जन्मे नंदलाल, घर-घर बजी बधाई

Ghazipur Updated Sat, 11 Aug 2012 12:00 PM IST
गाजीपुर। शहर सहित ग्रामीण क्षेत्रों में शुक्रवार को श्रीकृष्ण जन्माष्टमी का पर्व धूमधाम से मनाया गया। मंदिरों के साथ ही घरों में भगवान श्रीकृष्ण के जन्म से संबंधित आकर्षक झाकियां सजाई गईं। रात 12 बजते ही चहुंओर जय कन्हैया लाल की गूंज के साथ घंट-घडि़याल बजाकर नंद के घर आनंद भयो की खुशियां मनाने लगे। जगह-जगह पूजा-अर्चना हुई और भक्तों में प्रसाद बांटे गए।
जगह-जगह रखी गई झाकियां
श्रीकृष्ण का जन्म, बासुदेव की ओर से सूप में लेकर नदी पार करना, नटखट कान्हा की अठखेलियां, नागनथैया, कंस का वध तथा कृष्ण का अर्जुन को गीता का उपदेश आदि इस तरह की कई झांकियां शहर समेत कसबों तथा गांव गिराव में सजाई गई थी। इन्हें देखने के लिए देर रात तक भीड़ बनी रही। शहर के कचहरी परिसर में कई प्रकार की झांकियां सजाई गई थी जिनका लोग दर्शन करते रहे। मिश्रबाजार महुआबाग, लंका, गोराबाजार, सकलेनाबाद, आमघाट आदि जगहों पर कई घरों में मनमोहक झांकियां सजाई गई थी। इसी प्रकार मुहम्मदाबाद, सैदपुर, जमानिया, बाराचंवर, दुबिहां, दिलदारनगर, मनिहारी समेत सभी स्थानों पर भगवान कृष्ण के जीवन से जुड़ी झांकियां सजीं थी।
रात को गूजें जयकारें
रात के बारह बजते ही घंट और घडि़याल बजाकर कान्हा के जन्म की खुशियां मनाई गई। शहर तथा गांव हर जगह नंद को आनंद भयो जय कन्हैया लाल की, हाथी घोड़ा पालकी, जय कन्हैया लाल की गूंज सुनाई देने लगी। महिलाओं ने सोहर गाया। रात को हर क्षेत्र में इस प्रकार के जयकारे से पूरा वातावरण कृष्णमय हो गया। मंदिरों में भगवान कृष्ण को पंचामृत तथा घी आदि से अभिषेक किया गया। पुजारियों ने विशेष पूजन अर्चन कर लोगों में प्रसाद वितरित किया।
श्रद्धालुओं ने रखा व्रत
जन्माष्टमी पर्व पर श्रद्धालुओं ने व्रत रह कर भजन कीर्तन किया। जहां डोल तथा झाकियां रखी गई थी वहां देर रात तक श्रद्धालु एकत्र हो कर राधे कृष्ण के भजन गाते रहे। कई जगह डीजे की धुन पर युवक तथा बच्चे थिरकते रहे। रात को भगवान के जन्म के बाद कई लोगों ने प्रसाद खाकर व्रत तोड़ा। इधर जन्म के बाद रात को ही घरों में प्रसाद भी बांटे गए। मंदिरों पर भी तरह-तरह के आयोजन कर व्रती महिलाओं को भगवान की लीला का बखान किया जाता रहा।
थानों में भी मनी जन्माष्टमी
भगवान कृष्ण का जन्म मथुरा के कारागार में हुआ था। इसके चलते इस पर्व को थानों पर भी काफी श्रद्धा और उत्साह के साथ मनाया जाता है। पुलिस लाईन में राधे कृष्ण मंदिर पर जम कर सजावट किया गया था। रात जागरण के लिए सांस्कृतिक कार्यक्रम का भी आयोजन किया गया था। इसी प्रकार सदर कोतवाली, मुहम्मदाबाद समेत जिले भर के सभी थाने पर भगवान के जन्मोत्सव को उत्साह के साथ मनाय गया। नंदगंज थाने पर गुरूवार को ही भव्य कार्यक्रम का आयोजन कर इस पर्व को मनाया गया।
ग्रामीण क्षेत्रों में भी रही धूम
शहर समेत ग्रामीण इलाकों में भी कान्हा का जन्मोत्सव धूमधाम से मनाया गया। जमानिया, मुहम्मदाबाद, सैदपुर, खानपुर, देवकली, नंदगंज, ताजपुर डेहमा, दिलदारनगर, भावरकोल, मतसा, सुहवल, बाराचवर, बहरियाबाद, शादियाबाद आदि इलाकों में भी इस पर्व पर धूमधाम बना रहा। कई जगहों पर गुरुवार को ही इस पर्व को मनाया गया।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

कोहरे ने लगाया ऐसा ब्रेक, एक के बाद एक भिड़ीं कई गाड़ियां

वाराणसी-इलाहाबाद राजमार्ग पर गुरुवार को घने कोहरे के बीच दो एक सड़क हादसा हो गया। कोहरे की वजह से विजिबिलिटी कम होने पर एक के बाद एक चार गाड़ियां एक-दूसरे से टकरा गईं। इस हादसे में चार लोगों के घायल होने की भी खबर है।

21 दिसंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls