कनिष्ठ प्रबंधक की जमानत नामंजूर

Ghazipur Updated Fri, 04 May 2012 12:00 PM IST
गाजीपुर। विशेष न्यायाधीश एससीएसटी एक्ट की अदालत ने धोखाधड़ी एवं गबन के मामले में गुरुवार को भारतीय स्टेट बैंक की मुख्य शाखा के कनिष्ठ प्रबंधक सीताराम की जमानत अरजी को नामंजूर कर दिया। इसके बाद आरोपी को जिला में दाखिल कर दिया गया।
प्रकरण के मुताबिक अर्बन कोआपरेटिव बैंक के सहायक प्रबंधक अजय तिवारी ने सदर कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि उसके बैंक की मुख्य शाखा लंका गाजीपुर मेें अजय प्रकाश पांडेय जुलाई 2010 से कार्य कर रहे थे। नकद लेनदेन सहित विभिन्न काउंटरों पर उन्होंने कार्य किया और भारतीय स्टेट बैंक की मुख्य शाखा में जाने वाली आलमारी जिसमें चेकबुक रखा जाता है। उसको साथ लेकर वह कार्य करता था। 24 सितंबर 2010 को भारतीय स्टेट बैंक शाखा से नई चेकबुक आलमारी में रखी गई थी जिसके दो पन्ने गायब हो गए। काफी खोजबीन के बाद पता नहीं चला। 23 अक्तूबर को स्टेट बैंक से विवरण आने पर पता चला कि 20 अक्तूबर 2010 को सात लाख रुपये नकद भुगतान सुधीर के नाम पर निकाला गया है। इस संबंध में सीसी कैमरे से जानकारी ली गई। सीसी कैमरे में आए फुटेज के आधार पर जय प्रकाश पंाडे को चिह्नित किया गया। इसके बाद उनके विरुद्व मुकदमा दर्ज हुआ। विवेचना के दौरान जय प्रकाश कुशवाहा उर्फ जय प्रकाश पांडे पुत्र राम सिंह कुशवाहा तथा आनंद सिंह कुशवाहा पुत्र कपूर सिंह कुशवाहा निवासी छावनी लाइन के साथ साजिश में शामिल स्टेट बैंक के कनिष्ठ प्रबंधक सीताराम निवासी मंगलपुरा थाना अहिरौली जिला अंबेडकरनगर के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किया गया। मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट की अदालत में उपस्थित होकर कनिष्ठ प्रबंधक ने जमानत के लिए अरजी दिया। अरजी को खारिज करते हुए उन्हें जेल भेज दिया गया। उनके अधिवक्ता द्वारा पुन: जमानत अरजी जनपद न्यायाधीश की अदालत में दी गई जिस पर गुरुवार को सुनवाई हुई। अदालत ने मामले की गंभीरता को देखते हुए आरोपी की जमानत अरजी को नामंजूर कर दिया।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाले के तीसरे केस में लालू यादव दोषी करार, दोपहर 2 बजे बाद होगा सजा का ऐलान

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

कोहरे ने लगाया ऐसा ब्रेक, एक के बाद एक भिड़ीं कई गाड़ियां

वाराणसी-इलाहाबाद राजमार्ग पर गुरुवार को घने कोहरे के बीच दो एक सड़क हादसा हो गया। कोहरे की वजह से विजिबिलिटी कम होने पर एक के बाद एक चार गाड़ियां एक-दूसरे से टकरा गईं। इस हादसे में चार लोगों के घायल होने की भी खबर है।

21 दिसंबर 2017