों की जांच में लगे अफसरों को विभाग के अधिकारियों ने कई महत्वपूर्ण दस्तावेज नहीं सौंपे हैं। इन दस्तावेजों को विभाग का एक बाबू दबा कर रखा हुआ है। हालांकि उस बाबू को बीएसए ने उसके पटल से हटा भी दिया है लेकिन वह अभी तक कई महत्वपूर्ण फाइलों का चार्ज नहीं दिया है। इन्हीं फाइलों में बड़े पैमाने पर गड़बड़ी की गई है। वर्ष 2009 से पहले बीएसए पद पर तैनात रहे भाष्कर मिश्रा और ओपी राय के कार्यकाल में 60 से अधिक बीएड शिक्षकों को बर्खास्त किया गया था। इन शिक्षकों को वर्ष 2006 में मेरिट के आधार पर बीएड शिक्षक के तहत विभिन्न प्राथमिक विद्यालयों में तैनाती दी गई थी। सूत्रों की मानें तो तत्कालीन बीएसए भाष्कर मिश्रा ने 30 से अधिक फर्जी शिक्षकों को बर्खास्त किया था। इस सूची को आम भी किया गया था। विभागीय सूत्रों की मानें तो बर्खास्त शिक्षकों के दबाव में आए शासन ने भाष्कर मिश्रा को हटाकर ओपी राय को बीएसए बना दिया गया। ओपी राय ने भी कुछ शिक्षकों को फर्जी प्रमाणपत्र के आधार पर बर्खास्त किया था। विभागीय सूत्रों की मानें तो ओपी राय के समय में भी फर्जी शिक्षकों के नाम पर बड़ा खेल हुआ था। जिन शिक्षकों को भाष्कर मिश्रा ने बर्खास्त किया था। उन्हीं बर्खास्त शिक्षकाें की सूची ओपी राय ने भी जारी की थी। इसमें मात्र कुछ ही नाम नए थे। इन अधिकारियों के जाने के बाद बीएसए के रूप में वर्ष 2009 में आए वीपी सिंह ने अधिकांश बर्खास्त शिक्षकाें को फर्जी सत्यापन रिपोर्ट दिखाकर बहाल कर दिया गया। इन्होंने बीएड शिक्षकों के नाम पर बड़ा खेल किया था। अब बीएड शिक्षकों की जांच चल रही है। जांच में जांच के लिए लगाए अधिकारियों को बर्खास्त किए गए शिक्षकों की सूची चाहिए। इसी सूची के आधार पर भी मिलान किया जाना शेष है लेकिन विभाग ने दो दर्जन शिक्षकों की फाइलों को देकर अपना पल्ला झाड़ लिया। इस सूची को विभाग के कुछ लोगों ने गायब कर दिया है। सूची मिलने पर ही बर्खास्त किए गए शिक्षकों के नाम उजागर हो पाएंगे। जो मौजूदा समय में विभिन्न प्राथमिक विद्यालयों में शान से नौकरी कर रहे हैं।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

कोहरे ने लगाया ऐसा ब्रेक, एक के बाद एक भिड़ीं कई गाड़ियां

वाराणसी-इलाहाबाद राजमार्ग पर गुरुवार को घने कोहरे के बीच दो एक सड़क हादसा हो गया। कोहरे की वजह से विजिबिलिटी कम होने पर एक के बाद एक चार गाड़ियां एक-दूसरे से टकरा गईं। इस हादसे में चार लोगों के घायल होने की भी खबर है।

21 दिसंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls