फरीदनगर में पसरा सन्नाटा

Ghaziabad Updated Tue, 28 Aug 2012 12:00 PM IST
तैनात रहे पुलिसकर्मी और पीएसी, 7 नामजद समेत 13 लोगों के खिलाफ रिपोर्ट
मोदीनगर। फरीदनगर कस्बे में खूनी जंग के बाद सोमवार को सन्नाटा पसरा रहा। हर चौराहे, गली में पुलिसकर्मी ही नजर आए। लोग भी डरे सहमे घरों से बाहर निकल रहे थे।
फरीदनगर कस्बे में रविवार रात हुई गोलीबारी में चेयरमैन पद का चुनाव लड़ी केसरजहां के पति हाजी अब्दुल अजीज की हत्या कर दी थी। उनका बेटा अनवर घायल हो गया था। अनवर ने कस्बा के ही 13 लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है। इसमें सात नामजद और छह अज्ञात हैं। तनाव के कारण तेलियान मोहल्ले में सोमवार को सभी दुकानें बंद रहीं। कस्बे में पुलिस और पीएसी डेरा डाले रही। दबी जुबान में लोग कह रहे थे कि यह मामला फरीदनगर कस्बे में दो बिरादरियों में वर्चस्व की जंग का परिणाम है।
मृतक हाजी अजीज के बडे़ बेटे यूसुफ का कहना है कि मसजिद के प्लाट को धोखे से दूसरे गुट के व्यक्ति को किराये पर दे दिया। इससे 22 अगस्त को दोनों वर्गों के लोगों में कहासुनी हुई थी। आरोप है कि नामजदों ने तब हाजी अजीज को धमकाया था।
सोमवार को परिजन शिकायत एसएसपी से करने वाले थे लेकिन इससे पहले ही यह वारदात हो गई। निकाय चुनाव प्रचार के दौरान भी वर्चस्व को लेकर दोनों गुटों में अभद्र टिप्पणियां हुई थीं। वहीं देर शाम पोस्टमार्टम के बाद मृतक अजीज का शव सुपुर्द-ए-खाक कर दिया।

रिपोर्ट में दर्ज विवाद
कस्बे में स्थित मस्जिद को 10 साल पहले एक व्यक्ति ने 150 वर्गगज का प्लाट दान किया था। इसकी देखरेख करने वाले ने चारदीवारी कराकर कस्बा निवासी जुबैर कुरैशी को 99 साल की लीज पर किराए पर दे दी थी। हाजी अजीज ने विरोध किया था। आरोप है कि इसी विवाद में हाजी अजीज की घर में घुसकर गोली मारकर हत्या की गई है। जिसके बाद से गांव में तनाव व्याप्त है।

ग््रामीण बोले, पुलिस की देरी से बहा खून
ग्रामीणों का कहना है कि कस्बे में रविवार शाम 7:30 बजे मारपीट शुरू हुई। पुलिस को सूचना भी दी। पुलिस 9:30 बजे पहुंची। तब तक अजीज और उनका बेटा अनवर गोली लगने से घायल हो गए थे। पुलिस समय पर पहुंच जाती तो इतना बड़ा मामला न होता। फरीदनगर कस्बे में बड़ी वारदात होने के बाद भी अभी तक नए एसओ ने चार्ज नहीं लिया हैं।
पुलिस की जुबानी
कार्यवाहक एसओ भोपाल सिंह का कहना है कि मामले की शुरूआत भोजपुर निवासी हामिद ने की थी। हामिद ने फरीदनगर निवासी यूसुफ से इनवर्टर खरीदा था। खराब होने पर हामिद ने इनवर्टर वापस कर रुपये मांगे। हामिद रविवार को फरीदनगर पहुंचा। यहां दूसरी बिरादरी के चार युवकों ने यूूसुफ से रुपये वापस दिलाने की बात कही और उन्होंने यूसुफ से मारपीट की।

कातिलों को जल्द पकड़ने की मांग
हाजी अजीज की हत्या का समाचार मिलते ही धौलाना सपा विधायक धर्मेश तोमर, बसपा विधायक प्रशांत चौधरी प्रतिनिधि पिंकल गुर्जर, छात्र नेताओं अस्पताल में पहुंचे और पुलिस अफसरों से जल्द कातिलों को पकड़ने की मांग की। पुलिस सोमवार सुबह 4:30 बजे पंचनामा भर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज सकी।
हाजी की मौत से परिवार में कोहराम
हाजी अजीज की मौत से उसके परिवार में कोहराम मचा हुआ है। उनके परिवार में पत्नी के अलावा छह बेटे यूसुफ, मोहम्मद, अनवर, राहत, जुनैल, फैजल और एक बेटी हैं। तीन बेटों की दिल्ली गांधीनगर में दुकानें हैं। अनवर और हाजी अब्लुल अजीज की मोदीनगर की सब्जी मंडी में आढ़ती हैं। पोस्टमार्टम के बाद गांव में पहुंचे शव को देखकर परिवार में कोहराम मच गया। जबकि गांव में मातम छाया रहा। ग्रामीण आंसू नहीं रोक सके।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: जब पुलिस की ‘दबंगई’ पर भारी पड़ी युवती की बहादुरी

गाजियाबाद के थाना मसूरी क्षेत्र में पुलिस की दबंगई का एक युवती ने मुंहतोड़ जवाब दिया।

23 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls