बिजली के लिए बिरनो में मची है हायतौबा

Ghazipur Updated Mon, 14 May 2012 12:00 PM IST
बिरनो। शहर के साथ ही ग्रामीण क्षेत्र की बिजली आपूर्ति व्यवस्था पूरा तरह से बेजार हो चुकी है। भीषण कटौती होने से एक तरफ जहां लोगों को गर्मी से बिलबिलाना पड़ रहा है, वहीं खेती कार्य में भी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। गर्मी के इस मौसम में बिजली को लेकर हाय-तौबा मची हुई है।
बिरनो सहित आसपास के क्षेत्रों में उत्तरी फीडर से आपूर्ति की जाती है। इस फीडर से मानपुर, भाला, भदेव सहित दर्जनों गांव रौशन होते हैं, लेकिन वर्तमान समय में बेतहाशा कटौती हो रही है। आलम यह है कि बिजली कब आएगी और कब चली जाएगी, इसका कोई भरोसा नहीं रह गया है। रात और दिन मिलाकर आठ से दस घंटे ही लोगों को बिजली का दर्शन हो रहा है। बिजली कटौती के दौरान बिजली से चलने वाले उपकरण शोपीस बन जा रहे हैं। इस दौरान सबसे ज्यादा लोगों को पंखों, कूलरों और फ्रिज का शोपीन होना खल रहा है। पंखे-कूलर बंद रहने से एक तरफ लोगों को गर्मी से राहत नहीं मिल पा रहा है, वहीं ठंडा पानी न मिलने से लगा तर नहीं हो पा रहा है। पसीने से तरबतर होकर लोगों को बत्ती आने का इंतजार करना पड़ रहा है। अनापूर्ति का खराब असर खेती के कार्य पर भी पड़ रहा है। खेतों की सिंचाई नहीं हो पा रही है। आपूर्ति के दौरान जर्जर तार कोढ़ में खाज का काम कर रहे हैं। लोड अखिल होने से इनके आएदिन टूटने का सिलसिला जारी है, जिससे लोगों को आपूर्ति होने के बाद भी बिजली का लाभ नहीं मिल पा रहा है। इस संबंध एसडीओ ने बताया कि जर्जर तारों को बदलने के स्टीमेट बनाकर भेज दिया गया है। पैसा स्वीकृत होने पर तारों को बदला जाएगा।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाले के तीसरे केस में लालू यादव दोषी करार, दोपहर 2 बजे बाद होगा सजा का ऐलान

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

कोहरे ने लगाया ऐसा ब्रेक, एक के बाद एक भिड़ीं कई गाड़ियां

वाराणसी-इलाहाबाद राजमार्ग पर गुरुवार को घने कोहरे के बीच दो एक सड़क हादसा हो गया। कोहरे की वजह से विजिबिलिटी कम होने पर एक के बाद एक चार गाड़ियां एक-दूसरे से टकरा गईं। इस हादसे में चार लोगों के घायल होने की भी खबर है।

21 दिसंबर 2017