चेक से फर्जीवाड़ा युवक गिरफ्तार

Ghaziabad Updated Sat, 04 Aug 2012 12:00 PM IST
तहसीलदार संभल का फर्जी चेक बनाकर चार लाख 52 हजार रुपये निकाल लिए
लोनी। लोनी के युवक ने तहसीलदार संभल का फर्जी चेक बनाकर लोनी के स्टेट बैंक से चार लाख 52 हजार रुपये हड़प लिए। संभल स्टेट बैंक अधिकारियों ने तहसीलदार के खाते से पैसे गायब होते देखे तो उन्होंने लोनी शाखा को घटना की सूचना दी। बैंक अधिकारियों ने युवक के खाते को खंगाला तब धोखाधड़ी का पता लगा। लोनी शाखा के मैनेजर ने युवक के विरुद्ध धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस ने आरोपी को जेल भेज दिया है।
लोनी की प्रेमनगर कॉलोनी में किराए के मकान में रहने वाले समीर ने करीब दस वर्ष पूर्व लोनी की स्टेट बैंक शाखा में बचत खाता खोला था। बैंक मैनेजर एनके जैन ने बताया कि समीर ने 15 मई 2012 को खाते में तहसीलदार संभल मुरादाबाद द्वारा जारी 4 लाख 42 हजार का चेक जमा किया था। स्टेट बैंक का ही चेक होने के कारण वह उसी दिन क्लीयर हो गया तथा उसके खाते में रकम ट्रांसफर हो गई थी। समीर ने उसी दिन बैंक से एक लाख छह हजार रुपये निकाल लिए तथा बाकी पैसे भी उसने एक सप्ताह के दौरान एटीएम कार्ड के जरिए खाते से निकाल लिए। जैन ने बताया कि एक अगस्त को उनके पास संभल के स्टेट बैंक मैनेजर का फोन आया। उन्होंने बताया कि तहसीलदार के खाते से फर्जी तरीके से रकम ड्रा की गई है। जैन ने समीर के खाते एवं जमा कराए गए चेक की जांच की तो पता चला कि उसने तहसीलदार का फर्जी चेक बनाकर पैसे ड्रा किए है। मैनेजर ने बृहस्पतिवार को समीर के विरुद्ध लोनी थाने में मुकदमा दर्ज करा दिया। पुलिस ने दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया।
रुपये खर्च कर चुका है आरोपी
थाना प्रभारी ने बताया कि समीर के खाते में अब मात्र 254 रुपये शेष हैं। वह खाते से सभी पैसोें को निकालकर खर्च कर चुका है।
असली चेक को किया स्कैन
स्टेट बैंक लोनी शाखा के मैनेजर ने बताया कि तहसीलदार के असली चेक को स्कैन कर फर्जी चेक बनाया गया था। फर्जी चेक दिखने में बिल्कुल असली जैसा लगता है।

Spotlight

Most Read

Jharkhand

चारा घोटाला: चाईबासा कोषागार मामले में कोर्ट ने सुनाया फैसला, तीसरे केस में लालू दोषी करार

रांची स्थित विशेष सीबीआई अदालत ने चारा घोटाले के तीसरे मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को दोषी करार दिया है। साथ ही पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा को भी दोषी ठहराया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: जब पुलिस की ‘दबंगई’ पर भारी पड़ी युवती की बहादुरी

गाजियाबाद के थाना मसूरी क्षेत्र में पुलिस की दबंगई का एक युवती ने मुंहतोड़ जवाब दिया।

23 जनवरी 2018