जगह-जगह फूंके पुतले हुई जमकर नारेबाजी

Ghazipur Updated Fri, 21 Sep 2012 12:00 PM IST
गाजीपुर। रिटेल में एफडीआई, डीजल के दामों में बढ़ोत्तरी और सब्सिडीयुक्त रसोई गैस सिलिंडरों की संख्या सीमित करने के विरोध में बृहस्पतिवार को जिले भर में अघोषित कर्फ्यू दिखा। सुबह से ही भाजपा, सपा, भाकपा, भाकपा माले, सीपीआई, जदयू, उद्योग व्यापार मंडल, सपा व्यापार सभा, हिंदू युवा वाहिनी, जन संघर्ष मोर्चा सहित आदि संगठनों के लोग सड़क पर उतर आए। इसके चलते छोटी-बड़ी सभी दुकानों पर ताला लटका रहा। विरोध की आंच इस कदर रही कि रोडवेज पर चक्काजाम से बसों के पहिए थम गए। सिटी रेलवे स्टेशन पर सपा तथा सीपीआई कार्यकर्ताओं ने ट्रैक को पूरी तरह से जाम कर सद्भावना एक्सप्रेस को रोक दिया। करीमुद्दीनपुर में भी भाजपाइयों ने सारनाथ एक्सप्रेस को 7 मिनट तक रोके रहा।
गुरुवार को भारत बंद के समर्थन में वैसे भी व्यापारी और दुकानदार अपने प्रतिष्ठानों पर ताले लटकाए रहे। लेकिन सुबह भाजपा, सपा, उद्योग व्यापार प्रतिनिधिमंडल, जदयू, हिंदू युवा वाहिनी, भाकपा, भाकपा माले, सीपीआई सहित अन्य संगठनों के लोग सड़क पर उतर आए और बाइक जुलूस निकालकर दुकानों को बंद रखने की अपील की तो घरों में जमे व्यापारी भी सड़क पर आकर आंदोलनकारियों के साथ हो लिए। सुरक्षा के लिहाज से एएसपी सिटी मान सिंह की अगुवाई में पुलिस फोर्स मुस्तैद हो गई। हर तरफ से मनमोहन सरकार मुर्दाबाद, एफडीआई, मूल्य वृद्धि वापस लो, बोल मुलायम हल्ला बोल, धोखेबाज केंद्र की सरकार, कुर्सी छोड़ो, कुर्सी छोड़ों का ही नारा बुलंद हो रहा था। इसके चलते गाजीपुर शहर सहित सैदपुर, जखनिया, मुहम्मदाबाद, जमानियां तहसील तथा जिले के 16 विकास खंडों की बाजारों में बंदी के चलते अघोषित कर्फ्यू लगा रहा। रोडवेज के मुख्य द्वार पर भाकपा माले, सीपीआई तथा सपा कार्यकर्ताओं के धरना प्रदर्शन तथा चक्काजाम की वजह से रोडवेज की करीब एक दर्जन बसें सड़क पर कतारबद्ध खड़ी रहीं तो इससे अधिक बसों के पहिए रोडवेज बस अड्डे पर थमे रहे। रौजा रेलवे क्रासिंग पर सद्भावना एक्सप्रेस 7 मिनट, सिटी रेलवे स्टेशन पर 17 मिनट, करीमुद्दीनपुर में सारनाथ एक्सप्रेस 7 मिनट तक खड़ी रही। प्रदर्शन और विरोध को लेकर ट्रेनों में सवार यात्री काफी सहमे नजर आए। वाराणसी-गाजीपुर राजमार्ग पर चक्काजाम की वजह से वाहनों की दूर तक लंबी कतार लगी रही। सुरक्षा की कमान एएसपी सिटी, सदर एसडीएम अपने मातहतों के साथ संभाले हुए थे। वहीं एलआईयू इंस्पेक्टर पीएन पोरवाल अपनी टीम के साथ पल-पल की रिपोर्ट तलब कर उच्चाधिकारियों को अवगत कराने में व्यस्त नजर आए। पुलिस प्रशासन की मजबूत सुरक्षा एवं घेरेबंदी के चलते कहीं भी टकराव की स्थिति पैदा नहीं हुई। आंदोलन का नेतृत्व कर रहे पदाधिकारियों ने सहयोग और शांति के लिए अपने कार्यकर्ताओं, दुकानदारों तथा व्यापारियों का भी आभार व्यक्त किया।

Spotlight

Most Read

Delhi NCR

आप विधायकों को हाईकोर्ट ने भी नहीं दी राहत, अब सोमवार को होगी सुनवाई

लाभ के पद के मामले में चुनाव आयोग ने आम आदमी पार्टी के 20 विधायकों को अयोग्य घोषित करने के मामले में अब सोमवार को होगी सुनवाई।

19 जनवरी 2018

Related Videos

कोहरे ने लगाया ऐसा ब्रेक, एक के बाद एक भिड़ीं कई गाड़ियां

वाराणसी-इलाहाबाद राजमार्ग पर गुरुवार को घने कोहरे के बीच दो एक सड़क हादसा हो गया। कोहरे की वजह से विजिबिलिटी कम होने पर एक के बाद एक चार गाड़ियां एक-दूसरे से टकरा गईं। इस हादसे में चार लोगों के घायल होने की भी खबर है।

21 दिसंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper