निर्मल भारत अभियान को जिले में लगा झटका

Ghazipur Updated Fri, 05 Oct 2012 12:00 PM IST
गाजीपुर। जिले में निर्मल भारत अभियान को जोर का झटका लगा है। अभी तक इस अभियान के खाते में कोई बजट नहीं आया है। जबकि इसके लिए जिलाधिकारी की तरफ से शासन से आठ हजार से अधिक शौचालयों के निर्माण के लिए धन मांगा गया है।
अब तक जिले में संपूर्ण स्वच्छता कार्यक्रम के तहत शौचालयों का निर्माण किया जाता था। इसके लिए बीपीएल, एपीएल एवं अन्य जातियों के लिए अलग-अलग धनराशि स्वीकृत की गई थी। मौजूदा समय में इस योजना से लगभग 90 हजार से अधिक शौचालयों का निर्माण किया जा चुका है। हालांकि इन शौचालयों के निर्माण में बड़े पैमाने पर गड़बड़ी हुई थी। इस योजना में करोड़ों रुपये पानी की तरह बहाए जा चुके हैं। शिकायतों को देखते हुए भारत सरकार ने योजना का नाम बदलकर निर्मल भारत अभियान रख दिया है।
इसके तहत लगभग 9 हजार से अधिक शौचालयों का निर्माण इस वर्ष होना है। इसके लिए लाभार्थियों के चयन का भी कार्य पूरा हो चुका है। इसके लिए लगभग एक माह पहले शासन से भी लगभग आठ करोड़ से अधिक की धनराशि की डिमांड की गई थी लेकिन अभी तक धनराशि नहीं आ पाई है। इसको लेकर विभागीय अधिकारी परेशान हैं। अगर धन समय से नहीं आया तो लक्ष्य को पूरा करने में परेशानी आ सकती है। इस संबंध में जिला पंचायत राज अधिकारी एमपी दूबे ने बताया कि शौचालय निर्माण के लिए शासन से धनराशि की डिमांड की गई है। धन आते ही निर्माण कार्य शुरू कर दिया जाएगा।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

कोहरे ने लगाया ऐसा ब्रेक, एक के बाद एक भिड़ीं कई गाड़ियां

वाराणसी-इलाहाबाद राजमार्ग पर गुरुवार को घने कोहरे के बीच दो एक सड़क हादसा हो गया। कोहरे की वजह से विजिबिलिटी कम होने पर एक के बाद एक चार गाड़ियां एक-दूसरे से टकरा गईं। इस हादसे में चार लोगों के घायल होने की भी खबर है।

21 दिसंबर 2017