विज्ञापन
विज्ञापन

बस अंडरपास में डूबी, बच्चों की जान पर बनी

Ghaziabad Updated Wed, 01 Aug 2012 12:00 PM IST
ख़बर सुनें
शहर में मंगलवार सुबह हुई मूसलाधार बारिश ने नगर निगम के इंतजामों की पोल खोल दी। शहर के ज्यादातर इलाकों में जबरदस्त जलभराव हुआ। गोशाला अंडरपास पर भरे पानी में फंसकर कई कारें और मोटरसाइकिलें आदि बंद हो गईं। लोगों ने धक्का देकर उन्हें बाहर निकाला तभ्ाी एक स्कूल बस के पानी में फंसने की खबर से शहर में सनसनी मच गई, हालांकि लोगों की सतर्कता से अनहोनी टल गई।
विज्ञापन
विज्ञापन
बस में बच्चे चीखे तो दौड़ी भीड़
गाजियाबाद। गोशाला अंडरपास पर एक स्कूली बस पानी में फंस गई। बच्चे चीखने चिल्लाने लगे और मौके पर जमा लोगों ने उन्हें बस से बाहर निकाला। हालांकि बस में पांच छह बच्चे ही थे क्योंकि बारिश की वजह से ज्यादातर पैरेंट्स ने अपने बच्चों को स्कूल नहीं भेजा था। घटना सुबह करीब आठ बजे की है। विजयनगर स्थित एक निजी स्कूल की मिनी बस बच्चों को लेकर शहर से विजयनगर की ओर जा रही थी। अंडरपास में पानी भरा होने के बावजूद चालक ने जब बस को यहां से निकालना चाहा तो बस बीच में ही बंद हो गई। बच्चे चिल्लाने लगे तो चालक-परिचालक ने लोगों की मदद से बच्चों को सकुशल बाहर निकाला। साथ ही विपरीत दिशा से आती एक इंडिका कार भी बीच पानी में पहुंचकर बंद हो गई।

साहब, कहां कराई थी नालों की सफाई
गाजियाबाद। महानगर में बारिश से पहले नगर निगम ने दावा किया था कि सभ्ाी नालों की सफाई हो चुकी है। कहीं जलभराव नहीं होगा। सफाई पर दो करोड़ का खर्च किया था। लेकिन मंगलवार को उनके दावों का सच सामने आ गया। नाले जाम होने से पानी घरों और सड़कों पर भरा नजर आया। दरअसल ज्यादातर इलाकों मेें नालों की सफाई नहीं हुई। जहां हुई वहां से सिल्ट नहीं उठाई गई। नालों में अटी पड़ी सिल्ट और गंदगी से पानी निकल ही नहीं रहा था।

कई स्थानों पर नाले रुके हुए हैं, जबकि कई जगह गंदगी सड़कों पर आ गई है। यह गंभीर मामला है, इसकी जांच कराई जाएगी। दोषियों के विरुद्ध कार्रवाई हर हाल में होगी।
-एके यादव, नगर स्वास्थ्य अधिकारी।
नालों की सफाई कराई ही नहीं गई है। ज्यादातर नाले बंद पड़े हैं। नाला सफाई के नाम पर खेल हुआ है। इसकी जांच कराई जाएगी। इससे अधिकारियों-ठेकेदारों की मिलीभगत भी सामने आएगी।
तेलूराम कांबोज, मेयर।

40 से अधिक ट्रेनें हुईं लेट
गाजियाबाद। नार्थ, नार्थ ईस्टर्न और ईस्टर्न तीनों ग्रिड बंद होने से मंगलवार को भी ट्रेनों का चक्का जाम हो गया। लाखों यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ा। गाजियाबाद-मुगलसराय के बीच जहां 125 ट्रेनें फंसी रहीं, वहीं गाजियाबाद-दिल्ली के मध्य 40 से अधिक ट्रेनें चार घंटे खड़ी रहीं। मंगलवार को तीनों ग्रिड में दोपहर एक बजे से 3.52 बजे तक खराबी आई। नई दिल्ली-गाजियाबाद रूट 14.45 बजे बहाल हुआ, जबकि चिपियाना-अलीगढ़ की बिजली 15.52 बजे सुचारु हुई। ग्रिड फेल होने से दिल्ली-हावड़ा, दिल्ली-मुरादाबाद, दिल्ली-सहारनपुर रूट की ट्रेनें प्रभावित हुईं। दिल्ली-गाजियाबाद के बीच गोमती एक्सप्रेस, साहिबाबाद-गाजियाबाद ईएमयू, दिल्ली-लखनऊ दोनों गोमती एक्सप्रेस गाजियाबाद के आउटर पर खड़ी रहीं। इन्हें उज्जैनी और अंबाला पैसेंजर के डीजल इंजन से स्टेशन पर लाया गया। गाजियाबाद-नई दिल्ली ईएमयू, सहरसा-अमृतसर गरीबरथ एक्सप्रेस काफी देर तक खड़ी रही।

रेलवे स्टेशन का आंखों देखा हाल
लोग किसी तरह गंतव्य तक पहुंचना चाहते थे, उन्हें डर था कि कहीं सोमवार की तरह 10-10 घंटे तक ट्रेनें लेट न हो जाए। इसलिए यात्रियों ने अंबाला पैसेंजर और उज्जैनी एक्सप्रेस के आने पर उसमें जबरन घुसने का प्रयास किया।

लूडो ने कराया टाइम पास
सोनीपत निवासी राहुल के परिवार ने ट्रेन न मिलने से टाइम पास के लिए लूडो निकालकर खेलना शुरू कर दिया। राहुल का कहना है कि अब पावर ही फेल है तो रेलवे भी क्या करेगा।

जान-जोखिम में डाल की यात्रा
लखनऊ गोमती एक्सप्रेस जैसे ही स्टेशन पर आई। यात्रियों की भीड़ दौड़ी और कई लोग तो जगह न मिलने पर दो कोच के बीच में बने गैप में ही खड़े हो गए। क्योंकि कई लोग चार से पांच घंटे ट्रेनों का इंतजार कर रहे थे।

रिजर्वेशन कैंसल कराया और सो गए
ट्रेन के पांच घंटे लेट और पावर ग्रिड फेल होने का एनाउंसमेंट होने के बाद बिहार जा रहे दो परिवारों ने अपना रिजर्वेशन ही कैंसल करवा दिया। हरपाल और किशन ने बताया कि अब जो गाड़ी पहले आएगी उसी से जाएंगे।

रेलवे अंजान, पैसेंजर परेशान
सही जानकारी न मिलने के कारण लोग परेशान हुए। शिवपुरी एमपी के सुनील शास्त्री को कानपुर जाना है, लेकिन तीन घंटे से उन्हें गाड़ी नहीं मिली। कानपुर के आशीष ने गोमती एक्सप्रेस पकड़नी थी। गाजियाबाद निवासी सिद्धार्थ ने बताया कि चार घंटे से परेशान हैं, लेकिन अभी तक उनकी लुधियाना एक्सप्रेस अभी तक नहीं आई है।

6 हजार इकाइयां ठप
गाजियाबाद। ग्रिड फेल होने का असर महानगर की 6 हजार औद्योगिक इकाइयों पर दिखा। औद्योगिक इकाइयों में दो दिन से उत्पादन ठप है। उद्यमियों के मुताबिक बिजली संकट के चलते करोड़ों रुपये का उत्पादन प्रभावित हुआ है।
गाजियाबाद इंडस्ट्रीज फेडरेशन चेयरमैन हरिओम चौहान ने कहा कि पूरे जनपद में दो दिनों से उत्पादन ठप पड़ा है। बिजली निगम अधिकारी बुधवार तक सुधार की उम्मीद जता रहे हैं। पहले कांवड़ यात्रा, बिजली कटौती और अब ग्रिड संकट के कारण जनपद के उद्योगों को जुलाई में ही अरबों रुपये की चपत लग चुकी है। पता नहीं कब इस हालात से निजात मिलेगी।

पानी के लिए तरसे
गाजियाबाद। ग्रिड फेल होने से मंगलवार को भी लोग पानी के लिए तरस गए। नगर निगम के नलकूप और लोगों के सबमर्सिबल नहीं चल सके। इससे पानी की भयंकर किल्लत रही।
बिजली संकट के कारण मंगलवार को लोगों की परेशानी और बढ़ गई। महानगर के ज्यादातर हिस्सों में 10-15 घंटे की कटौती हुई। मंगलवार सुबह 7:40 बजे बिजली सप्लाई ठप हो गई। राठी बिजलीघर में ब्रेकडाउन के कारण बिजली कटौती हुई। 10:25 बजे सप्लाई सुचारु हुई। लेकिन महानगर में 17 स्थानों पर लोकल फॉल्ट आने से दोबारा कटौती हो गई। फिर दोपहर में एक बजे ग्रिड फेल होेने से परेशानी शुरू हुई।

ढाई घंटे रुकी मेट्रो, हजारों यात्री परेशान
वैशाली। ग्रिड फेल होने से हॉट सिटी की रफ्तार पर ब्रेक लग गया। दोपहर करीब एक बजकर पांच मिनट पर मेट्रोे अचानक ठप हो गई। मेट्रो के बीच में ही रुकने से यात्रियों में हड़कंप मच गया। जैसे तैसे लोगों को वैशाली स्टेशन पर उतारा गया। करीब तीन बजे संचालन दोबारा शुरू हो सका। हालांकि शाम 5 से छह बजे तक 20 मिनट के अंतराल पर मेट्रो चलाई गई। उसके बाद संचालन पूरी तरह सामान्य हुआ। सोमवार के बाद मंगलवार दोपहर भी मेट्रो का संचालन अचानक ठप होने से वैशाली और कौशांबी स्टेशन को खाली कराया जाने लगा। एनाउंसमेंट हुआ कि ग्रिड फेल होने के चलते संचालन रुक गया है। डीएमआरसी की पीआरओ संध्या ने बताया कि ग्रिड फेल होने के चलते परेशानी हुई थी। तीन बजे संचालन फिर शुरू कर दिया गया।

आज भी झेलनी होगी परेशानी
गाजियाबाद। पावर कारपोरेशन के अधिकारी आज बुधवार को सप्लाई सामान्य रहने का दावा कर रहे हैं। इसके बावजूद परेशानियां कम नहीं होंगी। सोमवार व मंगलवार को ग्रिड फेल होने का प्रभाव बुधवार को भी रहेगा। पावर कारपोरेशन के चीफ इंजीनियर पीकेमाहेश्वरी ने बताया कि यदि स्थानीय प्राब्लम नहीं होती है तो बुधवार को सप्लाई सामान्य रहेगी। जनपद में 20-22 घंटे सप्लाई रहेगी। उन्होंने उम्मीद जताई की बारिश हो जाने से ओवरलोड भी नहीं रहेगा, ऐसे में औद्योगिक क्षेत्रों को भी पर्याप्त सप्लाई दी जाएगी।

Recommended

शनि जयंती (03 जून 2019, सोमवार) के अवसर पर शनि शिंगणापुर में शनि को प्रसन्न करने के लिए तेल अभिषेकम्
Astrology

शनि जयंती (03 जून 2019, सोमवार) के अवसर पर शनि शिंगणापुर में शनि को प्रसन्न करने के लिए तेल अभिषेकम्

कैसे होगा करियर, कैसा चलेगा व्यापार, किसे मिलेगी तरक्की और किसे मिलेगा प्यार ! जानिए विश्वप्रसिद्व ज्योतिषाचार्यो से
Astrology

कैसे होगा करियर, कैसा चलेगा व्यापार, किसे मिलेगी तरक्की और किसे मिलेगा प्यार ! जानिए विश्वप्रसिद्व ज्योतिषाचार्यो से

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

लोकसभा चुनाव 2019 (lok sabha chunav 2019) के नतीजों में किसने मारी बाजी? फिर एक बार मोदी सरकार या कांग्रेस की चुनावी नैया हुई पार? सपा-बसपा ने किया यूपी में सूपड़ा साफ या भाजपा का दम रहा बरकरार? सिर्फ नतीजे नहीं, नतीजों के पीछे की पूरी तस्वीर, वजह और विश्लेषण। 23 मई को सबसे सटीक नतीजों  (lok sabha chunav result 2019) के लिए आपको आना है सिर्फ एक जगह- amarujala.com  Hindi news वेबसाइट पर.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Delhi NCR

रिश्वत लेते गिरफ्तार आरपीएफ इंस्पेक्टर को सात साल की कैद, 30 हजार का जुर्माना 

सीबीआई की विशेष अदालत ने शुक्रवार को आठ हजार रुपये की रिश्वत के साथ गिरफ्तार किए गए आरपीएफ के इंस्पेक्टर को सात साल की सजा सुनाई है।

25 मई 2019

विज्ञापन

बुरी शिकस्त के बाद सदमे में कांग्रेस, आज कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक समेत देखिए 5 बड़ी खबरें

अमर उजाला डॉट कॉम पर देश-दुनिया की राजनीति, खेल, क्राइम, सिनेमा, फैशन और धर्म से जुड़ी खबरें।

25 मई 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree