सिसकियां तोड़ रहीं हैं घरों का सन्नाटा

Ghazipur Updated Mon, 10 Sep 2012 12:00 PM IST
मरदह। सोनभद्र के कम्हरिया गांव के पास बीते शनिवार को पुलिया से टकराकर पलटी टाटा सूमो में सवार दो बच्चों समेत छह लोगों की मौत होने से मरदह का पिपनार गांव पूरी तरह से दहल उठा है। परिजनों की सिसकियां घरों में पसरे मरघटी सन्नाटें को तोड़ रहीं हैं। ऐसे में हर कोई हतप्रभ है और काल को कोस रहा है। मृतकों में पांच लोगों की चिताएं एक साथ सोनभद्र में जलाई गईं जबकि चालक का शव गांव लाया गया। बाद में गाजीपुर श्मशान घाट पर उसका अंतिर्म संस्कार किया गया।
गमी में शरीक होने के लिए बीते शनिवार को मरदह थाना क्षेत्र के पिपनार गांव से एक ही परिवार के 15 लोग टाटा सूमो में सवार हो जब सोनभद्र जा रहे थे, तभी सुकृत क्षेत्र में कम्हरिया गांव के पास निर्माणाधीन पुलिया से टकराकर सवारियों से भरी टाटा सूमो बरसाती पानी में पलट गई थी जिससे पानी में डूबने से दो बच्चों समेत छह लोगों की मौत हो गई। नौ लोग गंभीर रूप से घायल हो गए थे। मृतकों में पिपनार गांव निवासी अवध नारायण वर्मा की पत्नी श्यामराजी, प्यारेलाल वर्मा के पुत्र वंशीधर, पुत्री अस्मिता, अखिलेश वर्मा की पत्नी रितु और पुत्री सुग्गू तथा सूमो चालक सुनील कुमार शामिल था जबकि घायलों में अवध नारायण वर्मा, विघावती, अश्वनी, अवनीश, अंजली, आकांक्षा, पूनम, शुभम और अमरनाथ को इलाज के लिए सोनभद्र में भरती कराया गया। मौत की सूचना जब पिपनार गांव पहुंची तो गम की ऐसी चादर तनी कि हर किसी के चेहरे की खुशियां स्याह हो गईं। मृतकों के परिजन गांव वालों के साथ शनिवार को ही सोनभद्र के लिए रवाना हो गए। ऐसे में शनिवार की काली रात गांव वालों ने रतजगा कर गुजारी। सुबह मृतक चालक का शव गांव लाया गया तो चीख-पुकार से गांव में कोहराम मच गया। शव से लिपट कर कोई इधर गश खाकर गिर रहा था तो कोई उधर। बाद में चालक के शव का अंतिम संस्कार गाजीपुर श्मशान घाट पर किया गया। वहीं अन्य पांच मृतकों श्यामराजी देवी, प्यारेलाल वर्मा के पुत्रवंशीधर तथा पुत्री अस्मिता, अखिलेश वर्मा की पत्नी रितु तथा पुत्री सुग्गु की चिताएं सोनभद्र में ही एक साथ जलाई गईं। इससे गांव में अभी भी मातमी सन्नाटा पसरा हुआ है।

इनसेट
शोक में बंद रहा बाजार
मरदह। पिपनार गांव के छह लोगों की मौत को लेकर रविवार को मरदह बाजार की सभी दुकानें बंद रहीं। हर कोई मौत की ही चर्चा में मशगूल था। किसी को यकीन नहीं हो रहा था कि यह क्या हो गया। इसलिए हर कोई हतप्रभ दिखा।

इनसेट
नहीं जला चूल्हा
मरदह। एक साथ छह लोगों की मौत के बाद पिपनार गांव में चहुंदिश उदासी पसरी हुई है। मृतकों के रोने बिलखने परिजन बदहवाश दिखे। ऐसे में उनके ही नहीं गांव के भी कई लोगों के घरों के चूल्हे ठंडे रहे। मृतक चालक के घर पर लोगों का मजमा लगा हुआ था। वहीं परिजनों के सोनभद्र में जाने की वजह सेे अन्य मृतकों के घर पर ताले लटके दिखे।

Spotlight

Most Read

Delhi NCR

फुल ड्रेस रिहर्सल आज, यातायात में होगी दिक्कत, कई जगह मिल सकता है जाम

सुबह 10:30 से दोपहर 12 बजे तक ट्रेनों का संचालन नहीं किया जाएगा। कई ट्रेनें मार्ग में रोककर चलाई जाएंगी तो कई आंशिक रूप से निरस्त रहेंगी।

23 जनवरी 2018

Related Videos

कोहरे ने लगाया ऐसा ब्रेक, एक के बाद एक भिड़ीं कई गाड़ियां

वाराणसी-इलाहाबाद राजमार्ग पर गुरुवार को घने कोहरे के बीच दो एक सड़क हादसा हो गया। कोहरे की वजह से विजिबिलिटी कम होने पर एक के बाद एक चार गाड़ियां एक-दूसरे से टकरा गईं। इस हादसे में चार लोगों के घायल होने की भी खबर है।

21 दिसंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper