5500 करोड़ से बनेगा दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस वे

Ghaziabad Updated Tue, 24 Jul 2012 12:00 PM IST
एनएचएआई ने तय की प्रोजेक्ट की लागत, सड़क भूतल परिवहन मंत्रालय को भेजी रिपोर्ट
गाजियाबाद/ मेरठ। एनएच-58 पर ट्रैफिक जाम से राहत मिलने का रास्ता साफ हो गया है। एनएचएआई ने दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस वे की लागत तय कर दी है। परियोजना पर 5500 करोड़ खर्च होंगे। एनएचएआई ने रिपोर्ट सड़क एवं भूतल परिवहन मंत्रालय को भेज दी है। एक्सप्रेस वे में गाजियाबाद के 19 गांवों की 300 हेक्टेयर जमीन का अधिग्रहण होगा। जबकि मेरठ के 16 गांव एक्सप्रेस वे में आ रहे हैं। योजना पूरी होने पर मेरठ से दिल्ली का सफर आसान हो जाएगा। दिल्ली मेरठ एक्सप्रेस वे निजामुद्दीन से शुरू होगा। जो यूपी गेट से एनएच-24 स्थित डासना तक आएगा। एक्सप्रेस डासना मेरठ पहुंचेगा। एक्सप्रेस वे 90 मीटर चौड़ा और छह लेन हेगा। एक्सप्रेस वे बन जाने के बाद दिल्ली से मेरठ जाने वाले वाहनों को एनएच-58 से गुजरना नहीं पड़ेगा। एनएचएआई ने थ्री डी की कार्रवाई पूरी कर ली है। एनएचएआई के परियोजना प्रबंधक एमके गुप्ता ने बताया कि परियोजना को महायोजना-2021 में शामिल कर लिया गया है। प्रोजेक्ट को पूर्ण करने में 5500 करोड़ रुपये खर्च होंगे।

गाजियाबाद के गांवों से गुजरेगा एक्सप्रेस वे
डासना, रसूलपुर सिकरोड, कुशलिया, नाहल, डिंडवारी, नूरपुर, कलछीना, पट्टी, अमराला, जहांगीरपुर, मुरादाबाद, शैदपुर हुसैनपुर डीलना, जेनीउद्दीनपुर गजाला, भोजपुर, औरंगाबाद फजलगढ़, भटजन, पलौता, तलहेटा और चुड़ियाला।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: जब पुलिस की ‘दबंगई’ पर भारी पड़ी युवती की बहादुरी

गाजियाबाद के थाना मसूरी क्षेत्र में पुलिस की दबंगई का एक युवती ने मुंहतोड़ जवाब दिया।

23 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls