लहुरीकाशी में बैंक करेंगे िकसानों पर

Ghazipur Updated Thu, 28 Jun 2012 12:00 PM IST
गाजीपुर। लहुरीकाशी के किसानों के लिए खुशखबरी है। किसानों के विकास एवं उनकी तरक्की के लिए यहां के बैंकों ने अपनी झोली फैला दी है। सभी बैंकों ने कृषि क्षेत्र में 652 करोड़ रुपये की भारी भरकम धनराशि निवेश करने की योजना बनाई है। इसके लिए जिलाधिकारी ने भी बैंकों को कड़े निर्देश दिए हैं।
जिले में दो लाख 15 हजार हेक्टेयर में रबी एवं खरीफ के सीजन में 4 लाख 8 हजार किसान परिवार फसल उगाते हैं। अधिकांश ऐसे किसान होते हैं जिनके पास खेती करने के लिए पैसे नहीं होते हैं। ऐसे किसान गांव एवं कस्बों के सूदखोरों के पास जाकर दस प्रतिशत पर ऋण लेते हैं। जो बाद में चलकर उनके लिए नासूर बन जाता है। इन किसानों को सूदखोरों से मुक्ति दिलाने को पिछले दिनों मुख्य विकास अधिकारी की अध्यक्षता में बैंक के शाखा प्रबंधकों की बैठक बुलाई गई थी।
इस बैठक में वित्तीय वर्ष 2012-13 में किसानों के लिए ऋण योजना पर चर्चा की गई। इसमें सभी बैंकों को लक्ष्य निर्धारित किए गए। सबसे अधिक लक्ष्य ऋण यूनियन बैंक आफ इंडिया का तय किया गया है। यूनियन बैंक अकेले 206 करोड़ रुपये किसानों के बीच लोन वितरित करेगा। इसमें 177 करोड़ रुपये कृषि और 131 करोड़ रुपये सिर्फ किसान क्रेडिट बनाने में निवेश किया जाएगा। यह बैंक जिले का अग्रणी बैंक भी है। इसकी जानकारी देते हुए यूनियन बैंक आफ इंडिया के सहायक महाप्रबंधक वीएन जैन ने बताया कि जिले के सभी बैंकों की कुल 225 शाखाएं मिलकर 652 करोड़ 89 लाख रुपये का ऋण वितरित करेंगी। उन्होंने बताया कि 575 करोड़ रुपये कृषि से संबंधित यंत्रों एवं सामानों की खरीद पर ऋण वितरित किया जाएगा। इसी तरह 431 करोड़ का ऋण किसान क्रेडिट कार्ड बनाने में निवेश की जाएगा। उन्होंने बताया कि यह धनराशि अप्रैल 2012 से लेकर 31 मार्च 2013 के बीच खर्च की जाएगी।

Spotlight

Most Read

Lucknow

21 साल का साहिल बना पीजीआई थाने का एसओ, टोपी न पहने सिपाहियों की लगाई क्लास

राजधानी के पीजीआई थाने का नजारा शुक्रवार को दो घंटे के लिए बदल गया। शिकायत लिए आए लोग सामने बैठे 21 साल के एसओ को देखकर कुछ देर के लिए ठिठक गए।

19 जनवरी 2018

Related Videos

कोहरे ने लगाया ऐसा ब्रेक, एक के बाद एक भिड़ीं कई गाड़ियां

वाराणसी-इलाहाबाद राजमार्ग पर गुरुवार को घने कोहरे के बीच दो एक सड़क हादसा हो गया। कोहरे की वजह से विजिबिलिटी कम होने पर एक के बाद एक चार गाड़ियां एक-दूसरे से टकरा गईं। इस हादसे में चार लोगों के घायल होने की भी खबर है।

21 दिसंबर 2017

Recommended

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper