विकास की डगर पर महानगर

Ghaziabad Updated Fri, 26 Oct 2012 12:00 PM IST
निगम कार्यकारिणी में 17 प्रस्ताव पास
गाजियाबाद। हंगामे की तमाम आशंकाओं के बीच नगर निगम कार्यकारिणी की बैठक शांतिपूर्ण तरीके से निपट गई। एग्जीक्यूटिव कमेटी ने बृहस्पतिवार को 409 करोड़ रुपए के बजट पर मुहर लगा दी। वित्तीय वर्ष 2012-2013 में निगम ने 305 करोड़ रुपये की आमदनी और 283.44 करोड़ रुपये विकास कार्यों पर खर्च करने का लक्ष्य रखा है। बैठक करीब तीन घंटे चली। निगम ने इस बजट में बच्चों से लेकर बुजुर्गों तक का ख्याल रखा है।
सुबह 11 बजे शुरू हुई बैठक में सबसे पहले पुनरीक्षित बजट पर चर्चा हुई। अकाउंट ऑफिसर ने अगस्त तक आय-व्यय के लेखाजोखा के साथ-साथ मार्च 2013 तक होने वाली इनकम और विकास कार्यों पर खर्च किए जाने वाले बजट को भी पेश किया। बैठक की शुरुआत में ही भाजपा पार्षद राजेंद्र त्यागी ने पुनरीक्षित बजट की वैधता पर सवाल खड़े किए। शहर हित और ठप पड़ चुके विकास कार्यों को देखते हुए कुछ संशोधन कर पास किया। 12 सदस्यों में से उपस्थित सभी 11 सदस्यों और महापौर तेलूराम कांबोज ने बजट पर अपनी सहमति दी। बजट के अलावा विकास प्रस्तावों को भी कार्यकारिणी ने हरी झंडी दिखा कर विकास कार्यों पर लगे ब्रेक को हटा दिया। बैठक में कुल 18 प्रस्ताव पेश किए गए, इनमें से 17 प्रस्तावों को पास कर दिया गया, जबकि मेट्रो के लिए फंडिंग करने के प्रस्ताव को अब निगम की आम बोर्ड बैठक में रखा जाएगा। नगर निगम ने सबसे अहम फैसला बच्चों को खेल के मैदान उपलब्ध कराने का किया है।
हर वार्ड में होंगे 40 लाख के विकास कार्य
एग्जीक्यूटिव कमेटी का कहना है कि वित्तीय वर्ष के सात माह बीत चुके हैं। ऐसे में अब बाकी बचे पांच माह में तेजी से विकास कार्य कराने होंगे। इसके लिए अब वार्ड कोटा 25 लाख रुपये से बढ़ाकर 40 लाख रुपये कर दिया गया है। कार्यकारिणी सदस्यों की मंशा पर नगर आयुक्त जितेंद्र सिंह ने भी हर वार्ड में 40 लाख के कार्य कराए जाने के प्रस्ताव को हरी झंडी दे दी।
सभी बच्चों को मिलेंगे खेल मैदान
खेल मैदानों की कमी से परेशान बच्चों की समस्याओं को भी निगम कार्यकारिणी बैठक में रखा गया। पार्षद राजेंद्र त्यागी के प्रस्ताव पर निगम अधिकारियों ने कहा कि हर जोन में कम से कम एक खेल मैदान बनाया जाएगा। नगर आयुक्त ने कहा कि खेल मैदान के लिए जोनवार जमीनों की उपलब्धता के लिए सर्वे कराया जाएगा।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: जब पुलिस की ‘दबंगई’ पर भारी पड़ी युवती की बहादुरी

गाजियाबाद के थाना मसूरी क्षेत्र में पुलिस की दबंगई का एक युवती ने मुंहतोड़ जवाब दिया।

23 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls